खिलाड़ियों को पहले ही प्रारुप की जानकारी देनी होगी : BCB


ढ़ाका . बांग्लादेश बोर्ड (बीसीबी) ने अपने खिलाड़ियों से कहा है कि वे किस प्रारुप में खेलना चाहते हैं. इसकी जानकारी उन्हें अनुबंध के समय देनी होगी. कोलकाता (Kolkata) नाइटराइडर्स (केकेआर) ने बांग्लादेश के ऑलराउंडर शाकिब अल हसन को खरीदा. टीम ने बाएं हाथ के स्पिनर और बल्लेबाज पर 3 करोड़ 20 लाख रुपए खर्च किए. इसके बाद शाकिब ने बांग्लादेश बोर्ड से टी20 लीग में खेलने की इजाजत मांगी हालांकि लीग के दौरान टीम को श्रीलंका से टेस्ट खेलना है. इसके बाद भी बोर्ड ने शाकिब को लीग में खेलने की अनुमति दे दी है.

  अश्विन ने हरभजन और कुंबले को इस मामले में पीछे छोड़ा

अब बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) ने शाकिब के आईपीएल (Indian Premier League) में खेलने की अनुमति को निराशाजनक करार दिया है. वहीं भविष्य में इस तरह के हालातों से बचने के लिए बोर्ड ने अनुबंध में नया नियम जोड़ने का फैसला किया है. बीसीबी के अध्यक्ष नजमुल हसन ने कहा कि हम खिलाड़ियों के साथ 2021 के लिए नया अनुबंध करेंगे. इसमें स्पष्ट रूप से इस बात का उल्लेख होगा कि कौन किस फॉर्मेट में खेलना चाहता है. उन्हें हमें इस बारे में जानकारी देनी होगी. अगर खिलाड़ी किसी दूसरे टूर्नामेंट में भी व्यस्त हैं तो उन्हें अपनी उपलब्धता के बारे में स्पष्ट बताना होगा.

  ग्रीम स्वान ने 2012 में धोनी वाली टीम इंडिया को बताया विराट कोहली की मौजूदा टीम से बेहतर

अब खिलाड़ियों को इसकी लिखित जानकारी देनी होगी ताकि कोई यह नहीं कह सके कि उन्हें अनुमति नहीं दी गई. उन्होंने कहा कि शाकिब को आईपीएल (Indian Premier League) में खेलने से रोकने का कोई मतलब नहीं बनता. हम चाहते हैं कि वे ही खेलें जो वास्तव में खेलना चाहते हैं. हमने उसकी दिलचस्पी बनाए रखने की कोशिश की. जब शाकिब ने तीन साल पहले टेस्ट खेलने से इनकार कर दिया था तो हमने उसे कप्तान बना दिया था. अगर कोई खिलाड़ी यह कहता है कि मैं टेस्ट नहीं खेल सकता, टी20 लीग खेलूंगा तो हम कुछ नहीं कर सकते.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *