पाक के खिलाफ मुकाबले से पहले टीम इंडिया से जुड़े 4 खिलाड़ी भारत लौटे, धोनी ने संभाली नई जिम्मेदारी

नई दिल्ली (New Delhi) . भारतीय क्रिकेट टीम ने चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ रविवार (Sunday) को टी20 विश्व कप के मैच से पहले अभ्यास सत्र में भाग लिया. अभ्यास सत्र में मेंटर महेंद्र सिंह धोनी ने थ्रोडाउन विशेषज्ञ की भूमिका निभाई. धोनी थ्रोडाउन विशेषज्ञ राघवेंद्र, नुवान और दयानंद की मदद करते दिखे. इस बीच भारत ने चार नेट गेंदबाजों स्पिनर कर्ण शर्मा, शाहबाज अहमद, के गौतम और वेंकटेश अय्यर को वापस भेज दिया है.

बोर्ड के एक सीनियर अधिकारी ने बताया कि टूर्नामेंट शुरू होने के बाद इतने नेट सत्र नहीं होंगे. राष्ट्रीय चयनकर्ताओं को लगा कि इन गेंदबाजों को सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी खेलने से मैच अभ्यास मिलेगा. जिन चार तेज गेंदबाजों को रुकने के लिए कहा गया है, उनमें आवेश खान, उमरान मलिक, हर्षल पटेल और लुकमान मेरिवाला शामिल हैं. दूसरी ओर अभ्यास सत्र हार्दिक पंड्या ने गेंदबाजी नहीं की. अंतिम एकादश में चयन के लिए पंड्या की गेंदबाजी दुविधा का विषय बनी हुई है. इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अभ्यास मैचों में वह बल्लेबाजी में भी कोई कमाल नहीं कर सके थे.

भारत ने वनडे और टी20 वर्ल्ड कप में हमेशा पाकिस्तान को हराया है. इन दोनों टीमों के बीच 50 ओवरों के विश्व कप में सात मैच खेले गये हैं और इन सभी में भारत ने जीत दर्ज की. टी20 विश्व कप की शुरुआत 2007 में हुई और तब से इन दोनों टीमों के बीच जो पांच मैच खेले गए उनमें से चार मैच भारत ने जीते. जबकि 2007 में डरबन में खेला गया मैच टाई रहा लेकिन उसे भी बॉल आउट में भारत ने जीता था.

भारत ने महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई में 2007 में जोहान्सबर्ग में खेले गए फाइनल में पाकिस्तान को पांच रन से हराया था. टी20 विश्व कप 2012 में कोलंबो में भारत ने अपने इस प्रतिद्वंद्वी को आठ विकेट से, इसके दो साल बाद ढाका में सात विकेट से और कोलकाता (Kolkata) में 2016 में छह विकेट से हराया था. इस तरह से भारत का पाकिस्तान के खिलाफ वनडे विश्व कप में रिकॉर्ड 7-0 और टी20 विश्व कप में 5-0 है.

इन मैचों में भारत ‘टॉस का बॉस’ भी बना था. उसने 12 मैचों में से आठ मैचों में टॉस जीता था और दुबई में भी टॉस की भूमिका अहम हो सकती है. वैसे भारत ने पाकिस्तान से विश्व कप (दोनों प्रारूप) में सात मैच पहले बल्लेबाजी करते हुए जीते. जो मैच टाई छूटा था उसमें भी भारत को पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया गया था. अगर सभी टी20 मैचों की बात की जाए तो उसमें भी भारत का पलड़ा भारी है. भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ आठ टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं जिनमें से छह में उसे जीत मिली. एक मैच टाई रहा जबकि एक मैच उसने गंवाया. भारत ने पाकिस्तान से पिछले चारों टी20 मैच जीते हैं.

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *