नागरिकता कानून पर लोगों का भ्रम को दूर करने यूपी में छह रैलियां करेंगे भाजपा के दिग्गज

नई दिल्ली. केंद्र मोदी सरकार जब से नागरिकता कानून लेकर आई है, तब से इसके खिलाफ देश के विभिन्न भागों में प्रदर्शन हो रहे हैं. विपक्ष की लगभग सभी पार्टियों ने इस कानून का विरोध किया है. नागरिकता कानून के खिलाफ हुए प्रदर्शन में कई जगह हिंसा भी हुई है.

  निर्भया गैंग रेप और मर्डर के एक दोषी विनय शर्मा ने फिर पहुंचाया खुद को नुकसान

प्रदर्शन का सबसे ज्यादा असर पश्चिम बंगाल, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में देखा गया. अब प्रदर्शन के मद्देनजर भाजपा ने भी आम लोगों को इस कानून के बारे में समझाना शुरू कर दिया है. जागरूकता अभियान के तहत भाजपा ने देश के कई हिस्सों में रैलियों का आयोजन करवाया. इन रैलियों में पार्टी के बड़े नेताओं ने लोगों को समझाने की कोशिश की. अब बारी उत्तर प्रदेश की है.

  सीएम केजरीवाल ने की घायलों से मुलाकात, शांति बनाए रखने की अपील

भाजपा यहां 6 बड़ी रैलियां करने की तैयारी में है. सूत्रों के मुताबिक गृह मंत्री और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह 21 को लखनऊ में रैली करेंगे. वहीं, रक्षा मंत्री और पार्टी के कद्दावर नेता राजनाथ सिंह 22 जनवरी को मेरठ में रैली करेंगे. सूत्रों के मुताबिक 23 को पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा आगरा में रैला करेंगे.

  भारत यात्रा के पीछे ट्रंप का अपना स्वार्थ, इससे भारत को कोई लाभ नहीं : सुब्रमण्यम स्वामी

Check Also

नवविवाहिता ने फांसी लगाकर की खुदकुशी

भोपाल. राजधानी के गुनगा थाना इलाके मे नवविवाहिता द्वारा फांसी लगाकर खुदकुशी किये जाने का …