हमारी सेना भारत का साथ देगी : अमेरिका

नई दिल्‍ली . अमेरिका ने कहा है कि अगर भारत और चीन में विवाद बढ़ता है, तो अमेरिकी सेना पूरी मजबूती से भारत का साथ देगी. वाइट हाउस के एक अधिकारी ने कहा कि अमेरिका की ओर से संदेश साफ है कि चीन के दुराचार को और नहीं सहा जाएगा. यही कारण है कि अमेरिका ने दक्षिण चीन सागर में अपनी नेवी को तैनात कर दिया है.

mark-meadows

वाइट हाउस के चीफ ऑफ स्टाफ मार्क मीडो ने फॉक्स न्यूज को भारत और चीन के मसले पर इंटरव्यू दिया. उन्होंने कहा कि हमारी सेना हर वक्त तैनात है और मुकाबले के लिए तैयार है. मार्क ने कहा कि अमेरिकी प्रशासन ने अपनी सेना का हमेशा साथ दिया है, हम साफ कर देना चाहते हैं कि अगर कोई दिक्कत पैदा करेगा तो सेना बिल्कुल तैयार है.

  खुदरा मुद्रास्फीति जुलाई महीने में बढ़कर 6.93 प्रतिशत पहुंची, खाद्य पदार्थों के दाम बढ़ने से बढ़ी महंगाई दर

इससे पहले रिपब्लिकन पार्टी के सीनेटर टॉम कॉटन ने कहा कि चीन ने लगातार भारत को उकसाने की कोशिश की है, उनके सैनिकों को मार दिया है. ऐसे में जरूरी हो जाता है कि अमेरिका वहां पर मौजूद हो इसलिए हमने दक्षिणी चीन सागर में उपस्थिति दर्ज कराई है. चीन की ओर से कई देशों पर दबाव बनाया जा रहा है और वो सभी देश अमेरिका के दोस्त हैं और दोस्ती को बढ़ाना चाहते हैं.

  मुंबई के चेंबूर इलाके में इमारत गिरी, एक की मौत, चार घायल

इससे पहले भी कई मौकों पर अमेरिका ने खुलकर कहा है कि वह भारत के साथ है. बीते दिनों माइक पोम्पियो ने कहा था कि अमेरिका अपनी सेना को एशिया में भेजेगा, क्योंकि वहां पर चीन भारत को परेशान कर रहा है. वहीं डॉनल्ड ट्रंप लगातार चीन के खिलाफ बयान भी दे रहे हैं.

  राहुल का मोदी पर कटाक्ष, कोरोना की ‘बिगड़ी स्थिति’ किसे कहेंगे

Check Also

नैशनल डिजिटल हेल्थ मिशन शुरू करेेेेगी सरकार

आप यहां हैं :Home » विविध » नैशनल डिजिटल हेल्थ मिशन शुरू करेेेेगी सरकार नई …