कोरोना की मृत्यु दर कम करनेे का लक्ष्‍य

भोपाल . मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना इलाज की सर्वोत्तम व्यवस्था सुनिश्चित कर मृत्यु दर को कम करना है. हमारे लिए हर जान कीमती है. इलाज में थोड़ी भी चूक बर्दाश्त नहीं होगी.

 corona-death.

वे वरिष्ठ अधिकारियों एवं चिकित्सकों के साथ एक-एक कोविड वहां हुई डैथ की वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से एनालिसिस प्रारंभ की. सर्वप्रथम मेडिकल कॉलेज इंदौर के डीन एवं चिकित्सा विशेषज्ञ के साथ कोविड-19 के कारण वहां हुई मृत्यु का विस्तृत विश्लेषण किया गया.

इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, डीजीपी विवेक जौहरी, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान, प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा संजय शुक्ला, आयुक्त जनसंपर्क सुदाम पी. खाड़े आदि उपस्थित थे.

  महिला की जांच के लिए डॉक्टरों का बोर्ड बनाए एम्स : दिल्ली हाईकोर्ट

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कहीं भी कम्युनिटी स्प्रैड की स्थिति न बने, इसके लिए सभी कलेक्टर्स गहन सर्वे, कान्टेक्ट ट्रेसिंग, टैस्टिंग के साथ ही संक्रमित क्षेत्रों में सख्ती से लॉकडाउन का पालन तथा अन्य सभी सावधानियां सुनिश्चित करें.

कोई मृत्यु न हो, पूरा ध्यान रखें

रीवा जिले की समीक्षा में मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि जिले में कोरोना से कोई मृत्यु न हो, इस बात का पूरा ध्यान रखा जाए. कलेक्टर ने बताया कि जिले में 35 कोरोना पॉजिटिव मरीज थे, जिनमें से 10 डिस्चार्ज हो गए हैं. एक्टिव मरीजों की संख्या 25 है. जिले में कोरोना से कोई मृत्यु नहीं हई है.

  चीन को चुनौती रक्षाबंधन के लिए बना रहे एक लाख राखियां

प्रवासी मजदूरों से संक्रमण न फैले

उन्‍होंने कहा कि प्रवासी मजदूरों से संक्रमण न फैले इस बात की पूरी सावधानी रखी जाए. उनका स्वास्थ्य परीक्षण तथा ठीक ढंग से क्वारेंटाइन की व्यवस्था सुनिश्चित करें. क्वारेंटाइन सेंटर्स पर सभी आवश्यक व्यवस्थाएं हों. वहां आयसोलेशन के साथ शुद्ध भोजन, स्वच्छ जल, पंखे तथा शौचालय की अच्छी व्यवस्था हो.

एक्टिव प्रकरणों में आई कमी

अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य सुलेमान ने बताया कि प्रदेश में एक्टिव प्रकरणों में कमी आई है. 29 मई की स्थिति में 192 कोरोना के नए संक्रमित मरीज मिले, वहीं 219 मरीज स्वस्थ होकर घर गए. प्रदेश में एक्टिव केसेज की संख्या 3042 है. प्रदेश की कोरोना रिकवरी रेट 56 प्रतिशत हो गई है, देश की रिकवरी रेट 42.8 प्रतिशत है. आज हमीदिया अस्पताल भोपाल से 28 मरीज स्वस्थ होकर घर गए हैं.

  मुकुन्दरा टाइगर रिज़र्व में नियमों की उड़ी धज्जियां, मुकुन्दरा एडवाइजरी कमेटी सदस्य तपेश्वर सिंह भाटी नें तोड़े नियम

इंदौर, भोपाल, उज्जैन पर विशेष नजर

बैठक में निर्णय लिया गया कि इंदौर, भोपाल एवं उज्जैन की कोरोना संबंधी व्यवस्थाओं पर 3 वरिष्ठ अधिकारी विशेष नजर रखेंगे. एसीएस हैल्थ श्री सुलेमान इंदौर की, प्रमुख सचिव श्री फैज अहमद किदवई भोपाल की तथा प्रमुख सचिव श्री संजय शुक्ला उज्जैन की व्यवस्थाओं पर विशेष नजर रखेंगे.


Check Also

क्राइम ब्रांच ने गैंगस्टर अनवर ठाकुर को दबोचा

नई दिल्ली (New Delhi). दिल्ली पुलिस (Police) की क्राइम ब्रांच ने गैंगस्टर अनवर ठाकुर को …