TRAVEL

कोरोना संकट की वजह से थाईलैंड में ठप हुआ पर्यटन, भुखमरी की कगार पर पहुंचे हज़ारों हाथी

बैंकाक . कोरोना (Corona virus) के कहर से दुनियाभर के देश जूझ रहे हैं. कोरोना (Corona virus) का असर लोगों की ज़िंदगी के साथ-साथ आजीविका और उद्योगों पर भी पड़ा है. थाईलैंड में पर्यटन उद्योग पर कोरोना (Corona virus) का असर पड़ने की वजह से करीब दो हज़ार हाथियों के भूखे मरने की नौबत आ गई है. दरअसल पर्यटन उद्योग …

Read More »

दुनिया के सबसे सूखे स्थान एटाकामा रेगिस्तान में हैं सात गुप्त तालाब, सिर्फ 1 MM वर्षा होती है यहां

यह फोटो चीली के एटाकामा रेगिस्तान में स्थित बाल्टीनाके तालाब का है. यहां पर ऐसे सात तालाब है, जिन्हें गुप्त तालाब भी कहा जाता है. एटाकामा रेगिस्तान को दुनिया की सबसे सूखी जगह माना जाता है. यहां पर साल में सिर्फ एक मिलीमीटर वर्षा होती है. हालांकि, 2015 में इस रेगिस्तान के दक्षिणी हिस्से में इतनी बारिश हुई कि उससे …

Read More »

कोरोना खौफ- सरकार ने विदेशी पर्यटकों पर लगाई रोक, कहा- लोगों की सुरक्षा पहली प्राथमिकता

नई दिल्ली . वैश्विक महामारी कोरोना वायरस को लेकर भारत सरकार ने चिंता के बीच विदेशी पर्यटकों की आवाजाही पर रोक लगाई है. सरकार ने मंगलवार को कहा कि उसकी पहली प्राथमिकता लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करना है तथा पर्यटकों पर रोक के कारण इस उद्योग को हुए नुकसान का आकलन वह बाद में करेगी. राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान …

Read More »

यह अमेरिका की सबसे बड़ी मानव निर्मित पॉवेल झील, चार नदियों से पानी मिलता है इसे

यह फोटो अमेरिका की पावेल झील का है. यह अमेरिका की मानव निर्मित सबसे बड़ी झील है. इस झील का निर्माण ग्लेन कैनयोन बांध की वजह से हुआ है. जब इस झील में पानी पूरा भरा होता है तो इसकी अधिकतम गहराई 560 फीट और इसकी लंबाई 300 किलोमीटर होती है. इस झील को चार नदियों कोलोराडो, डर्टी डेविल, एस्कलांते …

Read More »

सैमसंग गैलैक्सी डायरी: एक ट्रैवल गाइड की नज़र से भूटान का नज़ारा

एक ट्रैवल गाइड, फोटोग्राफर और एक सैमसंग प्रशंसक. फत्ता सिंह भूटान के रहने वाले हैं.  इनका पेशा और दिन-प्रतिदिन का जीवन उनके जुनून से मेल खाता है  और इसी के जरिए वे दुनिया भर में यात्रा करते हैं और अपने सैमसंग स्मार्टफोन पर अपने अनुभवों को कैप्चर करते हैं. उनके खूबसूरत हिमालयी देश की उनके द्वारा ली गई कुछ तस्वीरों ने हमें इतना प्रेरित किया कि हमने उन्हें आपके …

Read More »

यह है रंगों की नदी, 100 किमी लंबी नदी में हैं 5 रंग के पौधे, पहले आतंकवाद के कारण यहां जाना मना था

कोलंबिया की कैनो क्रिसटेल्स नदी दुनियाभर में अपने रंगों के लिए मशहूर है. इसे लिक्विड रेनबो भी कहते हैं. सियरा डे ला माकारेना पर्वत श्रृंखला के बीच करीब 100 किमी (62 मील) लंबी इस नदी में मुख्य रूप से पांच रंगों के जलीय पौधे निकलते हैं. इनका रंग इतना अच्छा होता है कि ये फूल जैसे दिखते हैं. साल के …

Read More »

देशी-विदेशी पर्यटकों में जू का आकषर्ण बनाए रखने के लिए जयपुर जू में लाए दो नए मादा शुतुरमुर्ग

जयपुर . देशी-विदेशी पर्यटकों में जू का आकषर्ण बनाए रखने के लिए वन विभाग की टीम चेन्नई के कट्टपक्कम से दो मादा शुतुरमुर्ग को लेकर जयपुर चिडियाघर पहुंची जिन्हें नर शुतुरमुर्ग बाहुबली के पास एन्क्लोजर में रखा जायेगा कुछ दिनों तक अलग रखने के बाद मादा शुतुरमुर्ग को बाहुबली के साथ छोडा जायेगा इन्हें लाए जाने के बाद जू में …

Read More »

बुल्गारिया में बुरी शक्तियों को भगाने के लिए कमर में घंटे बांधकर घूमते हैं मुखौटा पहने कुकेरी

यह फोटो बुल्गारिया के कुकेरी महोत्सव का है. हर साल जनवरी से अप्रैल के दौरान यह महोत्सव मनाया जाता है. इस महोत्सव के दौरान पुरुष (कुछ महिलाएं भी) खास तरह का वेश बनाकर (कुकेर) बुरी शक्तियों को भगाने के लिए घूमते हैं. उनकी कमर में बड़े-बड़े घंटे और चेहरे पर मुखौटा भी होता है. मान्यता है कि इन घंटों की …

Read More »

यूरोप के रोमांटिक युग का प्रतीक है सिंट्रा पहाड़ी पर स्थित पेना महल, यह पुर्तगाल के सात अजूबों में भी शामिल

यह फोटो पुर्तगाल की सिंट्रा पहाड़ी पर स्थित पेना महल का है. यह महल यूरोप के रोमांटिक युग (1800 से 1850) का प्रतीक माना जाता है. यह समय यूरोप में कला, साहित्य, संगीत व बौद्धिक आंदोलनों का था. मौसम साफ होने पर यह महल लिस्बन से भी स्पष्ट नजर आता है. यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज में शुमार यह महल पुर्तगाल के …

Read More »

मलेशिया के सबसे बड़े बौद्ध मंदिर परिसर-केक लोक सी में हैं बुद्ध की 10 हजार आकर्षक प्रतिमाएं

यह फोटो मलेशिया के सबसे बड़े केक लोक सी बौद्ध मंदिर परिसर का है. यह मंदिर मलेशिया के अलावा हांगकांग, फिलीपींस, सिंगापुर और दक्षिण-पूर्व देशों के बौद्ध धर्म के लोगों का प्रमुख तीर्थस्थल है. यह मंदिर परिसर 1890 से 1930 के बीच बनाया गया था. इस परिसर का आकर्षण सात मंजिला रामा पंचम मंदिर है, जहां भगवान बुद्ध की 10 …

Read More »

डेढ़ लाख हेक्टेयर में फैले रेतीले टीलों वाले ब्राजील के इस पार्क में हर साल होती है 1200 मिलीमीटर बारिश

यह फोटो ब्राजील के लेंकोइस मारानहेंसेस नेशनल पार्क का है. करीब डेढ़ लाख हेक्टेयर में फैले इस नेशनल पार्क में 70 किलोमीटर की समुद्री सीमा है. इसके भीतरी हिस्से में घुमावदार ऊंचे नीचे रेतीले टीले हैं. बारिश होने पर इन रेतीले टीलों के बीच में पानी भर जाता है, लेकिन इनके नीचे कठोर चट्‌टान होने की वजह से वह नीचे …

Read More »

5464 किलोमीटर लंबी यलो रिवर चीन की दूसरी सबसे बड़ी नदी, बार-बार बाढ़ की वजह से इसका रंग पीला

यह फोटो चीन की ह्वांगहो या यलो रिवर का है. यह चीन की दूसरी सबसे बड़ी नदी है. इसकी लंबाई 5464 किलोमीटर है. यह चीन के नौ प्रांतों से होते हुए बोहाई सागर में गिरती है. इस नदी का पीला रंग होने की वजह बार-बार बाढ़ से इसके तल में जमाव होना है. 1887 में यहां पर इतनी भयंकर बाढ़ …

Read More »

विश्व की सबसे बड़ी ताजे पानी की बैकाल झील में हैै दुनिया का 20 फीसदी सतही पानी, 1642 मीटर गहरी है यह

यह फोटो सर्दी में जमी हुई दुनिया में ताजे पानी की सबसे बड़ी बैकाल झील का है. रूस के साइबेरिया में स्थित इस झील में दुनिया में सतह पर मौजूद ताजे पानी (नदी, तालाब, झरने व झीलें) का करीब 20 फीसदी है. यहां पर कुल 23,615 क्यूबिक किलोमीटर पानी है. इसकी अधिकतम गहराई 1642 मीटर है. यह दुनिया की सबसे …

Read More »

रोमानिया के गांव हैं यूरोप में सबसे सुंदर, अब बन रहे हैं पर्यटक डेस्टिनेशन

यह फोटो रोमानिया के पेस्तेरा गांव का है. यूरोप में रोमानिया के कुछ गांव सबसे सुंदर माने जाते हैं. जो लोग प्रकृति को पसंद करते हैं और शहरों की आपाधापी से कुछ दिन दूर रहना चाहते हैं, उनके लिए परी देश जैसे ये गांव छुट्‌टी बिताने की सबसे अच्छी जगह हैं. इन गांवों में ताजी हवा और वातावरण के साथ …

Read More »

चीन के युलोंग पर्वत पर 18,360 फीट की है सबसे ऊंची चोटी, 15,350 फीट तक केबल से जा सकते हैं लोग

यह फोटो चीन के जेड ड्रैगन स्नो माउंटेन (युलोंग पर्वत) व उसकी तलहटी में बने मुक्ताकाश थिएटर का है. यहां पर 13 चोटियां हैं, जिनमें सबसे ऊंची शानजिदो 18,360 फीट की है. यह इलाका युलोंग स्नो माउंटेंन नेशनल सीनिक एरिया और नेशनल जियोलॉजिकल पार्क के अधीन आता है. इस पार्क में केबल कार से 15,350 फीट की ऊंचाई पर स्थित …

Read More »

महाशिवरात्रि आज : जगमगाई सबसे ऊंची शिव प्रतिमा, मूर्ति तक पहुंचने के लिए सीढ़ियां, गजीबो, हर्बल गार्डन

महाशिवरात्रि पूर्व संध्या पर रोशनी से जगमग विश्व की सबसे ऊंची (शिवजी की) 351 फीट की शिव प्रतिमा. अराइवल प्लेटफार्म से प्रतिमा तक पहुंचने के लिए 14 मीटर चाैड़ी 250 सीढ़ियां हाेगी. प्रतिमा के नीचे 52 हजार 3 सौ अस्सी स्क्वायर फीट में तीन हर्बल गार्डन हाेंगे. इनके नीचे स्कूली बच्चों के लिए 2500 स्क्वायर फीट में गजिबाे, 44 हजार …

Read More »

यह अवॉर्डेड फोटो 1,81,414 हेक्टेयर में फैले चिली के नेशनल पार्क का है, हर साल ढाई लाख पर्यटक आते हैं यहां

यह फोटो चिली के टोरेस डेल पाइने नेशनल पार्क में स्थित पेहोए झील का है. 10 किलोमीटर लंबी इस झील का औसत तापमान सर्दियों में आठ डिग्री तो गर्मियों में करीब 15 डिग्री सेल्सियस होता है. इस झील के आसपास आप छोटे ऊंट जैसे गुनाको को भी देख सकते हैं. इसके अलावा यहां पर हिरन जैसा दुर्लभ हुईमुल भी पाया …

Read More »

बड़े पक्षियों से शिकार करने की कला को जीवित रखने के लिए चीन में होता है ईगल हंटर महोत्सव

यह फोटो उत्तर-पश्चिमी चीन के शिनजियांग प्रांत में आयोजित ईगल हंटर महोत्सव का है. चीन, कजाकस्तान, रूस व मंगोलिया के शिकारी इस महाेत्सव में हिस्सा लेते हैं. इस महोत्सव का उद्देश्य शिकार की पुरानी परंपराओं को जीवित रखना है. इन शिकारियों का मानना है कि चील व बाज जैसे बड़े पक्षियों को शिकार के लिए प्रशिक्षित करना एक खास कला …

Read More »

350 एकड़ में फैले जापान के हिताची सीसाइड पार्क का आकर्षण हैं नीले फूल नेमोफिला

यह फोटो जापान के इबाराकी इलाके में स्थित हिताची सीसाइड पार्क का है. 350 हेक्टेयर में फैले इस पार्क मंे सुंदर फूलों के अलावा एक मनोरंजन पार्क भी है. इस पार्क के सबसे प्रमुख फूलों में नीले रंग का नेमोफिला है. यहां पर स्थित सुसेन गार्डन में नारसियस और लेक ट्यूलिप भी पाए जाते हैं. इस पार्क का सिर्फ 200 …

Read More »

समुद्र में मिलने से पहले लगभग सूख जाती है 2330 किमी लंबी कोलोराडो नदी, इस फोटो को मिला है अवाॅर्ड

यह फोटो अमेरिका की कोलोराडो नदी का है. यह नदी अमेरिका के आठ राज्यों से होते हुए मेक्सिको में समुद्र में मिलती है. 2330 किलोमीटर लंबी यह नदी अमेरिका में अनेक इलाकों में सिंचाई व पीने के लिए पानी उपलब्ध कराती है, लेकिन अत्यधिक दोहन के कारण समुद्र में मिलने से पहले नदी लगभग सूख सी जाती है. स्टास बार्टनिकास …

Read More »

विश्वभर के कलाकारों की शानदार प्रस्तुतियों के साथ हुआ संगीत के सबसे बड़े महोत्सव ‘वेदांता उदयपुर वल्र्ड म्यूजिक फेस्टिवल 2020’ का आगाज़

स्पेन, फ्रांस, कुर्दिस्तान, पुर्तगाल, माली, रूस, स्विटजरलैण्ड के 150 से अधिक कलाकारों की भागीदारी   उदयपुर. भारत के सबसे बड़े विश्व संगीत महोत्सव ‘वेदांता उदयपुर वर्ल्‍डम्यूजिक फेस्टिवल’ के 5वें संस्करण की शुरूआत शुक्रवार को सुधा रघुरमन (भारत) और जेफरी एमपोंडो (फ्रांस) द्वारा महात्मा गांधी और मार्टिन लूथर किंग को दी गई ह्रदयस्पर्शी श्रृद्धांजलि से हुई. इस वर्ष, फेस्टिवल की थीम है …

Read More »

138 मीटर गहरा है चेक गणराज्य का मकोचा अबेस सिंक होल, यहां से निकलती है भूमिगत पुंकवा नदी

यह फोटो चेक गणराज्य के मकोचा अबेस का है. यह 138 मीटर गहरा, 174 मीटर लंबा और 76 मीटर चौड़ा सिंक होल (पृथ्वी के किसी हिस्से के धरती में समाने से बना गड्‌ढा) है. इस पर दो पुल बने हुए हैं. ऊपरी पुल 1882 व निचला पुल 1899 में बना था. निचला पुल मकोचा से 92 मीटर ऊपर है और …

Read More »

भूटान ने भारतीयों के नि:शुल्क प्रवेश पर लगाया प्रतिबंध, प्रतिदिन के हिसाब से 1,200 रुपए देने होंगे

नई दिल्ली. भूटान की प्राकृतिक सुंदरता भारतीय पर्यटकों को अपनी और आकर्षित करती रही है. भारत से हर साल हजारों पर्यटक भूटान जाते हैं. भारत से पर्यटकों के बड़ी संख्या में भूटान जाने की वजह यह है यहां पर जाने के लिए कोई फीस अभी तक नहीं देनी होती थी. लेकिन फिलहाल भूटान सरकार की एक नई योजना इसे बदलने …

Read More »

इटली के लागाजुओई पर्वत पर बना है सॉना बॉथ पहले विश्व युद्ध में बने बंकर और सुरंगें भी हैं यहां

यह फोटो उत्तरी इटली के लागाजुओई पर्वत पर 2835 मीटर (9301 फीट) की ऊंचाई पर स्थित सॉना (वाष्प में नहाने का कमरा) का है. इस पर्वत पर पहले विश्वयुद्ध के दौरान इटली और ऑस्ट्रो-हंगेरियन सेनाओं द्वारा बनाए गए बंकर व सुरंगें भी मौजूद हैं. इन्हें अब एक खुले संग्रहालय का दर्जा दे दिया गया है और बड़ी संख्या में पर्यटक …

Read More »

चीन के हुआंगलोंग में हैं कैल्साइट के रंगीन तालाब जायंट पांडा व चपटी नाक वाले बंदर का घर भी है यह

यह फोटो चीन के सिचुआन प्रांत के हुआंगलोंग का है. हुआंगलोंग का अर्थ होता है पीला ड्रैगन. यह क्षेत्र कैल्साइट जमने से बने रंगीन तालाबों के लिए जाना जाता है. यहां पर बर्फीली चोटियां, अनेक जल प्रपात और गर्म पानी के झरने हैं. यह क्षेत्र जायंट पांडा और चपटी नाक वाले गोल्डन बंदर का भी घर है. हुआंगलोंग को 1992 …

Read More »

विश्वविख्यात मरु महोत्सव आगामी 6 से 9 फरवरी तक जैसलमेर में

जयपुर. विश्वविख्यात मरु महोत्सव आगामी 6 से 9 फरवरी तक जैसलमेर में आयोजित किया जाएगा. इसके अन्तर्गत जिले में विभिन्न स्थानोंं पर चार दिन तक बहुआयामी मनोहारी आयोजनों की जबर्दस्त धूम रहेगी. जिला कलक्टर नमित मेहता ने मरु महोत्सव के चार दिवसीय कार्यक्रमों की जानकारी देते हुए बताया कि पहले दिन 6 फरवरी, गुरुवार को पोकरण में प्रात: 10 बजे …

Read More »

रूस का चर्च ऑफ एलीजाह, आज भी वैसा ही है जैसा इसे 370 साल पहले बनाया गया था

यह फोटो रूस के यारोसलावल में 1647 से 1650 के बीच बने चर्च ऑफ एलीजाह का है. यह चर्च 370 साल बाद भी वैसा ही है जैसा इसे बनाया गया गया था. इस चर्च को बनाने के लिए फर और रत्नों के दो व्यापारियों वोनीफटे स्क्रीपिन और आयानिके स्क्रीपिन ने धन दिया था. इस चर्च के भीतर कोस्ट्रोमा मास्टर्स के …

Read More »

ब्रिटेन में पाई जाती है गूसैंडर बतख, इस फोटो को मिल चुका है डक अवार्ड

यह फोटो ब्रिटेन में पाई जाने वाली बतख (गूसैंडर) का है. साफ पानी में रहने वाली यह बतख करीब दो फीट लंबी होती है. इसमें नर का वजन दो किलो तक व मादा का वजन 1700 ग्राम तक होता है. ब्रिटिश ट्रस्ट फॉर ओरिथोलॉजी और नेचर फोटोग्राफर एसोसिएशन द्वारा प्रकृति व पक्षियों के प्रति जागरूकता के लिए शुरू किए गए …

Read More »

क्रोएशिया के सेंट निकोलस किले में लगी थीं 32 ताेपें, इसकी दीवारों पर नहीं होता गोलों का असर

यह फोटो क्रोएशिया के सबसे पुराने शहर सीबेनिक में स्थित सेंट निकोलस किले का है. यूनेस्को की वर्ल्ड हेरिटेज साइट सूची में शामिल इस किले को मरम्मत के बाद पिछले साल जुलाई में पर्यटकों के लिए खोला गया. सीबेनिक में इस तरह के चार किले हैं. लेकिन सेंट निकोलस ही समुद्र में स्थित है. 1540 से 1547 के बीच बने …

Read More »

500 सालों में अनेक बार निर्माण के बाद पूरा हुआ पुर्तगाल का यह चर्च अब वर्ल्ड हैरिटेज साइट

यह फोटो पुर्तगाल के ब्रागा शहर के बाहर पहाड़ी पर स्थित बॉम जीसस डो मोंटो (पर्वत के अच्छे ईशु) चर्च का है. इस चर्च तक पहुंचने के लिए 116 मीटर लंबे घुमावदार सीढ़ीदार रास्ते से जाना पड़ता है. इस चर्च को पांच सौ सालों के दौरान अलग-अलग समय में कई बार बनाया गया, तब जाकर यह मौजूदा स्वरूप में आया …

Read More »

सैन्य जेल रहा अमेरिका का अलकेट्राज द्वीप अब है पर्यटक स्थल, समुद्री पक्षियों की कॉलोनी भी है यहां

यह फोटो अमेरिका के सेन फ्रांसिस्को की खाड़ी में स्थित अलकेट्राज द्वीप का है. 22 एकड़ में फैले इस द्वीप को एक लाइटहाउस व सैन्य जेल के रूप में विकसित किया गया था. इस द्वीप के चारों ओर पानी की लहरें तेज रहती हैं, इसलिए यहां से कैदियों के भागने का खतरा कम था. अब यह एक पर्यटक स्थल के …

Read More »

मांडू में पर्यटकों को लुभाएंगी तितलियां, एक करोड़ 80 लाख रुपए से बनेगा जमुनादेवी तितली पार्क

भोपाल. मध्य प्रदेश के धार जिले के पर्यटन स्थल मांडू (मांडवगढ़) को बाज बहादुर और रानी रूपमती की प्रेम कहानी के लिए जाना जाता है और इसी के चलते पर्यटक यहां खिंचे चले आते हैं, मगर आने वाले दिनों में यहां का तितली पार्क भी पर्यटकों के आकर्षण का नया केंद्र बन जाएगा. राज्य का वन विभाग सुप्रसिद्ध पर्यटन स्थल …

Read More »

1500 साल पुराना है चीन का हैंगिंग मंदिर, 75 मीटर की ऊंचाई पर लकड़ी के खंभों पर टिका है यह

यह फोटो चीन के शांक्सी प्रांत में स्थित हैंगिंग टेंपल या शुआनकांेग मंदिर का है. हेंग पर्वत पर जमीन से 75 मीटर की ऊंचाई पर बना यह मंदिर 1500 साल से अधिक पुराना है. यह मंदिर ओक की लकड़ी के खंभों पर टिका हुआ है. हालांकि, अनुमान है कि मंदिर के वजन को सहन करने वाला एक हिस्सा पहाड़ी के …

Read More »

हिटलर को 50वें जन्मदिन पर उपहार के रूप में दिया था 3000 फीट की ऊंचाई पर बना ईगल नेस्ट बंगला

  यह फोटो जर्मनी के बर्चसगैडन में 3000 फीट की ऊंचाई पर स्थित हिटलर के ईगल नेस्ट बंगले का है. अगर मौसम साफ हो तो यहां से कई मील तक देखा जा सकता है. हिटलर के 50वें जन्मदिन पर उपहार देने के लिए इसे बनाया गया था. यहां तक सड़क बनाने के लिए तीन हजार श्रमिकों ने दिन-रात काम किया …

Read More »

इंडोनेशिया के डायविंग के लिए प्रसिद्ध राजा अम्पत रीजेंसी में हैं 1500 द्वीप, सिर्फ चार पर ही रहते हैं लोग

यह फोटो इंडोनेशिया के द्वीप समूह राजा अम्पत रीजेंसी का है. यहां पर कुल 1500 द्वीप हैं, जिनमें चार द्वीप वैजिओ, मिसूल, सालावाती और बतांता बड़े हैं और इन पर ही लोग रहते हैं. इन चारों द्वीपों की वजह से इस पूरे समूह को राजा अम्पत यानी चार राजा कहते हैं. यहां पर पक्षियों व जल जंतुओं की अनेक प्रजातियां …

Read More »

डेनमार्क के कालबायरिस फाॅरेस्ट के इस चित्र ने शौकिया फोटोग्राफर माइकल को रातोंरात बना दिया था स्टार

यह फोटो डेनमार्क के कालबायरिस फाॅरेस्ट का है. फोटोग्राफर माइकल रासमुस्सेन द्वारा खींचे गए इस फोटो ने उन्हें रातोंरात स्टार बना दिया था. माइकल खुद को शौकिया फोटोग्राफर ही कहते हैं, हालांकि वह करीब 20 सालों से फोटो खींच रहे हैं. ड्रोन से खींचे गए इस फोटो में देवदार के पेड़ों की चोटियों से अधिकांश बर्फ हवा या अन्य वजहों …

Read More »

29.5 मीटर गहरी है स्लोवेनिया की ब्लेड झील चार बार विश्व नौकायन चैंपियनशिप हो चुकी है यहां

यह फोटो स्लोवेनिया में स्थित ब्लेड झील का है. इस झील की लंबाई 2120 मीटर और चौड़ाई 1380 मीटर है. इस झील को जमीन के नीचे से तथा ग्लेशियर के पिघलने से पानी मिलता है. झील की अधिकतम गहराई 29.5 मीटर है. इस झील में 1966, 1979, 1989 व 2011 में विश्व नौकायन चैंपियनशिप हो चुकी है. झील से लगे …

Read More »

खजुराहो लिट फेस्ट 2020 की शुरुआत 18 जनवरी से

खजुराहो. मिंट बुंदेला रिजॉर्ट खजुराहो 18 से 20 जनवरी तक चलने वाले तीन-दिवसीय खजुराहो साहित्व उत्सव (केएलएफ-2020) के दूसरे संस्करण की मेजबानी करने के लिए तैयार है. लोक नीति संस्था के बैनर तले आयोजित हो रहे इस साहित्य उत्सव में देश के विभिन्न भागों से चर्चित लेखकों, पत्रकारों, वक्ताओं और विद्वानों को भारत की सांस्कृतिक व साहित्यिक समृद्धि पर चर्चा …

Read More »

रोमनकाल से ही प्रमुख सैरगाह रहा है इटली का कैपरी, इसके नाम पर ही है दुनिया में मशहूर पैंट

यह फोटो इटली के नेपल्स की खाड़ी में स्थित कैपरी द्वीप के मरीना ग्रेनेड बीच का है. राेमन साम्राज्य के समय से ही यह द्वीप प्रमुख सैरगाह रहा है. यहां पर फैरी या हायड्रोफॉइल (एक तरह की मोटरबोट) से आया जा सकता है. नेपल्स से फैरी को यहां आने में 80 मिनट और हायड्रोफॉइल को सिर्फ 40 मिनट का समय …

Read More »

राकृतिक सौन्दर्य की अद्दभुत छटां है खैवा-जल प्रपात

चतरा . चतरा जिला के खैवा-जल प्रपात में प्राकृतिक सौन्दर्य का अद्भूत छंटा है. नदी की कल-कल बहती धार व पत्थरों की अद्भूत खुबसूरती इंसान को अपनी ओर बर्बर खींच लाता है. लेकिन मुलभूत सुविधाओं के नहीं होने के कारण आज भी यह मनोरम स्थल पर्यटकों से अनछूआ है. हालांकि नव वर्ष एवं मकर संक्रांति के अवसर पर स्थानीय लोग …

Read More »

विश्व में 7100 चीते, अच्छी खबर- इनकी संख्या बढ़ रही है

यह फोटो केन्या के सबसे बड़े मसाई मारा नेशनल पार्क में अपनी मां को दुलारते चीते के बच्चे का है. दुनिया में इस समय सिर्फ 7100 ही चीते बचे हैं. हालांकि, हाल के वर्षों में चीतों की संख्या में कुछ बढ़ोतरी हुई है. मसाई मारा में करीब 300 चीते हैं. इस पार्क में चीते के अलावा शेर, तेंदुआ, हाथी और …

Read More »

साइबेरियन प्रवासी पक्षियों के आने से पर्यटकों में खुशी

गिरिडीह . गिरिडीह जिले के खंडौली डैम में एक बार फिर प्रवासी पक्षियों के आने से पर्यटकों का चेहरा खिलखिला गया है. साइबेरिया से पंक्षियों के आने से खंडौली गुलजार हो गया है. खंडौली डैम के रख रखाव कर रहे संचालक प्रमोद कुमार कहते हैं कि साइवेरिया में जब ठंड पड़ती हैं तो वहां से प्रवासी पक्षी वर्षो से यंहा …

Read More »

पेरू-बोलीविया सीमा पर टिटीकाका झील में उरु जनजातियों ने बेंत से बनाएं हैं 120 से अधिक तैरते द्वीप

यह फोटो पेरू और बोलीविया की सीमा पर स्थित टिटीकाका झील में स्थित तैरते द्वीप का है. यहां पर उरु जनजातियों द्वारा सूखी बेंत से बनाए गए 120 से अधिक तैरते द्वीप हैं. इन जनजातियों ने किनारों से मिट्‌टी लाकर इन तैरते घरों को खेती के योग्य भी बना दिया है. टिटीकाका दुनिया की सबसे ऊंची नाव खेने लायक झील …

Read More »

नागरिकता कानून पर हिंसा का असर, दो लाख लोगों ने रद्द किया ताजमहल का प्लान

नई दिल्ली . देश में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में हुई हिंसा का जबरदस्त असर पर्यटन उद्योग को भी उठाना पड़ा है. देश में देश में सबसे ज्यादा विदेशी पर्यटक आकर्षित करने के लिए मशहूर ताजमहल से लेकर पूर्वोत्तर राज्यों के हसीन पर्यटन स्थलों पर घूमने के लिए आने वाले पर्यटकों ने बड़े पैमाने पर आखिरी पलों में अपनी …

Read More »

अष्ट भुजाकार तारे के आधार पर बनी है कजाखस्तान की सबसे बड़ी मश्खुर जुसुप मस्जिद

यह फोटो कजाखस्तान की सबसे बड़ी मश्खुर जुसुप मस्जिद का है. इस मस्जिद में 1500 लोग एक साथ नमाज पढ़ सकते हैं. इस मस्जिद का नाम कजाख कवि और इतिहासकार मश्खुर जुसुप के नाम पर रखा गया है. इस मस्जिद का आधार 48 मीटर व्यास वाले अष्ट भुजाकार तारे की तरह है. इसकी मीनारों की ऊंचाई 63 मीटर है. इसका …

Read More »

लेकसिटी का सज्जनगढ़ बन चुका नया टूरिस्ट डेस्टीनेशन

उदयपुर. प्रदेश के आयोजना, सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार तथा सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग के सचिव एवं जिला प्रभारी सचिव अभय कुमार ने अपने उदयपुर प्रवास के दौरान गुरुवार को सज्जनगढ़ स्थित बॉयोलॉजिकल पार्क एवं मानसून पैलेस का अवलोकन किया. पार्क अवलोकन के दौरान उन्होंने वहां पर वन्यजीवों के लिए बनाए गए विविध बाड़ों और पर्यटकों के भ्रमण के लिए मुहैया …

Read More »

12 मार्च तक चलेगा कच्छ रणोत्सव

अहमदाबाद . इस साल कच्छ में भारी बारिश होने से सफेद रेगिस्तान में पानी भर जाने का असर कच्छ रणोत्सव पर हुआ. सफेद रेगिस्तान में अब पानी सूखने के बाद कच्छ रणोत्सव की रंगत धीरे धीरे बढ़ने लगी है. क्रिसमस और नए साल 2020 के आगमन पर देश-विदेश के सैलानियों ने टैंट सिटी के अलावा भुज तहसील के भीरंडिया से …

Read More »

17 मंजिल का है थाईलैंड का गोलाकार बौद्ध मंदिर, इस पर लिपटे ड्रैगन के भीतर लगी हैं सीढ़ियां

यह फोटो थाईलैंड के नखोन पथोम प्रांत में स्थित वाट सैमफ्रान बौद्ध मंदिर का है. बैंकॉक से 40 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यह पूजास्थल 17 मंजिल के गोलाकार मंदिर व उस पर लिपटे लाल और हरे रंग के ड्रैगन के लिए जाना जाता है. असल मेंं इस ड्रैगन के भीतर सीढ़ियां लगी हैं. यहां पर भगवान बुद्ध की विशाल …

Read More »

हांगकांग, झुहाई व मकाऊ को जोड़ता है सबसे लंबा समुद्री क्रॉसिंग, चार कृत्रिम द्वीप भी हैं इस पर

यह फोटो चीन के एचजेडएम (हांगकांग-झुहाई-मकाऊ) पुल का है. 55 मीटर लंबा यह पुल व सुरंग मार्ग दुनिया का सबसे लंबा समुद्री क्रॉसिंग है. इस क्रॉसिंग पर तीन केबल पुल, एक समुद्र के नीचे भूमिगत सुरंग और चार कृत्रिम द्वीप हैं. यह पर्ल नदी के डेल्टा में स्थित हांगकांग, झुहाई और मकाऊ को जोड़ता है. इस ब्रिज को 120 साल …

Read More »

वियतनाम में 200 सालों से बन रही हैं मछली पकड़ने के लिए खास टोकरियां

यह फोटो वियतनाम में मछली पकड़ने के लिए इस्तेमाल होने वाली खास टाेकरियों का है. इन टोकरियों का इस्तेमाल उथले पानी में मछली पकड़ने के लिए किया जाता है. राजधानी हनोई से 60 किलोमीटर की दूरी पर स्थित थूसे गांव में तो पिछले करीब दो सौ सालों से इस तरह की टाेकरियां बनाने का काम हो रहा है. इन टोकरियों …

Read More »