प्रशासन गांवों के संग अभियान; एडीएम प्रशासन ने किया शिविर का अवलोकन


उदयपुर (Udaipur). अतिरिक्त जिला कलक्टर (District Collector) (प्रशासन) ओ.पी.बुनकर ने मंगलवार (Tuesday) को प्रशासन गांव के संग अभियान के तहत बड़गांव पंचायत समिति के कदमाल ग्राम पंचायत में आयोजित शिविर का निरीक्षण किया. उन्होंने शिविर में की गई व्यवस्थाओं का जायजा लेते हुए विभिन्न विभागों द्वारा दी जा रहीे सेवाओं की जानकारी ली.

एडीएम ने शिविर स्थल पर लगे सभी विभागों के स्टॉल्स पर पहुंचकर अब तक प्रगति के बारे में जानकारी प्राप्त की और सभी विभागों को समन्वय स्थापित करते हुए लोकराहत के सफल आयाम स्थापित करने के निर्देश दिए. उन्होंने सभी अधिकारियों से कहा कि उम्मीद् लेकर आया कोई भी व्यक्ति खाली हाथ नहीं लौटे और उनकी समस्याओं का निस्तारण करते हुए उन्हें राहत प्रदान की जाए. साथ ही उन्होंने हर पात्र व्यक्ति को सरकारी योजनाओं का लाभ प्रदान करने पर जोर दिया.

शिविर में पूर्व मंत्री मांगीलाल गरासिया, प्रधान प्रतिभा नागदा सहित अन्य स्थानीय जनप्रतिनिधि व विभिन्न विभागों के अधिकारी की उपस्थिति में पात्रजन को लाभान्वित किया गया. शिविर में दिव्यांग विक्रम गमेती व कैलाश कुंवर को सुविधा के लिए व्हील चेयर प्रदान की गई. वहीं आवासीय भूमि के 42 पट्टे जारी किये गये, इनमे सुशीला बाई/झालम सिंह जो लगभग 50 वर्षीय विधवा शामिल है, जो अब अपने आवासीय भुखंड की विधिवत मालकिन बनी. 4 नये परिवारों के मनरेगा जॉब कार्ड जारी तथा शिविर मे 6 वरिष्ठ नागरिकों की वृद्धावस्था पेंशन स्वीकृत की गई.

गींगला शिविर में 203 पट्टे वितरित

पंचायत समिति सलूंबर के ग्राम पंचायत गींगला के राउमावि में विधायक अमृतलाल मीणा के आतिथ्य में आयोजित शिविर में पात्रजनों को 203 पट्टे वितरित किये गये. शिविर में 23 मुख्यमंत्री (Chief Minister) आवास स्वीकृत, 2 राशन कार्ड बायपास, जन्म मृत्यु के 40, राजस्व रिकार्ड की प्रतिलिपि के 87, राजस्व रिकार्ड में शुद्धिकरण के 28, नामान्तरण के 51, बंटवाडा के 4, सीमाज्ञान के 17 प्रकरणों का निस्तारण किया एवं कृषि विभाग द्वारा 25 मृदा नमूनो का संग्रहण, 50 मृदा स्वास्थ्य कार्ड वितरण किये. बिजली विभाग द्वारा 12 परिवाद प्राप्त हुए, जिसमें से 10 परिवाद का हाथो-हाथ निस्तारण एवं सामाजिक न्याय व अधिकारिता विभाग द्वारा मुख्यमंत्री (Chief Minister) वृद्धजन के 2 आवेदन विशेष योग्यजन के 2 एवं 1 पालनहार के स्वीकृत किये गये चिकित्सा विभाग द्वारा 115 व्यक्तियों का उपचार किया गया. पशुपालन विभाग द्वारा 116 पशुओं का उपचार किया गया एवं आयुर्वेद विभाग-92 रोगियों का उपचार किया गया. परिवहन विभाग द्वारा 2 पास जारी किये, शिक्षा विभाग, श्रम विभाग आदि विभागों द्वारा कार्य किये गये. शिविर में सोहन चौधरी एवं शिविर प्रभारी दिनेश धाकड उपखण्ड अधिकारी सलूंबर, तहसीलदार रामप्रसाद खटीक, विकास अधिकारी अनिल पहाडिया एवं प्रधान गंगा देवी मीणा आदि मौजूद रहे.

शिविर में खिले चेहरें

गींगला शिविर में वर्षों के इंतजार के बाद पट्टे मिलने से प्रार्थियों के चेहरे खिल उठे. सभी ने दस्तावेज बनने पर सरकार का आभार जताया. 22 साल बाद जमीन के खाते मे नाम शुद्धिकरण के तहत सुशीला से सूखी बाई करने पर प्रार्थियों ने सरकार को धन्यवाद दिया. दिव्यांग आशा का दिव्यांगमा प्रमाण पत्र बनने पर उसके चेहरे पर भी खुशी देखी गई. वहीं ललित को पालनहार योजना का लाभ प्रदान कर राहत प्रदान की गई. इधर सेमारी पंचायत समिति के बडावली ग्राम पंचायत में पूर्व सांसद (Member of parliament) रघुवीरसिंह मीणा के आतिथ्य में आयोजित शिविर में विभिन्न विभागीय योजनाओं का लाभ प्रदान किया गया. इस दौरान दिव्यांगजनों, वृद्धजनों एवं अन्य आशार्थियों को पेंशन, पालनहार सहित अन्य योजनाओं का लाभ प्रदान किया गया तथा नामांतरण, भूमि आवंटन, सीमाज्ञान आदि के प्रकरणों का निस्तारण कर लोगों को राहत प्रदान की गई. इस अवसर पर स्थानीय जनप्रतिनिधियों सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे.

भटेवर शिविर में मिली कई सौंगाते

वल्लभनगर के भटेवर में आजादी से पूर्व संचालित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय भटेवर (पुराना भवन) अपना पट्टा मंगलवार (Tuesday) को आयोजित शिविर में पंचायती राज के माध्यम से प्राप्त हुआ. यह विद्यालय सन् 1942 में प्राथमिक विद्यालय, सन् 1972 में उच्च प्राथमिक विद्यालय, सन् 2000 में माध्यमिक विद्यालय तथा सन् 2018 में उच्च माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत हुआ. आज शिविर में विद्यालय के पट्टे हेतु आवेदन पत्र प्राप्त हुआ तो शिविर प्रभारी व एसडीएम श्रवण सिंह राठौड़ ने तुरन्त जानकारी लेते हुए विद्यालय का पट्टा जारी करने के निर्देश प्रदान किये.

इसी प्रकार ग्राम पंचायत भटेवर मंे स्थित सामुदायिक भवन जो लगभग 10 वर्षो से संचालित है उसका भी प्रार्थना पत्र प्राप्त होने पर तुरंत कार्यवाही करते हुए पट्टा जारी किया गया. प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र भटेवर जो सन् 2008 में निर्मित है जो चरागाह भुमि में निर्मित था. प्रार्थना पत्र प्राप्त होने पर तहसीलदार वल्लभनगर के माध्यम से तुरन्त आवंटन प्रस्ताव तैयार किया गया. आज के शिविर में महिला अधिकारिता विभाग की इन्दिरा महिला शक्ति उद्यम प्रोत्साहन योजनान्तर्गत 16 महिलाओं के व्यक्तिगत ऋण आवेदन के 19.50 लाख रूपये के प्रस्ताव तैयार किये गये. साथ ही शिविर में कुल 62 नामान्तकरण, 62 राजस्व अभिलेखो में शुद्वि, जाति/मुल के 31 प्रमाण पत्र, सहमति से पैतृक (कृषि) भूमि के कुल 16 प्रकरण, राजस्व रिकार्ड की 215 प्रतिलिपिया तैयार कर निस्तारित किए गए. शिविर के दौरान ही पंचायती राज द्वारा कुल 116 पट्टे हेतु आवेदन पत्र प्राप्त हुए जिसमें से कुल 65 पट्टे वितरित किये गये.

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *