पुराने नोट बदलने के धंधे में बाबू गिरफ्तार, सिपाही फरार


नई दिल्ली . दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा में कासना कोतवाली पुलिस ने कमीशन पर पुराने नोट बदलने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है. यह गिरोह बीटा दो कोतवाली का एक सिपाही और ग्रेनो प्राधिकरण का अस्थायी बाबू मिलकर चला रहे थे. पुलिस ने प्राधिकरण के बाबू समेत 11 लोगों को गिरफ्तार किया है जबकि सिपाही समेत 5 लोग अभी फरार हैं. दिल्ली पुलिस ने इनके पास से 4.55 लाख के पुराने नोट और दो कारें बरामद की हैं.

  कोरोना: गूगल गलत जानकारियों से निपटने देगा 65 लाख डॉलर

डीसीपी ग्रेटर नोएडा राजेश कुमार सिंह का कहना है कि कासना पुलिस द्वारा सेक्टर ओमीक्रॉन-1ए के गेट नंबर चार के पास से आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने इनके पास से चार लाख पचपन हजार रुपये के पुराने नोट और दो कारें बरामद की हैं. यह गैंग दिल्ली, ग्रेटर नोएडा, नोएडा, गाजियाबाद और बुलंदशहर से पुराने नोट लेकर कमीशन पर नए नोट बदलते थे. लेकिन पुलिस अभी यह खुलासा नहीं कर सकी है कि ये पुराने नोट कहां बदल जा रहे थे. पुलिस का दावा है कि जो पांच फरार लोग हैं, उनकी गिरफ्तारी के बाद पूरे प्रकरण का खुलासा हो सकेगा.

  5 अप्रैल को रात 9 बजे, 9 मिनट देश को दें : मोदी

Check Also

क्वारनटीन सेंटर से निकलकर गेहूं पिसवाने पंहुचा युवक तो पुलिस ने पीटा, किया सुसाइड

लखीमपुर. उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले के फरिया पिपरिया गांव से एक सनसनीखेज मामला …