Thursday , 25 February 2021

कैट ने भारत में अमेजन के ई-वाणिज्य परिचालन पर प्रतिबंध लगाने की मांग की

नई ‎‎दिल्ली . व्यापरियों का संगठन कैट ने सरकार से अमेजन की ई-वाणिज्य पोर्टल और उसके भारत में परिचालन पर प्रतिबंध लगाने की मांग की. संगठन ने भारी छूट और माल भंडार पर नियंत्रण के जरिये वैश्विक ई-वाणिज्य कंपनी पर बाजार खराब करने वाली कीमत व्यवस्था में शामिल होने का आरोप लगाया.

संवाददाता सम्मेलन को में कैट के महासचिव प्रवीण खंडेलवाल ने अमेजन के पोर्टल और भारत में उसके कामकाज पर तत्काल पाबंदी लगाने का आग्रह किया. साथ ही उन्होंने कंपनी के खिलाफ समयबद्ध तरीके से जांच करने का भी अनुरोध किया उन्होंने सरकार से अमेजन और फ्लिपरकार्ट की कारोबारी गतिविधियों की जांच करने का भी आग्रह किया.

  सोना और चांदी में मामूली तेजी

हालांकि इस बारे में अमेजन और फ्लिपकार्ट दोनों ने कहा कि वे भारतीय कानून के हिसाब से काम कर रहे हैं. कान्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने इस संदर्भ में वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल को पत्र भी लिखा. पत्र में कहा है ‎कि हमारा संगठन आपके कार्यालय से एफडीआई नीति और विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम, नियमों के उल्लंघन और खामियों का लाभ उठाकर उसका दुरूपयोग करने के लिए अमेजन और फ्लिपकार्ट (वॉलमार्ट) जैसी बहुराष्ट्रीय कंपनियों की जांच करने और दंडित करने अनुरोध करता रहा है.

  रुपया शुरुआती कारोबार में छह पैसे गिरा

संगठन ने कहा कि 8-10 फरवरी को नागपुर में आयोजित राष्ट्रीय अधिवेशन के दौरान इस मुद्दे पर सरकार की तरफ से कुछ नहीं किये जाने को गंभीरता से लिया गया. सम्मेलन में शामिल 150 से अधिक व्यापारी नेताओं ने यह संकल्प लिया कि अगर सरकार इस मामले में तत्काल कदम नहीं उठाती है, देशव्यापी आंदोलन किया जाएगा.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *