आतिशी को केजरीवाल कैबिनेट में नहीं मिली जगह, विशाल डडलानी हुए निराश


नई दिल्ली. दिल्ली विधानसभा चुनावों में 62 सीट जीतने वाली आप तीसरी बार दिल्ली में सरकार बनाने जा रही है. अरविंद केजरीवाल ने रविवार को रामलीला मैदान में पद एवं गोपनीयता की शपथ ली. उनके अलावा 6 विधायकों मनीष सिसोदिया, सतेंद्र जैन, गोपाल राय, कैलाश गहलोत, इमरान हुसैन और राजेंद्र पाल गौतम शामिल ने भी पद एवं गोपनीयता की शपथ ली. केजरीवाल पुरानी टीम के साथ ही नई सरकार चलाएंगे.

इस बीच मशहूर संगीतकार और गायक विशाल डडलानी ने कालकाजी से चुनाव जीतने वाली आतिशी मार्लेना को कैबिनेट में शामिल नहीं करने पर निराशा जाहिर की है. उन्होंने कहा, आतिशी को कैबिनेट में जगह नहीं मिलने से मैं निराश हूं. लेकिन वह ऐसी शख्सियत हैं, जिन्हें दिल्ली में काम करने के लिए किसी पद की जरूरत नहीं है. विशाल डडलानी आम आदमी पार्टी के समर्थक हैं.

  इंडिया रेटिंग्स ने भारत की विकास दर घटायी, 2020-21 में विकास दर 3.6 फीसदी रहेगी

बता दें कि दिल्ली की प्रतिष्ठित कालकाजी सीट पर बीजेपी की ओर से धरमबीर सिंह ने आप की नेता आतिशी को कड़ी टक्कर दी. लेकिन वह चुनाव जीतने में कामयाब नहीं हो सके. आतिशी ने उतार-चढ़ाव भरे मुकाबले में धरमबीर सिंह को 11393 मतों के अंतर से हरा दिया. 2015 के चुनाव में भी यह सीट आम आदमी पार्टी के पास ही थी.

  कोरोना से प्रभावित समाचार पत्रों को 10 करोड डॉलर सहायता देगा फेसबुक

बता दें कि मुख्यमंत्री केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, दिल्ली के सातों सांसदों, नवनिर्वाचित आठों भाजपा विधायकों और सभी नगर निगम पार्षदों को भी आमंत्रित किया था. लेकिन पीएम मोदी वाराणसी दौरे के कारण नहीं पहुंच सके. पार्टी ने चुनाव परिणाम के दिन आप के कार्यालय परिसर में अपने पिता के साथ केजरीवाल के पुराने गेटअप में पहुंचे एक साल के ‘छोटू मफलरमैन’ अव्यान तोमर को खासतौर से आमंत्रित किया था, जो शपथग्रहण स्थल पर नजर आए. इसके अलावा दिल्ली शासन में योगदान करने वाले विभिन्न क्षेत्रों के 50 प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया गया था, जिन्होंने नए मंत्रिमंडल के साथ मंच साझा की.

  पुलिस से बचने के लिए बना डॉक्टर, गिरफ्तार

Check Also

सीएम योगी को तोड़नी पड़ी परम्‍परा, पहली बार रामनवमी पर गोरखनाथ मंदिर में नहीं

गोरखनाथ . एक बार फिर गोरक्षपीठाधीश्‍वर और सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने लोककल्‍याण के लिए परम्‍परा …