Big Breaking चीन के साथ सीमा पर, तनाव चरम पर, वायुसेना तैयार


नई दिल्ली (New Delhi) (. गलवान घाटी में पिछले दो माह से चीन के साथ चल रहे विवाद ने अब गंभीर रुख अख्तियार कर लिया है. पिछले दिनों दोनों देशों के सैन्य कमांडरों के बीच हुई बातचीत के बाद सेनाओं के पीछे हटने का समझौता होने से लगा था कि विवाद जल्द खत्म हो जाएगा, मगर फिंगर 4 पर चीन के अडऩे से तनातनी बढ़ गई है. बुधवार (Wednesday) को रक्षा कमांडरों के साथ बैठक में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने वायुसेना को किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा है.

  फेफड़ा ही नहीं दिल को भी नुकसान पहुंचा रहा कोरोना

वहीं बुधवार (Wednesday) सुबह ही भारत ने एक परमाणु मिसाइल का परीक्षण किया है. इस मिसाइल को सरकार (Government) ने लद्दाख में तैनात करने का फैसला किया है. अमेरिका भी भारत-चीन विवाद के मुद्दे पर भारत के साथ आ चुका है. अमेरिका ने ह्यूस्टन में चल रहे चीनी दूतावास को 72 घंटे के अंदर बंद करने का फरमान सुनाया. चीन की 11 और कंपनियों को भी कारोबार करने से अमेरिका ने मना कर दिया. इसे लेकर चीन और अमेरिका के बीच भी ठन गई है.

  डीजीपी शर्मा कार्यमुक्त, गृह मंत्रालय से अटैच

फिंगर 4 के पास चीन के सैनिकों के बने रहने से भारत सरकार (Government) पर कार्यवाही के लिए दबाब बढ़ गया है. अमेरिका और चीन के बीच बढ़ रहे तनाव के कारण जल्द ही भारत सरकार (Government) चीनी सैनिकों को पुरोनी स्थिति पर खदेड़ने के लिए सैन्य कार्यवाही की तैयार कर चुका है. अमेरिका नौ सेना भी भारत की समुद्री सीमा के पास हथियारों के साथ आ चुकी है, जिसके कारण सैन्य हमले की संभावनायें स्पष्ट रुप से दिखने लगी हैं.

  कोरोना जांच में लग रहा दोगुना समय कीमत भी डेढ़ गुना तक बढ़ी

Check Also

एनडीए गठबंधन में सम्मानजनक सीटें नहीं मिलीं तो 143 सीटों पर चुनाव लड़ेगी लोक जनशक्ति पार्टी

पटना (Patna). लोक जनशक्ति पार्टी ने साफ़ कर दिया है कि अगर उसे एनडीए गठबंधन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *