अर्जुन अवार्डी पूर्व कप्तान सुनीता चंद्रा का निधन

हॉकी की नर्सरी में शोक की लहर, हॉकी खिलाडिय़ों ने दी श्रद्धांजलि

भोपाल. भारतीय महिला हॉकी टीम की पूर्व कप्तान और अर्जुन अवार्डी सुनीता चंद्रा का सोमवार को निधन हो गया. वह 76 साल की थीं. उनका अंतिम संस्कार मंगलवार को भोपाल स्थित भदभदा विश्रामघाट में किया गया. उनके निधन से हॉकी की नर्सरी भोपाल सहित हॉकी जगत में शोक की लहर है. प्रदेश के हॉकी खिलाडिय़ों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी है.

  तेज गेंदबाज लॉकी फर्ग्यूसन के टीम में जल्द वापसी की उम्मीद कम

उनके बेटे गौरव चंद्रा ने बताया कि वह काफी समय से बीमार थीं. हॉकी खिलाडिय़ों ने भारतीय महिला हॉकी में उनके योगदान के लिए याद किया. वे अर्जुन अवार्ड से 1966 में सम्मानित हो चुकी है. सुनीता के परिवार में उनके पति पूर्व पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) यतीश चंद्रा और दो बेटे हैं.

  आईसीसी टेस्ट चैम्पियनशिप की जीत रहेगी सबसे अहम : पुजारा

मुख्यमंत्री ने व्यक्त किया शोक

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमल नाथ ने उनके निधन को दुखद बताया है. सीएम ने कहा कि भारतीय महिला हॉकी टीम की पूर्व कप्तान सुनीता चंद्रा के निधन का दुखद समाचार प्राप्त हुआ. उन्होंने खेल के क्षेत्र में प्रदेश का गौरव बढ़ाया है. ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति और शोकाकुल परिवार को शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं.

  निशांत ने बोल्ट और श्रीनिवास दोनो का रिकार्ड तोड़ा

Check Also

यूरोपियन चैंपियंस लीग नहीं खेल पायेगी मैनचेस्टर सिटी

लंदन. इंग्लिश प्रीमियर लीग क्लब मैनचेस्टर सिटी अगले दो सत्र तक यूरोपियन चैंपियंस लीग नहीं …