कोरोना वायरस के दुष्प्रभाव से बैंकिंग और शेयर बाजार में हड़कंप

मुंबई (Mumbai) . ग्लोबल रेटिंग एजेंसी एनालिस्ट गिविंग रनिंग ने कहा असली चिंता इस बात की है. कोरोना (Corona virus) कितने लंबे समय तक चलेगा और यह कहां कहां तक फैलेगा.

क्रेडिट रेटिंग एजेंसी के अनुसार 2020 में अभी आर्थिक मुश्किलें और बढेंगी. रिपोर्ट के अनुसार महामारी के कारण 2020 में एशिया पेसिफिक देशों के बैंकों का क्रेडिट कास्ट लगभग 23 लाख करोड़ रुपए. बढ़ेगी इसके साथ ही एनपीए में लगभग 46 लाख करोड़ रुपए की वृद्धि होगी. एजेंसी का कहना है कोरोनावायरस महामारी के प्रारंभिक चरण में बैंकों और कारपोरेट जगत के ऊपर अभी असर बहुत कम आया है. आगे चलकर यह असर और भी बढ़ेगा.

  प्रवासी मजदूरों की हालत पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्य सरकारों को नोटिस जारी किया

एसएंडपी ग्लोबल रेटिंग्स की ताजा रिपोर्ट के अनुसार भारत के बैंकों का एनपीए 1.9 फ़ीसदी के औसत पर रहेगा क्रेडिट कास्ट में 130 बेसिस अंको की वृद्धि होगी रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन में एनपीए रेशियो 2 फ़ीसदी तक बढ़ेगा क्रेडिट कास्ट में 100 बेसिस अंको का इजाफा होगा.

  यूपी के कई हिस्से लू की चपेट में, लोग हलकान

रेटिंग एजेंसियों द्वारा वैश्विक अर्थव्यवस्था और भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर जो रिपोर्ट जारी की गई हैं. उसके अनुसार अर्थव्यवस्था की बदहाली का यह प्रारंभिक चरण है आगे के माहों में आर्थिक मुश्किलें बैंकों और कारपोरेट जगत की तेजी के साथ खराब होगी.

Check Also

चार धाम परियोजनाः बीआरओ को बड़ी सफलता, चंबा शहर के नीचे बनाई सुरंग

चंबा. सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) ने एक बड़ी सफलता प्राप्त की है. चार धाम परियोजना …