चुनाव की वजह से बंगाल-केरल में हाईवे प्रॉजेक्ट्स ऐलान:नितिन गडकरी

नई दिल्ली (New Delhi) . सड़क परिवहन और हाईवे मंत्री नितिन गडकरी अपनी साफगोई के लिए मशहूर हैं. वह कई बार ऐसी बातें भी बेहद सहज अंदाज में कह देते हैं जिनसे नेता बचते हैं. गडकरी ने कहा है कि स्वीकार किया है कि बंगाल, बजट में तमिलनाडु (Tamil Nadu), असम और केरल (Kerala) जैसे चुनावी राज्यों के लिए हाईवे प्रॉजेक्ट्स का ऐलान चुनाव की वजह से ही किया गया है. उन्होंने सहजता से इसे स्वीकार करते हुए पूछा कि आखिर इसमें गलत क्या है? जितने भी रोड प्रॉजेक्ट्स के ऐलान हुए हैं पिछले एक महीने वे सब चुनावी राज्यों में क्यों हो रहे हैं? तमिलाडु, असम और बंगाल की याद चुनाव से पहले ही क्यों आई?

  केवल जरूरी मामलों की अदालत में होगी सुनवाई : हाईकोर्ट

गडकरी ने कहा, ”हम साधु संन्यासी हैं क्या? अगर हम अच्छा काम करेंगे तो चुनाव में जाते हुए कैश करेंगे. मैंने स्वीकार किया है ना कि चुनाव है इसलिए वहां प्राथमिकता पर कर रहे हैं. इसमें क्या गलत है, कौन से नियम और कानून या लोकतंत्र के खिलाफ है गौरतलब है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 1 फरवरी को बजट पेश करते हुए केरल (Kerala), तमिलनाडु (Tamil Nadu), असम जैसे राज्यों के लिए सड़क परियोजनाओं की घोषणा की थी.

  दुमका कोषागार से करोड़ों रुपये की निकासी के मामले में लालू प्रसाद यादव को जमानत मिली

वित्त मंत्री ने कहा था कि 65,000 करोड़ रुपये के निवेश से केरल (Kerala) में 1,100 किमी राष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण कार्य किया जाएगा. 1.03 लाख करोड़ रुपये के निवेश से तमिलनाडु (Tamil Nadu) में 3,500 किमी के राष्ट्रीय राजमार्गों का निर्माण किया जाएगा. असम में 19 हजार करोड़ रुपए की सड़क परियोजनाओं की घोषणा हुई. पश्चिम बंगाल (West Bengal) में 25 हजार करोड़ रुपये की लागत से हाईवे बनाने का ऐलान किया गया.

  पुरातत्व विभाग की शिकायत पर दीप सिद्धू की तिहाड़ जेल से गिरफ्तारी

गडकरी ने कहा कि जून तक दिल्ली-मेरठ (Meerut) का सफर 40-50 मिनट में पूरा होगा तो जल्द ही दिल्ली से देहरादून (Dehradun) जाने में महज 2 घंटे लगेंगे. उन्होंने यह भी कहा कि एक साल में दिल्ली-जयपुर (jaipur)का सफर 3 घंटे में पूरा होगा. उन्होंने कहा कि वह जो करते हैं उसको 100 फीसदी पूरा करते हैं. गडकरी ने कहा कि जब वह मंत्री बने तो 203 प्रॉजेक्ट्स बंद थे उन्होंने सबको शुरू कराया है.

Rajasthan news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *