2 साल में 1100 रुपए कीमत पर 7 लाख मेट्रिक टन मूंगफली किसानों से खरीदी

Governor McDonnell Meets with Brian Walsh
Photo credit needed- Courtesy of Michaele White, Governor’s Photographer

अहमदबाद . उप मुख्यमंत्री (Chief Minister) नितिन पटेल ने राज्य में खाद्य तेलों की बढ़ती कीमतों और किसानों की मिलती रकम का बारे में कहा कि किसी भी उत्पादन का समर्थन मूल्य पर खरीदी का काम केन्द्र सरकार के मार्फत होता है. जारी वर्ष में मूंगफली का व्यापक उत्पादन होने से केन्द्र सरकार ने निर्यात की मंजूरी दी है. निर्यात की मंजूरी मिलने से समर्थन मूल्य से अधिक किसानों को खुले बाजार में मूंगफली की ज्यादा कीमत मिली है.

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री जयेश रादडिया ने कहा कि राज्य सरकार (State government) ने पिछले दो साल में 7 लाख मेट्रिक टन मूंगफली रु. 1100 के समर्थन से मूल्य से खरीदी है और इसके लिए किसानों को रु. 4000 करोड़ का भुगतान किया जा चुका है. खाद्य तेलों की बढ़ती कीमतों पर जयेश रादडिया ने कहा कि जनवरी 2019 से दिसंबर 2019 में कपासिया और मूंगफली के फुटकर दाम में मामूली वृद्धि हुई है. जबकि कोविड 19 संकट के दौरान परिवहन और श्रमिकों की कम उपलब्धता के कारण खाद्य तेलों की कीमतें प्रभावित हुई थीं.

उन्होंने कहा कि मूंगफली तेल और कपासिया तेल की कीमत पर नियंत्रण रखने के लिए भारत सरकार की आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए गए हैं. इतना ही नहीं राज्य सरकार (State government) ने सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत वर्ष में दो दफा बीपीएल और अंत्योदय राशन कार्ड धारकों को वर्तमान कीमत से कम दाम पर प्रति कार्ड 1 लीटर तेल का वितरण किया है. वर्ष 2019 के दौरान करीब 66.55 लाख पाउच समेत वर्ष के दौरान 75.30 पाउच का वितरण किया गया है.

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *