Saturday , 27 February 2021

लाबुशेन के शतक से ऑस्ट्रेलिया का सम्मानजनक स्कोर, 274/5

ब्रिसबेन . बल्लेबाज मार्नस लाबुशेन की शतकीय पारी से मेजबान ऑस्ट्रेलियाई टीम ने भारत के खिलाफ चौथे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट मैच में शुरुआती झटके से उबरकर अपनी पहली पारी में पांच विकेट पर 274 रन बनाये. दिन का खेल समाप्त होने के समय पेन 38 और ग्रीन 28 रनों पर खेल रहे थे. भारत की तरफ से टी नटराजन ने 2 जबकि मोहम्मद सिराज, शार्दुल ठाकुर और वाशिंगटन सुंदर ने एक-एक विकेट लिया.

इस मैच में भारतीय टीम को अपने अनुभव गेंदबाजों के चोटिल होने के कारण युवा गेंदबाजों के साथ उतना पड़ा जिसका भी लाभ मेजबान टीम को मिला. लाबुशेन ने 108 रनों की पारी खेलने के साथ ही अपना पांचवां शतक लगाया हालांकि इस दौरान उसे दो जीवनदान मिले. उनके अलावा मैथ्यू वेड ने 45 रन बनाये. वहीं स्टीव स्मिथ 35 रन ही बना पाये जबकि सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर एक रन ही बना पाये. भारत की ओर से अपना पदार्पण मैच खेल रहे टी नटराजन ने सबसे ज्यादा दो विकेट लिये. वहीं पदार्पण करने वाले दूसरे गेंदबाज वॉशिंगटन सुंदर ने एक विकेट लिया. वहीं शार्दुल ठाकुर और मोहम्मद सिराज को भी 1-1 विकेट मिले.

  अनअकैडेमी सड़क सुरक्षा विश्व श्रंखला में पीटरसन करेंगे इंग्लैंड लीजैंड्स का नेतृत्व

पहले दिन के खेल का आकर्षण लाबुशेन की पारी रही. ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया और उसकी शुरुआत खराब रही. वॉर्नर पहले ही ओवर में सिराज का शिकार बने. वॉर्नर ने केवल 1 ही रन बनाया. इसके बाद हैरिस भी कुछ खास नहीं कर पाए और उन्होंने शार्दुल की गेंद पर पेवेलियन लौट गये. इसके बाद स्मिथ और लाबुशेन ने पारी संभाली. स्मिथ ने क्रीज पर आते ही अच्छे शॉट लगाकर स्कोर बढ़ाया. लंच तक ऑस्ट्रेलिया ने 2 पर 65 रन बना दिये.

  पराजय से निराश रूट बोले- ये तो दर्शकों के साथ धोखा हो गया

लंच के बाद वॉशिंगटन सुंदर ने स्मिथ को रोहित शर्मा के हाथों कैच आउट कराकर अपना पहला टेस्ट विकेट लिया. स्मिथ के आउट होने के बाद लाबुशेन ने पारी संभाली. इस दौरान कप्तान अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा के कैच छोड़ने से लाबुशेन को दो जीवनदान मिल गये. लाबुशेन ने इसका पूरा फायदा उठाया और शतक लगा दिया, ये इस बल्लेबाज का पांचवां शतक है. उन्होंने मैथ्यू वेड के साथ 169 गेंदों में शतकीय साझेदारी पूरी की.

  हफीज ने पीसीबी अनुबंध ठुकराया

लाबुशेन के शतक के बाद 64वें ओवर में टी नटराजन ने मैथ्यू को आउट कर दिया. इसके बाद अपने अगले ओवर में नटराजन ने लाबुशेन को भी पेवेलियन भेज दिया. नटराजन ने अच्छी गेंदबाजी करते हुए 8 गेंदों में दो विकेट लिए. इसके बाद ऑलराउंडर कैमरन ग्रीन और कप्तान टिम पेन ने अच्छी बल्लेबाजी कर टीम को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *