Sunday , 28 February 2021

अपनी खुदकी पहचान स्‍थापित करना चाहते अरमान


मुंबई (Mumbai) . गायक अरमान मलिक संगीत से जुड़े एक बड़े परिवार से ताल्लुक रखते हैं, लेकिन वह हमेशा से अपनी खुद की पहचान स्थापित करना चाहते हैं. इस बारे में गायक ने कहा कि वह अपने करियर को अपने दम पर बनाना चाहते थे और अपने करियर को आगे बढ़ाने के लिए अपने परिवार के नाम का उपयोग नहीं करना चाहते थे. अरमान ने कहा कि “मैं अपने करियर की शुरुआत से ही अपनी खास पहचान बनाने को लेकर बहुत ही स्पष्ट था.” उन्होंने आगे कहा कि “जब आप संगीत से जुड़े हुए परिवार से ताल्लुक रखते हैं, तो आपके आस-पास मौजूद हर कोई आपसे यही उम्मीद करता है कि आप भी उसी रास्ते पर चलें और जाहिर है कि रास्ते में आपके लिए सब कुछ तय होता है. लेकिन मुझे पता था कि मैं इसे अपने दम पर बनाना चाहता हूं और अपने करियर को आगे बढ़ाने के लिए अपने परिवार के नाम का उपयोग नहीं करना चाहता.”

  फिर डराने लगा कोरोना, लगातार तीसरे दिन 16 हजार से ऊपर मामले

बता दें कि अरमान संगीतकार डब्बू मलिक के बेटे और अनु मलिक के भतीजे हैं. वह संगीतकार अमाल मल्लिक के भाई हैं. उन्होंने आगे कहा कि “मैंने नौ साल की उम्र में लोकप्रिय भारतीय गायन रियलिटी शो ‘सा रे गा मा पा लिटिल चैंप्स’ के लिए मेरा पहला ऑडिशन अरमान नाम के साथ दिया. मैंने इस शो के टॉप 10 में जगह बनाई. मैंने यह सिर्फ इसलिए किया, क्योंकि मैं गहराई से जानना चाहता था कि मैं अपनी खुद की यात्रा को किस तरह से बनाना चाहता हूं और संगीत से जुड़े अपने प्रसिद्ध परिवार की वजह से मुझे उनसे अलग तरीके से नहीं देखा जा सकता था. मैंने विभिन्न भारतीय भाषाओं में विभिन्न प्रसिद्ध ब्रांडों के लिए बहुत सारे विज्ञापन जिंगल और वॉयस-ओवर के लिए गाना शुरू किया. इस प्रक्रिया के माध्यम से मैंने वास्तव में कुछ प्रतिभाशाली संगीतकारों और संगीत निर्माताओं के साथ बातचीत की. इसके बाद उन्‍होंने मुझे बॉलीवुड (Bollywood) प्लेबैक ‘भूतनाथ’, ‘तारे जमीन पर’ जैसी फिल्मों में लिया.

Please share this news