बेयरस्टॉ को टीम से बाहर किया जाना चाहिये : वान

NOTTINGHAM, ENGLAND – AUGUST 20: England wicketkeeper Jonny Bairstow leaves the field with an injury to his hand during day four of the 3rd Test Match between England and India at Trent Bridge on August 20, 2018 in Nottingham, England. (Photo by Stu Forster/Getty Images)

लंदन . इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वान ने कहा है कि अब उनकी टीम को टेस्ट क्रिकेट पर अधिक ध्यान देना चाहिये. वान ने कहा कि कुछ खिलाड़ियों को टीम से बाहर भी किया जाना चाहिये क्योंकि उनका स्तर ठीक नहीं है. वान ने भारत के खिलाफ हाल में समाप्त हुई टेस्ट श्रृंखला में खराब प्रदर्शन करने वाले जॉनी बेयरस्टॉ पर मुख्य रुप से निशान साधा और कहा कि उनकी टीम में जगह नहीं बनती है.

बेयरस्टॉ ने टेस्ट श्रृंखला में जो चार पारियां खेली उनमें से तीन में वह खाता तक नहीं खोल पाए जबकि चौथे टेस्ट की पहली पारी में उन्होंने 28 रन बनाए. वॉन का मानना है कि इस तरह के खराब प्रदर्शन के बाद बेयरस्टॉ का इंग्लैंड की टीम में बने रहना सही नहीं है. बेयरस्टो इस पूरी सीरीज में भारतीय गेंदबाजी के सामने बेबस नजर आए. भारत के खिलाफ पिछली 10 पारियों में वह बेयरस्टो 6 बार शून्य पर आउट हुए. इस दौरान उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 28 रन रहा.

  आईपीएल: जीत से चेन्नई सुपर किंग्स को जबरदस्त फायदा

वॉन ने कहा कि जॉनी बेयरस्टॉ का इस टेस्ट टीम से जाना तय है. मुझे नहीं लगता कि इंग्लैंड में इन गर्मियों में और उसके बाद आस्ट्रेलिया में वह नंबर तीन पर बल्लेबाजी करेंगे. मुझे इस दौरे के बहुत अधिक लाभ भी नजर नहीं आये हैं. केवल कप्तान जो रूट, जेम्स एंडरसन और बेन स्टोक्स ही कुछ हद तक अच्छा प्रदर्शन कर पाए. जैक लीच ने भी थोड़ा बेहतर खेल दिखाया. इन हालातों को देखते हुए इंग्लैंड को सीमित ओवरों की जगह अब टेस्ट क्रिकेट पर अधिक ध्यान देना चाहिए.

  आईपीएल: डेविड वॉर्नर के पास होगा इतिहास रचने का मौका

उन्होंने कहा कि साल के इस हिस्से में सीमित ओवरों की क्रिकेट नहीं बल्कि ये चार मैच इंग्लैंड के लिए प्राथमिकता होने चाहिए थे. भारत ने जो तीनों टेस्ट मैच जीते उनमें कुछ बेहद करीबी क्षण भी आए लेकिन भारत ने तीनों मैचों में अक्सर एक घंटे के अंदर वापसी करके खेल बदल दिया.

Rajasthan news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *