Wednesday , 16 October 2019
Breaking News

रेल्वे – यात्री सुविधाओं के विकास के लिए 176.74 करोड़ रूपये का आबंटन

रायपुर,17  अगस्त (उदयपुर किरण).  दक्षिण पूर्व मध्य रेल्वे अपने तीनों मंडल के 319 स्टेशनों मे यात्री सुविधा प्रदान करने के लिए प्रतिदिन अपनी आधारभूत संरचना के विकास के लिए युद्ध स्तर पर कार्य कर रही है वहीं अपने स्टेशनों को आधुनिक से आधुनिक सुविधाओं से भी लैस कर रही है. वर्तमान मे दक्षिण पूर्व मध्य रेल्वे मे 11 मॉडल स्टेशन, 29 मॉडर्न  स्टेशन है तथा 28 आदर्श स्टेशन सहित 319स्टेशन स्थित है. यहाँ से प्रतिदिन 140 मेल/ एक्सप्रेस एवं 72  पैसेंजर से भी अधिक ट्रेनों का परिचालन किया जाता है. आधुनिक यात्री सेवाएं उपलब्ध करने के उद्देश्य से बजट 2019-20 के बजट में यात्री सुविधाओं के विकास के लिए 176.74 करोड़ रूपये का आबंटन किया गया है.जबके इस मद में पिछले बजट  में मात्र 59.98करोड़ के आबंटित किया गया था.उक्त जानकारी रेलवे प्रशासन द्वारा दी गई है.

  दाे बच्चों को पानी की टंकी में फेंक मां ने फांसी लगाकर की खुदकुशी

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे  यात्रियों को बेहतर सुविधा प्रदान करने के लिए उल्लेखनीय कदम उठा रही है विशेष रूप से वरिष्ठ नागरिक, दिव्यांग और अन्य जरूरतमंद व्यक्तियों के लिए यात्रा को आसान और सुलभ बनाना, बेहतर यात्री सुविधा जैसे; महत्वपूर्ण स्टेशनों पर एस्केलेटर, लिफ्ट, रैंप और बैटरी संचालित कार को जोड़ा जा रहा है.

एस्केलेटर: कुल 14 एस्केलेटर मंजूर किए गए, जिसमें से 2एस्कलेटर बिलासपुर, दुर्ग, गोंदिया और राजनांदगांव और 4एस्केलेटर रायपुर स्टेशन में लगाए गए.

लिफ्ट: कुल 13 लिफ्ट स्वीकृत. बिलासपुर में एक लिफ्ट, रायपुर और दुर्ग में तीन लिफ्ट, गोंदिया और राजनांदगांव स्टेशनों पर दो-दो लिफ्ट चालू की गई हैं. इसके अतिरिक्त दक्षिण पूर्व मध्य रेल्वे में विभिन्न स्टेशनों पर अतिरिक्त 24 एस्केलेटर एवं 17 लिफ्ट की सुविधा जल्द प्रदान की जा रही है.

  20 से ज्यादा युवतियों से दुष्कर्म करने वाले युवक का मोबाइल चालू, लोकेशन नहीं ढूंढ पा रही पुलिस

रैंप: एसईसीआर के ऊपर 59 प्रमुख स्टेशनों पर स्टेशन प्लेटफार्म और स्टेशन प्लेटफार्मों के बीच प्रवेश करने के लिए “दिव्यांग” यात्रियों की सुविधा के लिए रैंप प्रदान किया जाता है. 140 स्टेशनों पर एसईसीआर में “दिव्यांग” के लिए शौचालय की सुविधा दी गई. 18 स्टेशनों पर दृष्टि की अनुपस्थिति के साथ दृष्टी दिव्यांग यात्रियों की सुविधा के लिए स्पर्श नक्शा प्रदान किया गया है.एसईसीआर पर 12 प्रमुख स्टेशनों पर ट्रेन में प्रवेश करने के लिए दिव्यांग यात्री की सुविधा के लिए पोर्टेबल रैंप लगाए गए .सीनियर सिटीजन, “दिव्यांग” और बीमार यात्रियों आदि की सुविधा के लिए यह सुविधा 8 स्टेशनों पर बैटरी चालित वाहन उपलब्ध कराये गए . नवजात शिशुओं को दूध पिलाना केतु माताओं के लिए दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के 22 सत्रों में बेबी फीडिंग कॉर्नर प्रदान किया  गया है.

डिजिटल संग्रहालय:  महात्मा गांधी और रेलवे से संबंधित मल्टी मीडिया सामग्री प्रदर्शित करने वाली डिजिटल स्क्रीन के साथ-साथ रेलवे विरासत और वर्तमान घटनाक्रमों को दर्शाते हुए गोंदिया, राजनांदगांव, रायपुर, बिलासपुर, रायगढ़ और दुर्ग स्टेशनों पर प्रदान किया गया है. रायपुर रेलवे स्टेशन के वीआईपी प्रवेश द्वार के पास महात्मा गांधी जी की एक 3 डी कला कृति स्थापित की गई है.

  ब्वायफ्रेंड ने प्रेमिका की शादीशुदा बड़ी बहन से दुष्कर्म किया, गिरफ्तार

बिलासपुर और रायपुर स्टेशन पर स्वच्छ ट्रेन स्टेशन चालू है. बिलासपुर में 53 ट्रेनें और रायपुर में14 ट्रेनें दैनिक आधार पर कवर की जाती हैं. 85 कोचों में बायो-टॉयलेट्स फिट किए गए हैं. शेष राशि मार्च 19 के अंत तक कवर की जाएगी.  गाडियों को और सुन्दर बनाने के लिए  “प्रोजेक्ट उत्कर्ष” के तहत नई रंग योजना के अनुसार कुल दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के 10 रेक को चित्रित किया जा रहा है.

 

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News