बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच बिहार में दो और बीमारियों का खतरा

पटना (Patna) . बिहार (Bihar) में कोरोना संक्रमण के बीच दो और बीमारियों एइएस और जापानी इंसेफलाइटिस का भी खतरा बढ़ गया है. मुजफ्फरपुर और गया के इलाके में इनका खतरा कुछ अधिक रहता है. मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार इसको लेकर खुद चिंतित हैं और उन्होंने वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग में इसको लेकर अधिकारियों को पूरी तरह सचेत रहने का निर्देश दिया है. कोरोना पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जिलाधिकारियों की समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री (Chief Minister) नीतीश कुमार ने यह भी कहा कि एइएस एवं जापानी इंसेफ्लाइटिस बीमारी से बचाव को लेकर भी स्वास्थ्य विभाग पूरी तैयारी रखें.

  कोविड केयर सेंटरों में ऑक्सीजन की व्यवस्था करने विधायक देवेन्द्र यादव की पहल: दी विधायक निधि की राशि

मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने कहा कि आने वाली चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए आपदा प्रबंधन विभाग भी अलर्ट रहे. अधिक से अधिक टीकाकरण होने से कोरोना संक्रमण का असर कम से कम होगा. स्वास्थ्य विभाग दूसरे चरण के टीकाकरण के लिए भी लोगों को अलर्ट करते रहे. समीक्षा बैठक में स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने एक प्रजेंटेेशन के माध्यम से कोरोना संक्रमण की अद्यतन स्थिति के बारे में जानकारी दी. अस्पतालों में कोविड को लेकर की जा रही व्यवस्था के बारे में भी उन्होंने जानकारी दी.

  कोरोना कर्फ्यू के दौरान भी जारी रहेगा उपार्जन कार्य: मुख्यमंत्री श्री चौहान

समीक्षा बैठक में स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, मुख्यमंत्री (Chief Minister) के प्रधान सचिव दीपक कुमार, मुख्य सचिव अरुण कुमार सिंह, गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव चैतन्य प्रसाद, मुख्यमंत्री (Chief Minister) के प्रधान सचिव चंचल कुमार, सचिव अनुपम कुमार, बिहार (Bihar) चिकित्सा सेवाएं एवं आधारभूत संरचना निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक प्रदीप झा, राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार व मुख्यमंत्री (Chief Minister) के विशेष कार्य पदाधिकारी गोपाल सिंह भी मौजूद थे. सभी प्रमंडलीय आयुक्त तथा रेंज के पुलिस (Police) महानिरीक्षक व जिलों पुलिस (Police) अधीक्षक वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े थे.

Rajasthan news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *