Thursday , 20 June 2019
Breaking News

TRAVEL

अब म्यूजियम बन गया है 750 साल पुराना नॉर्वे का बोरगंड चर्च, अमेरिका व जर्मनी में बनी हैं इसकी नकल

  यह फोटो नॉर्वे के बोरगुंड चर्च का है. लकड़ी का बना यह चर्च करीब 750 साल पुराना है. सरकार ने अब इस चर्च को संग्रहालय में बदल दिया है. इस चर्च की खासियत इसका डिजाइन है. इसे क्यूब के भीतर क्यूब कहा जा सकता है. इसके भीतरी क्यूब उन खंभों से बने हैं, जो जमीन से लेकर छत तक ... Read More »

रहस्यमय है लाओस का प्लेन ऑफ जार, पत्थर से बने इन जारों का अस्थिकलश के रूप में होता था इस्तेमाल

यह फोटो लाओस के प्लेन ऑफ जार (जार का मैदान) का है. यहां पर सैकड़ों की संख्या में पत्थर के बने जार मौजूद हैं, जिनकी ऊंचाई एक से तीन मीटर तक है. ये जार ईसा पूर्व 500 से लेकर 500 ईस्वी के बीच बनाए गए हैं. इन जार को बनाने की ठाेस वजह आज भी रहस्य है, लेकिन विभिन्न वैज्ञानिक ... Read More »

सतपुड़ा टाइगर रिजर्व के बड़े क्षेत्र में फैले कान्हा के बारहसिंगा

होशंगाबाद, 14 जून (उदयपुर किरण). सतपुड़ा टाइगर रिजर्व में हॉर्ड ग्राउंड प्रजाति के बारहसिंगा को फिर से बसाने की वन्य प्राणी संरक्षण विभाग की कोशिशें रंग ला रही हैं. खुले जंगल में छोड़े जाने के बाद अब ये बारहसिंगा टाइगर रिजर्व के बड़े क्षेत्र में फैल गए हैं. कान्हा नेशनल पार्क में पाए जाने वाले हॉर्ड ग्राउंड प्रजाति के बारहसिंगा ... Read More »

पांच गांवों से मिलकर बना है इटली का सिंक टेरे, यहां मछुआरों के रंगीन कॉटेज हैं आकर्षण का केंद्र

यह फोटो उत्तर पश्चिम इटली के सिंक टेरे का है. यह इलाका पांच गांवांे को मिलाकर बना है. कई सदियों से इस इलाके में लोग पहाड़ाें को काटकर रह रहे हैं. 11वीं सदी के दस्तावेजों में भी सिंक टेरे का उल्लेख है. तुर्कों के हमलों से बचने के लिए 16वीं सदी में यहां के लाेगों ने किलों और सुरक्षा टॉवरों ... Read More »

200 मी. ऊंची चट्‌टान पर है श्रीलंका का सिंहगिरि किला, 1400 साल पहले राजा कश्यप ने बनाया था इसे

यह फोटो श्रीलंका की सिंहगिरि (सिगिरिया) चट्‌टान पर बने किले का है. 200 मीटर ऊंची यह चट्‌टान दांबुला शहर के पास स्थित मताले में है. इस जगह का चयन राजा कश्ययप (477 से 495 ईस्वी) ने अपनी राजधानी बनाने के लिए किया था. उन्होंने इस चट्‌टान के ऊपर अपना महल बनाया और उसके चारों ओर रंगीन पत्थरों की दीवारों का ... Read More »

एनसीआर का जिम कार्बेट हैं गाजियाबाद का सिटी फोरेस्ट

गाजियाबाद, 11 जून (उदयपुर किरण). यदि आप दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में रहते हैं और गर्मियों की छुट्टियों में देहरादून के जिम कार्बेट पार्क या किसी अन्य पर्यटन स्थल पर जाने की योजना बना रहे हैं तो थोड़ा जरा सोच लें. कारण गाजियाबाद विकास प्राधिकरण (जीडीए) ने हिंडन नदी के तट पर लगभग 175 एकड़ भूमि को विकसित कर उस पर जिम कार्बेट ... Read More »

ताओ मंदिर और मठों का घर है चीन का वुडांग पर्वत, मार्शल आर्ट ताई ची का बड़ा केंद्र

यह फोटो चीन के वुडांग पर्वत का है. यह हुबेई प्रांत में पहाड़ों की छोटी सी शृंखला है. यहां पर भगवान शुवानवू से जुड़े ताओ मंदिर और मठ स्थित हैं. वुडांग पर्वत प्रसिद्ध मार्शल आर्ट ताई ची के लिए भी जाना जाता है. इसके अलावा यह ताओवाद का भी प्रमुख केंद्र है. यहां पर पूजा के लिए सबसे पहले पांच ... Read More »

चीन के युन्नान की ब्लू मून वैली की झीलें हैं खास, इस प्रांत में 2700 स्थानों पर पाए जाते हैं 86 तरह के खनिज

यह फोटो चीन के युन्नान प्रांत में स्थित ब्लू मून वैली का है. यहां पर बहने वाली बाईशुई नदी को जेड ड्रैगन माउंटेन पर स्थित बर्फ के पिघलने से पानी मिलता है. यहां पर स्थित झीलों से बहते झरने इसे खास बनाते हैं. जब इस घाटी को कुछ दूरी से देखते हैं तो ऐसा लगता है मानो पहाड़ों की तलहटी ... Read More »

प्रतिभाओं की तलाश के लिए पहाड़ों के बीच बनाया फुटबॉल मैदान, UAE से लग्जरी कारों में लाया गया सामान 

यह फोटो ओमान की मशहूर अल-हज़र पहाड़ियों के बीच स्थित जबाल शम्स इलाके के एक गांव बिलाल सैयत में बनाए गए फुटबॉल मैदान की है. खास बात यह है कि खाड़ी देशों में फुटबॉल प्रतिभाओं की तलाश के लिए एक अभियान के तहत इस जगह को मैदान बनाने के लिए चुना गया था. इसकी वजह यह है कि इस इलाके ... Read More »

फ्रांस: 7 हेक्टेयर में फैला मोंट सेंट माइकल चर्च विश्व धरोहर है, अमावस्या पर उठती हैं 15 मीटर ऊंची लहरें 

यह फोटो फ्रांस के नॉरमंडी प्रांत में टापू पर स्थित मोंट सेंट माइकल चर्च का है. सात हेक्टेयर में फैला मोंट सेंट माइकल चर्च यूनेस्को की विश्व धरोहर में शामिल है. 13वीं सदी में निर्मित यह चर्च शिल्पकला का अद्‌भुत नमूना है. इस टापू की खोज 708 ईस्वी में एक बिशप औबर्ट ऑफ एवरांचेज ने की थी. उन्होंने यहां चर्च ... Read More »

विश्व प्रसिद्ध फूलों की घाटी पर्यटकों के दीदार के लिए खुली

गोपेश्वर 01 जून (उदयपुर किरण). विश्व प्रसिद्ध फूलों की घाटी शनिवार को पर्यटकों के लिए खोल दी गई है. इस मौके पर उप वन संरक्षक के चंद और साथ ही आरओ बृजमोहन भारती मौजूद थे. विश्व की प्रसिद्ध फूलों की घाटी चमोली जिले के जोशीमठ ब्लॉक में समुद्रतल से 3650 मीटर पर स्थित है. घाटी की खोज इंग्लैंड के प्रसिद्ध पर्वतारोही ... Read More »

शिमला में पर्यटकों की बहार, होटल हुए पैक

शिमला, 01 जून (उदयपुर किरण). राजधानी शिमला का पर्यटन उद्योग इन दिनों पूरे शबाब पर है. देश के मैदानी इलाकों में पड़ रही भीषण गर्मी के कारण भारी तादाद में सैलानी शिमला का रुख कर रहे हैं. होटल कारोबारियों के मुताबिक इस वीक एन्ड पर राजधानी के 90 फीसदी होटल बुक हैं.  यहां के प्रमुख स्थल माल रोड और रिज ... Read More »

नेपोलियन के खिलाफ राष्ट्रवादी आंदोलन का प्रतीक है हीडलबर्ग कैसल, कई बार नष्ट हुए महल पर दो बार गिरी बिजली

यह फोटो जर्मनी के हीडलबर्ग कैसल का है. 1214 से पूर्व पहली बार बना यह कैसल युद्धों की वजह से कई बार बना और नष्ट हुआ. इस कैसल को जर्मनी में नेपोलियन के खिलाफ राष्ट्रवादी अांदोलन का प्रतीक माना जाता है. इसको सर्वाधिक नुकसान 17वीं और 18वीं सदी में हुआ. 1892 से 1900 में इस कैसल का आखिरी बार पुनर्निर्माण ... Read More »

स्टीवंस क्लिंट, जहां साढ़े छह करोड़ साल पहले उल्का पिंड टकराने से खत्म हो गया था पृथ्वी पर 50 फीसदी जीवन

यह फोटो डेनमार्क के स्टीवंस क्लिंट का है. फॉसिल (जीवाश्म) की अधिकता वाली चॉक से बनी 15 किलोमीटर लंबी यह तटीय पहाड़ी साढ़े छह करोड़ साल पहले चिक्सुलब उल्का पिंड के पृथ्वी से टकराने का प्रमाण है. शोधकर्ताओं का मानना है कि इस उल्का पिंड के टकराने से उस समय पृथ्वी पर मौजूद 50 फीसदी जीवन समाप्त हो गया था. ... Read More »

झरने वाली 16 झीलें एक-दूसरे से जुड़ी हैं क्रोएशिया के प्लिटवाइस राष्ट्रीय उद्यान में, भूरा भालू भी पाया जाता है यहां

यह फोटो क्रोएशिया के प्लिटवाइस लेक राष्ट्रीय उद्यान का है. 300 वर्ग किलोमीटर में फैला यह उद्यान बोस्निया व हर्जेगोविना की सीमा पर स्थित है. इसे 40 साल पहले वर्ल्ड हेरिटेज साइट घोषित किया गया था. यहां पर हर साल 10 लाख से अधिक पर्यटक आते हैं. इस पार्क को यहां मौजूद झरने वाली झीलों के लिए जाना जाता है. ... Read More »

137 सालों से बन रहा सग्रादा फैमिलिया चर्च आज भी है अधूरा, इसका निर्माण 2026 तक पूरा होने की उम्मीद 

यह फोटो स्पेन के बार्सिलोना शहर के सग्रादा फैमिलिया चर्च का है. प्रख्यात आर्कीटेक्ट एंटोनी गाउडी द्वारा डिजायन किया गया यह चर्च 137 साल से बन रहा है और अभी अधूरा है. इस चर्च के सात साल बाद 2026 में पूरा होने की उम्मीद है. इस चर्च का निर्माण 1882 में आर्कीटेक्ट फ्रांसिसको डी पॉला डेल विलर ने शुरू किया, ... Read More »

सौ मीटर गहरी खाई के आरपार बसे पाषाण युग की जगह रोंडा को जूलियस सीजर ने शहर बनाया

यह लॉर्ड ऑफ द रिंग्स के पन्नों से निकाला कोई दृश्य नहीं बल्कि स्पेन के रोंडा शहर का नज़ारा है, जो एल-तेजो नाम की 100 मीटर गहरी खाई के आर-पार बसा है. चित्र में दिख रहा 18वीं सदी में बना पुएंते न्यूएवो यानी नया पुल है, जो पुराने व नए शहर को बांटता है. नवपाषाण कालीन इस जगह को जूलियस ... Read More »

620 करोड़ से बने गुगेनहाइम म्यूजियम ने तीन साल में ही बदल दी खस्ताहाल हो चुके बास्क शहर की किस्मत

यह स्पेन की बास्क कंट्री के बिलबाओ में बने गुगेनहाइम म्यूजियम की इमारत है, जिसे कनाडा-अमेरिका के आर्किटेक्ट फ्रेंक जेराय ने डिज़ाइन किया है. अक्टूबर 1997 में 620 करोड़ रुपए की लागत से बने इस म्यूजियम को देखने पहले तीन साल में ही 40 लाख लोग आए जिससे 400 करोड़ रुपए का फायदा हुआ और 80 करोड़ रुपए टैक्स में ... Read More »

2500 वर्ग मीटर में फैला है इंडोनेशिया का बोरोबुदुर बौद्ध मंदिर, इस विश्व विरासत में हैं 504 बुद्ध प्रतिमाएं

यह फोटो इंडोनेशिया के मध्य जावा में स्थित बोरोबुदुर बौद्ध मंदिर का है. यह दुनिया का सबसे बड़ा बौद्ध मंदिर है और 2500 वर्ग मीटर में फैला हुआ है. इसमें 2,672 उकेरे हुए चित्रों के पेनल हैं और 504 बुद्ध प्रतिमाएं. पूरा मंदिर एक के ऊपर एक नौ मंचों से बना है, जिनमें से छह चौकोर और तीन गोल हैं. ... Read More »

चीन का रेड बीच दुनिया का सबसे बड़ा दलदली क्षेत्र, यहां होती है लाल कलगी वाले सारस व काले मुंह वाली सीबर्ड की ब्रीडिंग

यह फोटो चीन के पंजिन में स्थित रेड बीच की है. दुनिया के सबसे बड़े दलदली क्षेत्र में शामिल यह इलाका लाल रंग के पौधे सोएदा सालसा के लिए जाना जाता है. सोएदा कुछ गिनेचुने पौधों में शामिल है, जो क्षारीय इलाके में उगते हैं. यहां पर 260 तरह के पक्षी और 399 प्रकार के जंगली जानवर भी रहते हैं. ... Read More »

अमेरिका की सबसे पुरानी जनजाति रहती है ताओस पेब्लो में, 1000 साल पुराने घरों में आज भी नहीं होता बिजली का इस्तेमाल

  यह फोटो अमेरिका के न्यू मेक्सिको में स्थित ताओस पेब्लो का है. यहां पर बने ये बहुमंजिला घर पेब्लो जनजाति के लोगों के हैं. करीब 1000 साल पहले बने इन घरों में 2600 पेब्लो आज भी रहते हैं. पेब्लो को अमेरिका में रह रही सबसे पुरानी जनजाति माना जाता है. इनके ये घर मिट्‌टी, घास और पत्थर के बने ... Read More »

पिरिन नेशनल पार्क की 118 झीलों में सबसे बड़ी है पोपोवो लेक, यहां पर ही है 1300 साल पुराना बैकुशेव देवदार

यह फोटो बुल्गारिया के पिरिन नेशनल पार्क की पोपोवो लेक का है. 403 वर्ग किलोमीटर में फैले इस पार्क में 118 झीलें हैं. इनमें सबसे बड़ी पोपोवो है. यहां पर कई छोटे-छोटे ग्लेशियर भी हैं. इस पार्क के 57 फीसदी हिस्से में जंगल है, जिसकी औसत आयु 85 साल है. यहां पर 1300 साल पुराना देवदार का पेड़ भी है, ... Read More »

पुरातत्व विभाग की उपेक्षा से खत्म होता जा रहा मिनी खजुराहो का अस्तित्व

-18वीं शताब्दी में मराठा शासक विनायकराव पेशवा ने कराया था गणेश बाग का निर्माण  -खजाने की तलाश में हुई खुदाई से क्षतिग्रस्त हुई बेशकीमती मूर्तियां चित्रकूट,09मई (उदयपुर किरण). बेजोड़ वास्तुकला की वजह से देश भर में मिनी खजुराहो के नाम से विख्यात भगवान श्रीराम की तपोभूमि चित्रकूट में मराठा शासक बाजीराव पेशवा के वंशज विनायक राव पेशवा द्वारा बनवाया गया ... Read More »

नियाग्रा फॉल से दोगुना ऊंचा है अर्जेंटीना व ब्राजील की सीमा पर स्थित इग्वासू फाॅल, यहां पर 2.7 किमी में हैं 275 झरने 

यह फोटो अर्जेंटीना व ब्राजील की सीमा पर स्थित इग्वासू फाॅल (जलप्रपात) का है. यहां पर 2.7 किलोमीटर लंबे रिम पर 275 वाटर फॉल हैं. इनकी ऊंचाई 200 फीट से 269 फीट तक है. ये नियाग्रा जल प्रपात से दोगुने ऊंचे हैं. यह जल प्रपात इतने बड़े हैं कि इनसे प्रति सेकंड 1500 क्यूबिक मीटर पानी गिरता है. इस जलप्रपात ... Read More »

यूरोप में सर्वाधिक प्रतिव्यक्ति जीडीपी वाला शहर साल्जबर्ग, यहां महान संगीतकार माेजार्ट का जन्म हुआ था

यह फोटो ऑस्ट्रिया के चौथे सबसे बड़े शहर साल्जबर्ग का है. यह शहर इटली के बरोक आर्कीटेक्चर के लिए जाना जाता है. यहां पर इस आर्कीटेक्चर से बने 27 चर्च हैं. तीन विश्वविद्यालयों वाला यह शहर 1996 में यूनेस्को की विश्व धरोहर सूची मंे शामिल हुआ था. यह शहर 18वीं सदी के महान संगीतकार डब्ल्यू.ए. मोजार्ट की जन्मस्थली भी है. ... Read More »

फ्रांसीसी सेना ने 1936 में बनाया था मोरक्को का माउंटेन पास, दुनिया की खतरनाक सड़कों में है शामिल 

यह फोटो मोरक्को के माउंटेन पास तिजी एन तिक्का का है. एटलस की ऊंची पहाड़ियों पर स्थित यह पास दुनिया की सबसे खतरनाक सड़कों में शामिल है. इसे सहारा रेगिस्तान का गेटवे भी कहा जाता है. इस सड़क को 1936 में फ्रांस की सेना ने बनाया था. अब लुप्त हो चुके बरबरी शेर को 1942 में यहां पर ही देखा ... Read More »

डाकुओं से बचने के लिए बनाए गए थे चीन के फ्यूजीआन तुलोउ, मिट्‌टी-पत्थर से बने इन घरों में रह सकते हैं 800 लोग

यह फोटो चीन के फ्यूजीआन तुलोउ की है. यहां पर इस तरह के 46 भवन हैं. 14वीं से 19वीं शताब्दी के मध्य तक इन भवनों का निर्माण हुआ. ये गोलाकार और चौकोर भवन मिट्‌टी और पत्थर के बने हुए हैं. इन सामुदायिक भवनों को डाकुओं से बचने के लिए बनाया गया था. तुलोउ का अर्थ होता है मिट्‌टी का घर. ... Read More »

झांगजियाजी के नेशनल फॉरेस्ट पार्क में कांच के पुल पर ड्राइवर लेस बस सेवा शुरू 

बीजिंग. चीन के हुनान प्रांत में झांगजियाजी के नेशनल फॉरेस्ट पार्क में दो चट्‌टानों के बीच बने कांच के पुल पर सेल्फ-ड्राइविंग बस सेवा शुरू की गई है. इस बस में एक बार में अधिकतम 25 लोग बैठ सकते हैं. यह 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल सकती है. यहां आने वाले सैलानी पुल पर खड़े होकर ग्रैंड ... Read More »

दम तोड़ चुके तीरथगढ़ जलप्रपात में दिखा बेमौसमी वर्षा का असर

जगदलपुर, 25 अप्रैल (उदयपुर किरण). बस्तर अंचल में पिछले दो सप्ताह से मौसम में जो बदलाव आया है, उससे हवा-आंधी, के साथ वर्षा भी हो रही है. इस बेमौसमी वर्षा के असर से गत माह ही पानी – विहीन होकर दम तोड़ चुके कांगेर घाटी के मनोरम तीरथगढ़ जलप्रपात में अभी थोड़ा सा पानी गिरता हुआ दिखाई पड़ रहा है, ... Read More »

सफेद पत्थर से बना है तातारस्तान का कजान क्रेमलिन, 76 इंच झुकी है यहां मौजूद सबसे ऊंची सोयंबिका मीनार

यह फोटो रूस के तातारस्तान गणराज्य में स्थित कजान क्रेमलिन का है. मास्को में स्थित क्रेमलिन लाल ईंटों से बना है, जबकि इसे बनाने में सफेद पत्थर का इस्तेमाल किया गया है. कजान क्रेमलिन को 16वीं शताब्दी में इवान द टेरेबल ने कजान खान के महल की जगह पर बनवाया था. यहां पर बने भवन निर्माण कला के अनोखे नमूने ... Read More »

सहारा रेगिस्तान की ऑनिआंगा झीलों को खास तरह के सिस्टम से मिलता है पानी, 18 झीलों में तेली सबसे बड़ी

यह फोटो सहारा रेगिस्तान में स्थित ऑनिआंगा झीलों का है. यहां पर 42 किलोमीटर के दायरे में ऐसी कुल 18 झीलें हैं. जिनमें कुछ खारे पानी की और कुछ मीठे पानी की हैं. ये झीलें आपस में जुड़ी हुई हैं. इस इलाके में न केवल भारी गरमी होती है बल्कि यहां पर साल में सिर्फ दो मिलीमीटर ही बारिश होती ... Read More »

चार सौ साल तक झाड़ियों में घिरा रहा दुनिया का सबसे बड़ा बौद्ध मंदिर, इसे बनाने में लगे थे 75 साल 

यह फोटो इंडोनेशिया के जावा में स्थित बाराबुदूर महायान बौद्ध मंदिर का है. यह दुनिया का सबसे बड़ा बौद्ध मंदिर है. इस मंदिर में नौ खड़े, छह वर्गाकार और तीन गोल प्लेटफार्म हैं. इसके सबसे ऊपर गोल गुंबद है. इसे 2672 नक्काशीदार फलक और 504 बुद्ध की मूर्तियों से सजाया गया है. इस मंदिर को नौवीं शताब्दी में बनाया गया ... Read More »

19 द्वीपों की शृंखला गालापगोस है सी लॉयन व विशाल कछुओं का घर, डार्विन सिद्धांत के लिए यहीं से मिली थी प्रेरणा

यह फोटो इक्वाडोर के गालापगोस आईलैंड समूह का है. यहां पर 19 बड़े द्वीप व कई छोटे-छोटे द्वीपों की शृंखला है, जाे 45,000 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैली है. यहां पर सी लॉयन और विशाल कछुओं समेत समुद्री जीवों की अनेक प्रजातियां भी पाई जाती हैं. 1831 में अपनी यात्रा के दौरान चार्ल्स डार्विन इस क्षेत्र में आए थे और ... Read More »

जमीन के 300 मीटर नीचे स्थित है मेक्सिको की जायंट क्रिस्टल केव, यहां मिल चुका है 550 क्विंटल का क्रिस्टल 

यह फोटो मेक्सिको के जायंट क्रिस्टल केव की है. यह गुफा जमीन से 300 मीटर नीचे है. इसके मुख्य चेंबर में सेलेनाइट के बड़े-बड़े प्राकृतिक क्रिस्टल मौजूद हैं. यहां पर मिला अब तक का सबसे बड़ा क्रिस्टल 12 मीटर लंबा और चार मीटर चौड़ा है. इसका वजन 550 क्विंटल है. इस गुफा का तापमान 58 डिग्री सेल्सियस रहता है और ... Read More »

पर्यटकों के लिए अस्थायी तौर पर बंद होगा कोमोडो द्वीप 

पिछले दिनों छिपकली की खाल के तस्करों की गिरफ्तारी के बाद इंडोनेशिया के प्रसिद्ध कोमाडो द्वीप को अगले साल जनवरी से अस्थायी तौर पर पर्यटकों के लिए बंद करने का फैसला किया गया है. यह द्वीप कोमोडो ड्रैगन का घर माना जाता है. इंडोनेशिया के टेंपो अखबार के मुताबिक सरकार ने इसे बंद करने की तिथि तो तय कर दी ... Read More »

ब्रिटिश उपनिवेश सेंट हेलेना द्वीप, यहां पर ही अंग्रेजों की कैद में हुई थी नेपोलियन की मौत 

यह फोटो दक्षिणी अटलांटिक महासागर में स्थित सेंट हेलेना द्वीप का है. यह द्वीप नामीबिया और अंगोला की सीमा पर स्थित है. यह अब भी ब्रिटिश उपनिवेश है. 16 किलोमीटर लंबाई और आठ किलोमीटर चौड़ाई वाले इस द्वीप को 1502 में पुर्तगालियों ने खोजा था. यह द्वीप एशिया और अफ्रीका से यूरोप जाने वाले जहाजों का प्रमुख स्टॉप है. वाटरलू ... Read More »

फ्रांस का आइडल पैलेस, जिसे एक पोस्टमैन ने सड़क से पत्थर जमा करके 33 साल में तैयार किया

यह फोटो दक्षिण-पूर्वी फ्रांस के हॉटरिव्स में स्थित आइडल पैलेस का है. इस पैलेस को फ्रांस के एक पोस्टमैन फर्डीनैंड चेवल ने सड़क पर पड़े पत्थरों को जमा करके बनाया. इस पैलेस को नैव आर्ट (वह कला जिसे किसी ने सिखाया न हो) का बेहतरीन नमूना माना जाता है. चेवल ने अपने जीवन के 33 साल इसे बनाने में लगा ... Read More »

इंडोनेशिया का 200 फीट ऊंचा सिकरुटग रेलवे ब्रिज, 2002 में इस पर पटरी से उतर गई थी ट्रेन पर नहीं हुआ नुकसान

यह फोटो इंडोनिशिया के सिकुरुटग ब्रिज का है. 200 फीट ऊंचा यह पुल जकार्ता से पश्चिमी जावा की राजधानी बंडंग को जाने वाले अर्गो गेड रेलमार्ग पर स्थित है. यह मार्ग अत्यंत हरी भरी पहाड़ियों, खेतों व घाटियों से होकर जाता है. इस मार्ग पर यह पुल जहां रोमांच पैदा करता हैं वहीं इसकी गहराई से लोग डरते भी हैं. ... Read More »

देवदार के पेड़ों को बचाने के लिए लोगों ने ट्रस्ट बनाकर खरीद ली पहाड़ी 

स्कॉटलैंड के मैरीलैंस स्थित बेन शील्डडैग नाम की यह पहाड़ी एक प्राइवेट प्रापर्टी थी. 1752 फीट ऊंची इस पहाड़ी पर हिमयुग के समय के देवदार के पेड़ लगे हैं. निजी संपत्ति होने की वजह से इन पेड़ों को कभी भी काटा जा सकता था. इसे लेकर यहां रहने वाले लोग दुखी थे. लोगांे ने इस पहाड़ी व इसकी वन संपदा ... Read More »

क्रोएशिया की डबरोवनिक सिटी, 1991 में सात महीने तक सैनिकों की गोलाबारी में हुआ था भारी नुकसान

यह फोटो क्रोएशिया के डबरोवनिक शहर का है. यह भूमध्य सागर के प्रमुख पर्यटक स्थलों में है. यूगोस्लाविया के दसवीं शताब्दी में बसे इस शहर में 15वीं व 16वीं शताब्दी के दौरान भारी प्रगति की और यह दुनिया के अमीर शहरों में शुमार हो गया. इस शहर की कुल आबादी 42,615 है. 1979 में इसे विश्व धरोहर घोषित किया गया. ... Read More »

10 हजार मंदिर और मठों का शहर बागान, 2200 इमारतें आज भी सलामत 

यह तस्वीर म्यांमार के माण्डले क्षेत्र में स्थित ऐतिहासिक शहर बागान की है. नौंवी से तेरहवीं शताब्दी के बीच यह शहर पगान साम्राज्य की राजधानी था. इसी दौरान यहां करीब 10 हजार बौद्ध मंदिर, पगोड़ा और मठ बनवाए गए थे. ज्यादातर को 1904 से 1975 के बीच आए करीब 400 तीव्र भूकंपों से नष्ट कर दिया, लेकिन इनमें से 2200 ... Read More »

मियामी को की वेस्ट से जोड़ने वाले इस हाईवे पर हैं 42 पुल व 34 द्वीप, सबसे लंबा पुल 11 किमी का

यह फोटो अमेरिका के सबसे दक्षिणी शहर मियामी को आईलैंड सिटी की वेस्ट से जोड़ने वाले हाईवे का है. 260 किलोमीटर लंबे इस हाईवे पर 42 पुल और 34 द्वीप आते हैं. इस पर सबसे लंबा पुल 11 किलोमीटर का है. यह मूल रूप से एक रेलवे लाइन के रूप में बना था, जिसे 1980 में दोबारा बनाया गया. इस ... Read More »

कान के इस बबल पैलेस को बनाने में लगे थे 15 वर्ष, अब 30 साल बाद पियरे कार्डिन इसे 2800 करोड़ में बेचेंगे

यह फोटो फ्रांस के कान में स्थित बबल पैलेस का है. इसे हंगरी के प्रसिद्ध आर्कीटेक्ट अंती लोवग ने डिजाइन किया था. इसे बनाने में 15 साल का समय लगा था. 1200 वर्ग मीटर में फैले इस पैलेस को एक फ्रेंच बिजनेसमैन पियरे बर्नाड ने बनवाया था. 1991 में बर्नाड की मौत के बाद प्रसिद्ध फैशन डिजायनर पियरे कार्डिन ने ... Read More »

7.26 लाख हैक्टेयर में फैला है अर्जेंटीना का लॉस ग्लेशियर नेशनल पार्क, यहां 1500 मीटर की ऊंचाई से शुरू हो जाते हैं ग्लेशियर

यह फोटो अर्जेंटीना के सांता क्रूज प्रांत में स्थित लॉस ग्लेशियर नेशनल पार्क की है. यह अर्जेंटीना का सबसे बड़ा नेशनल पार्क है, जो सात लाख 26 हजार हैक्टेयर में फैला है. अंटार्टिका, ग्रीनलैंड व आइसलैंड के बाद यहां पर दुनिया में सबसे ज्यादा बर्फ पाई जाती है. इसे यूनेस्को ने वर्ल्ड हेरिटेज साइट में शामिल किया है. यहां पर ... Read More »

औपनिवेशिक पहचान मिटा नया नाम रखना चाहता है कुक आइलैंड्स, 17500 की आबादी ने सुझाए 60 नाम 

यह खूबसूरत फोटो कुक आइलैंड्स देश का है, जो न्यूजीलैंड से उत्तर-पूर्व में 3,000 किलोमीटर दूर स्थित है. दरअसल, यह 15 द्वीपों का समूह है, जो 240 वर्गमील में फैला है. छठी शताब्दी में पोलिनेशियाई मूल के लोग यहां से करीब 1200 किलोमीटर दूर स्थित ताहिती द्वीप से आए थे. पेसिफिक ओशन के ओसेनिया में पोलिनेशिया नामक बहुत फैला हुआ ... Read More »

समय के पूर्व शुरू हुआ सिक्किम में वसंत का पर्यटन मौसम

गंगटोक, 02 मार्च (उदयपुर किरण). हिमालय राज्य सिक्किम में वसंत ऋतु का पर्यटन मौसम पंद्रह दिन पहले ही शुरू हो गई. ठंड का प्रकोप अब भी बरकरार है. राज्य के उच्च पहाड़ी इलाकों में हिमपात जारी है. वहीं दूसरी ओर राज्य में पर्यटकों का तांता लगातार बढ़ने लगा है. पिछले दो दिनों से राज्य के उच्च इलाकों में स्थित चर्चित ... Read More »

कांगो से रवांडा तक फैली है अफ्रीका की किवू झील, इसकी तली में है कार्बन डाई ऑक्साइड और मीथेन का भंडार

यह फोटो अफ्रीका की प्रमुख झीलों में शामिल किवू झील का है. यह झील कांगो से लेकर रवांडा तक फैली है. यह झील करीब 90 किलोमीटर लंबी और 50 किलोमीटर चौड़ी है. इसकी अधिकतम गहराई 475 मीटर और औसत गहराई 220 मीटर है. इस झील में पानी के नीचे भारी मात्रा में कार्बन डाई ऑक्साइड और मीथेन का भंडार है. ... Read More »

रुई का महल कहे जातेे हैं तुर्की के गर्म पानी के झरने, 2800 साल पहले यहां मौजूद था ग्रीको-रोमन शहर हिरापोलिस 

यह फोटो दक्षिण-पश्चिम तुर्की के डेनीजली में स्थित गर्म पानी के झरनों का है. इन्हें यहां पर पमुक्काले कहा जाता है, जिसका अर्थ होता है रुई का महल. यहां पर ईसा पूर्व आठ सौ से ईसा बाद पांचवीं सदी के बीच ग्रीको-रोमन शहर हिरापोलिस था. उसमें एक सफेद रंग का महल भी बनाया गया था. यह महल 2700 मीटर लंबा, ... Read More »

फोटोग्राफी… इटली का सासी डी मटेरा, यहां लाेग उन घरों में रहते हैं, जहां नौ हजार साल पहले उनके पुरखों का था निवास

यह फोटो इटली के सासी डी मटेरा का है. यहां आज भी लोग गुफा जैसे घरों में रहते हैं. इस बात के प्रमाण मौजूद हैं कि इटली में पहली मानव बस्ती सात हजार साल पहले यहीं बनी थी. यह इलाका अपने विशेष तरह के लैंडस्केप के लिए भी जाना जाता है. यहां पर घर चूने की चट्‌टानोें में खोदकर बनाए ... Read More »

1724 में बनी आइसलैंड की 300 मीटर चौड़ी क्रेटर झील, अपोलो मिशन के अंतरिक्ष यात्रियों को इस क्षेत्र में दी गई थी ट्रेनिंग

यह फोटो आइसलैंड की क्रेटर झील का है. स्थानीय लोग इन झीलों को विटी झील भी कहते हैं. विटी का अर्थ होता है नरक. पुराने समय में लोगों का मानना था कि नरक ज्वालामुखी के ही भीतर होता है. इस इलाके में इस तरह के कई क्रेटर हैं. यह झील इस इलाके की सबसे बड़ी झीलों में एक है. इसका ... Read More »

रंगीन इमारतों का बंदरगाह शहर वालपरैसो शिक्षा का बड़ा केंद्र भी

यह फोटो चिली के वालपरैसो शहर का है. यह अपनी रंगीन इमारतों की वजह से पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र है. लेकिन, 13 अप्रैल 2014 को यह शहर भीषण आग की चपेट में आ गया था. इस आग से शहर के 2800 भवन जल गए थे और 16 लोगों की मौत हो गई थी. लेकिन शहर के लोगों ने मिलकर ... Read More »

जीभ जैसा दिखने वाला क्रोएशिया का गोल्डन हॉर्न बीच, 2 किमी. है लंबाई, 2 से 3 साल में बदल जाता है शेप

यह फोटो क्रोएशिया के ब्राक द्वीप व बंदरगाह शहर बोल के मध्य स्थित गोल्डन हॉर्न बीच का है. दो हिस्सों में बंटे इस बीच की कुल लंबाई दो किलोमीटर है. एडरियाटिक समुद्र में स्थित यह बीच दक्षिण की ओर हवार चैनल तक फैला है. यहां पर पानी की गति काफी तेज है और अलग-अलग दिशाओं की ओर बहाव की वजह ... Read More »

ब्राजील का पेंटानल नेशनल पार्क, यहां पर फूल व पौधों की 4500 प्रजातियां

यह चित्र ब्राजील के पेंटानल नेशनल पार्क का है. 2,10,000 वर्ग किलोमीटर में फैला यह पार्क दुनिया का सबसे बड़ा वेटलैंड क्षेत्र है, जो दुनिया के कुल वेटलैंड का तीन फीसदी है. यह वेटलैंड ब्राजील के दो राज्यों माटो ग्रासो द सुल से लेकर माटो ग्रासो तक फैला है. इसकी सीमाएं बोलिविया और पराग्वे को भी छूती हैं. इस वेटलैंड ... Read More »

पांच करोड़ से बने इस क्रेटरनुमा स्काई गार्डन के भीतर नहीं सुनाई देता बाहर का शोर, दुनिया में सिर्फ दो ही हैं ऐसे स्ट्रक्चर

यह चित्र आयरलैंड के सेल्टिक लिस आर्ड स्थित क्रेटरनुमा स्काई गार्डन का है. इसे अमेरिकी लैंडस्केप आर्टिस्ट जेम्स टरेल ने बनाया है. उन्होंने इस तरह के सिर्फ दो ही गार्डन डिजाइन किए हैं. इस गार्डन की लंबाई 50 मीटर और चौड़ाई 25 मीटर है. कटोरेनुमा इस गार्डन के बीच में एक विशाल चट्टान है. पीठ के बल उस पर लेटकर ... Read More »

सर्दी का अंधेरा छंटने का प्रतीक है सांगवांग्सा मंदिर का लालटेन उत्सव

यह चित्र दक्षिण कोरिया के बुसान स्थित सांगवांग्सा मंदिर में आयोजित लालटेन उत्सव का है, जिसकी शुरुआत करीब 2000 साल पहले चीन से हुई थी. यही वह समय था जब चीन में बौद्ध धर्म का विस्तार हो रहा है. पहले सिर्फ राजा या बड़े लाेग ही इस उत्सव को मनाते थे, लेकिन समय के साथ आम लोग भी इसे मनाने ... Read More »

जेनेवा की रोन और आर्वे नदियों का संगम, चमोनिक्स घाटी में ग्लेशियरों के बीच 100 किलोमीटर बहती है आर्वे

यह फोटो स्विट्जरलैंड के जेनेवा में रोन और आर्वे नदी के संगम का है. बायीं तरफ रोन नदी है, जो लेहमन झील से निकल रही है. दायीं ओर आर्वे है, जो चमोनिक्स घाटी में स्थित ग्लेशियरों से होकर बहती है. ऊंचाई से बहने की वजह से इसमें भारी मात्रा में सिल्ट व रेत होती है, जिससे इसका रंग मटमैला नजर ... Read More »

इटली से घिरा सैन मरीनो सबसे छोटे देशों में एक, यह दुनिया का सबसे पुराना लोकतंत्र भी

यह चित्र दुनिया के सबसे छोटे देशों में से एक सैन मरीनो का है. यह चारों तरफ से इटली से घिरा हुआ है, जैसे कि वेटिकन सिटी. यहां पर करीब 30 हजार लोग रहते हैं और इसकी राजधानी सैन मरीनो सिटी है. इसका कुल क्षेत्रफल 61 वर्ग किलोमीटर है. सैन मरीनो दुनिया का सबसे पुराना गणराज्य है, जो आज भी ... Read More »

आॅस्ट्रेलिया के दक्षिणी तट पर स्थित हीलियर झील, बर्तन में डालने पर भी नहीं बदलता है इसके पानी का गुलाबी रंग

यह फोटो पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया के दक्षिणी तट पर स्थित नमकीन पानी की हीलियर झील का है. इसे एक पतला और लंबा किनारा दक्षिण सागर से अलग करता है. 600 मीटर लंबी और 250 मीटर चौड़ी इस झील की खासियत इसका गुलाबी रंग है. सबसे प्रमुख बात यह है कि इस झील के पानी को किसी बर्तन में भरने पर भी ... Read More »

विशेष तरह के जुगनुओं के प्रकाश से चमकती हैं न्यूजीलैंड की वेटोमो गुफाएं

यह चित्र न्यूजीलैंड के उत्तरी द्वीप पर स्थित वेटोमो गुफा का है. ये गुफाएं यहां पर पाए जाने वाले विशेष प्रकार के लाखों जुगनुओं के प्रकाश से चमकती हैं. इन गुफाओं के बीच से बहती नदी से जब इन जुगनुओं का प्रकाश परावर्तित होता है तो ये बहुत ही आकर्षक दिखती हैं. करीब तीन करोड़ साल पहले ये गुफाएं समुद्र ... Read More »

5700 करोड़ रुपए की लागत से बनेगी दुनिया की सबसे बड़ी याट, 750 फीट होगी इसकी लंबाई, इतनी जगह में समा सकते हैं दो फुटबॉल ग्राउंड

सियोल. दक्षिण कोरिया के चुलहुन पार्क और मशहूर डिजाइनर पामर जॉनसन ने दुनिया के सबसे बड़े याट का डिजाइन तैयार किया है. इस प्रस्तावित याट की लंबाई 750 फीट है. इतनी जगह में फुटबॉल के दो ग्राउंड समा सकते हैं. इस याट को बनाने में 80 करोड़ डॉलर (करीब 5700 करोड़ रुपए) खर्च होंगे. इस याट में थिएटर, कैसिनो, और ... Read More »

दुनिया के सबसे छोटे द्वीप पर साइजलैंड परिवार ने बनाया हॉलीडे होम

यह फोटो दुनिया के सबसे छोटे हब द्वीप का है. न्यूयॉर्क की अलेक्जेंड्रिया खाड़ी में स्थित इस द्वीप का कुल क्षेत्रफल मात्र 3,300 फीट है. इसे जस्ट इनफ रूम आईलैंड भी कहते हैं. इस आईलैंड को 1950 में साइजलैंड परिवार ने खरीदा था. उन्होंने इस पर एक छोटी सी कॉटेज बनाई, ताकि वे यहां आराम से छुटि्टयां बिता सकें. लेकिन, ... Read More »

भेड़िये के पांव के आकार जैसा लुफुटन द्वीप कॉड मछली पालन का है प्रमुख केंद्र

यह चित्र नॉर्वे के नॉर्दलैंड प्रांत के लुफुटन का है. यह द्वीपों की एक शृंखला है. इसका आकार भेड़िये के पांव जैसा है. यह द्वीप अपनी सुंदर पहाड़ियों और नयनाभिराम दृश्यों के लिए जाना जाता है. यहां का मौसम काफी उतार-चढ़ाव वाला होता है. यहां पर 11 हजार साल पहले से मानव बस्तियां होने के प्रमाण मिले हैं. हालांकि, यहां ... Read More »

नॉर्वे के इस गांव में 110 लोग और 500 बकरियां हैंं, हर साल 11 हजार किलो ‘गोट चीज़’ बनाकर बेचते हैं

यह चित्र नॉर्वे के पश्चिमी तट के शहर बर्जन से दो घंटे की दूरी पर स्थित गांव अंडरेडल का है. इस गांव की कुल आबादी 110 है, लेकिन यहां पर पांच सौ से अधिक बकरियां हैं. सुंदर नैसर्गिक छटा वाले इस गांव के लोगों की आय का प्रमुख साधन बकरी के दूध से बनी भूरे रंग की चीज़ है. यहां ... Read More »

पर्ल वाटर फॉल, जहां पर चट्‌टानों पर बहता पानी मोतियों की तरह रिफ्लेक्ट करता है सूर्य की किरणें

यह फोटो चीन में स्थित पर्ल वाटर फॉल का है. यह जिउझागउ घाटी में स्थित बैलोंग नदी की सहायक नदी पर स्थित है. शीर्ष पर इस झरने की चौड़ाई 162.50 मीटर है. जबकि, यह सीधे 40 मीटर गिरता है. जब पानी कम हो जाता है और यह पतली धार के रूप में बहता है तो यह सूर्य की रोशनी को ... Read More »

चार नए शावकों के साथ दिखी काॅलर वाली बाघिन

सिवनी, 28 जनवरी (उदयपुर किरण). विश्वविख्यात प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी पेंच राष्ट्रीय उद्यान में पर्यटकों को रविवार को सात बार में कुल 25 शावकों को जन्म देने वाली कॉलरवाली बाघिन चार नए शावकों के साथ नजर आई. कालरवाली बाघिन ने हाल ही में इन शावकों को जन्म दिया है, जिससे पेंच पार्क में बाघों का कुनबा बढ़ गया है. कालर वाली ... Read More »

पेरू में 6,692 फीट ऊंचाई पर स्थित अगुआस कैलिएंट्स दुनिया के 7 आश्चर्यों में शामिल माचू-पिच्चू का बेस है

यह फोटो पेरू के अगुआस कैलिएंट्स गांव की है. यह दुनिया के सात आश्चर्यों में शामिल माचू-पिच्चू का बेस प्वाइंट है. समुद्र की सतह से 6,692 फीट की ऊंचाई पर स्थित इस गांव का आधिकारिक नाम माचू-पिच्चू प्यूब्लो है. 15वीं सदी में स्पेन के आक्रमणकारी यहां चेचक महामारी लेकर आए थे, जिसने इसे उजाड़ दिया था. माचू-पिच्चू को 1983 में ... Read More »

बंडीपुर अभ्यारण्य से दो बाघों को बेलगाम के रानी चेन्नम्मा चिड़ियाघर लाया जाएगा

बेंगलुरु, 27 जनवरी (उदयपुर किरण). कर्नाटक के वन मंत्री सतीश जारकीहोली ने कहा है कि बंडीपुर स्थित अभ्यारण्य से जल्द ही दो बाघों को शहर स्थित रानी चेन्नम्मा चिड़ियाघर में लाया जाएगा. शनिवार को जिला स्टेडियम में गणतंत्र दिवस समारोह के बाद आयोजित संवाददाता सम्मेलन में उन्होंने कहा कि बेलगाम के चिड़ियाघर के विकास की सभी तैयारियां पूरी हो चुकी ... Read More »

पुर्तगाल के क्विंटा दा रागलेरिया एस्टेट में बने 88 फीट गहरे कुएं से कभी नहीं निकाला गया पानी

यह फोटो पुर्तगाल के सिन्ट्रा कस्बे में बने क्विंटा दा रागलेरिया एस्टेट में बने 88 फीट गहरे कुएं का है. इस कुएं को 1904 में बनाया गया था. सबसे रोचक बात यह है कि इसका इस्तेमाल कभी भी पानी के लिए नहीं किया गया बल्कि यहां पर पवित्र अनुष्ठान होते थे. क्विंटा दा रागलेरिया एस्टेट यूनेस्को द्वारा संरक्षित क्षेत्र है. ... Read More »

अलास्का में 66 दिन में पहली बार निकला सूरज

अलास्का. अलास्का के उतकियागविक शहर में बुधवार को 66 दिन में पहली बार सूरज दिखाई दिया. यहां 18 नवंबर को सूर्य अस्त हुआ था. बुधवार को पहले दिन सूरज करीब 70 मिनट तक दिखाई दिया. गुरुवार को एक घंटा 43 मिनट का दिन रहने की संभावना है. अगले एक सप्ताह में यहां दो घंटे तक सूरज निकलने के आसार हैं. ... Read More »

माइनस 35 डिग्री तापमान में पूरी तरह जम गया नियाग्रा फॉल्स

टोरंटो. कनाडा और अमेरिका की सीमा पर स्थित दुनिया में मशहूर नियाग्रा फॉल्स जम गया है. नियाग्रा फॉल्स क्षेत्र का तापमान माइनस 20 से माइनस 35 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है. इस कारण पूरा इलाका वंडरलैंड की तरह दिखाई दे रहा है. ठंड बढ़ने से झरने देखने लिए पर्यटक भी कम पहुंच रहे हैं. मौसम विभाग ने ओंटारियो के ... Read More »

जापान के निक्को और ओकु-निक्को को जोड़ने वाली 1954 में बनी सड़कों की इस जोड़ी पर हैं हेयरपिन जैसे 48 मोड़

यह फोटो जापान के निक्को में स्थित घुमावदार सड़काें की जोड़ी इरोहाजाका का है. इरोहा पुरानी जापानी वर्णमाला के पहले तीन अक्षरों को कहते हैं जबकि जाका या साका का मतलब ढलान होता है. इस सड़क की जोड़ी पर हेयरपिन जैसे कुल 48 मोड़ हैं और इतने ही अक्षर जापानी वर्णमाला में होते हैं. इन 48 मोड़ों को इस वर्णमाला ... Read More »

दुनिया के पहले नेशनल पार्क में दुनिया का सबसे बड़ा गर्म पानी का फव्वारा, यहां जमीन के 121 फीट नीचे से पानी ऊपर उठता है

यह फोटो अमेरिका के यलोस्टोन नेशनल पार्क के व्योमिंग में स्थित गर्म पानी के फव्वारे की है. यलो स्टोन पार्क को दुनिया का पहला नेशनल पार्क भी कहा जाता है. इसका ज्यादातर हिस्सा व्योमिंग में है और बाकी हिस्सा मोंटाना और इदाहो तक फैला है. इंद्रधनुषी रंगों की वजह से इस फव्वारे को ग्रैंड प्रिज्मेटिक स्प्रिंग कहा जाता है. यह ... Read More »

1553 वर्ग किमी में फैला हा लॉन्ग बे विश्वधरोहर है, हर पहाड़ी का नाम आकार के हिसाब से है, यहां समुद्री जीवों की 1,100 से ज्यादा प्रजातियां हैं

यह फोटो वियतनाम के हा लॉन्ग बा क्षेत्र की है. करीब 1,553 वर्गकिलोमीटर में फैला यह क्षेत्र और इसकी पहाड़ियां विश्व धरोहर में शामिल हैं. ये पहाड़ियां लाइमस्टोन से बनी हुई हैं. खास बात यह है कि हर पहाड़ी को उसके आकार के हिसाब से अलग-अलग नाम दिए गए हैं. इनमें कैट बा, स्टोन डॉग, टी-पॉट आइसलेट्स जैसे नाम शामिल ... Read More »

हर साल लाखों पर्यटक पहुंच रहे, लुभावना टूरिस्ट डेस्टिेशन बना बीकानेर

बीकानेर, 16 जनवरी (उदयपुर किरण). संभाग मुख्यालय बीकानेर में हर साल लाखों पर्यटक पहुंच रहे हैं. इनकी संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. पिछले करीब ढाई दशक में विरासत के इस सफर में साढ़े पैंसठ लाख से अधिक देशी और विदेशी पर्यटक बीकानेर के खाते में जुड़ चुके हैं. इससे जाहिर होता है कि पर्यटकों के जेहन में बीकानेर ... Read More »

फिनलैंड में इग्लू की तर्ज पर बना रिजॉर्ट, थर्मल ग्लास से बनी छत इसे गर्म रखती है, पलंग की जगह लगाते हैं बर्फ की सिल्ली

यह फोटो फिनलैंड के सारिसेलका में बने काकस्लॉटैनेन आर्कटिक रिज़ॉर्ट की है. इसके कमरे और छत थर्मल ग्लास से बने हुए हैं. प्रकृति से घिरा यह अनोखा होटल ग्लास के पारंपरिक इग्लू यानी बर्फ के घर और लकड़ी के लग्जरी कमरे मुहैया करवाता है. इस क्षेत्र में ऐसे कई रिजॉर्ट्स हैं जो दुनिया भर के पर्यटकों के बीच मशहूर हैं. ... Read More »

288 वर्ग किमी में फैले बोनेयर मरीन पार्क में दुर्लभ मूंगा और मछलियां

यह फोटो वेनजुएला के तट पर बसे बोनेयर नेशनल मरीन पार्क की है. फोटो में दिख रहा यह दुर्लभ और विलुप्त होता मूंगा और मछलियां हैं. बोनेयर आइलैंड के पूरे तट को 1979 में मरीन सेंक्चूअरी घोषित किया गया था. करीब 288 वर्ग किलोमीटर में फैला बोनेयर द्वीप स्कूबा डाइविंग, मरीन लाइफ और वाटर स्पोर्ट्स के लिए मशहूर है. 1816 ... Read More »

हवाई में 3 लाख साल पहले ज्वालामुखी विस्फोट से निकला डायमंड हेड, अंग्रेजों ने यहां मिले क्रिस्टल्स को हीरा समझकर यह नाम दिया

यह फोटो अमेरिका के हवाई में होनोलूलू में स्थित डायमंड हेड की है. डायमंड हेड करीब 3 लाख साल पहले पानी के नीचे हुए ज्वालामुखी विस्फोट से निकला है. यह ओहाहू शहर के दक्षिणी तट पर स्थित है और एक किलोमीटर में फैला गोलाकार गड्ढा है. यह हवाई के सबसे प्रतिष्ठित प्राकृतिक, सांस्कृतिक, ऐतिहासिक और मनोरंजक संसाधनों में से एक ... Read More »

लोक परिवहन बसों का शहर में प्रवेश पर रोक

सीकर,12 जनवरी (उदयपुर किरण). शहर में यातायात व्यवस्था में सुधार के लिए लोक परिवहन बसों के प्रवेश को प्रतिबंधित किया गया है. जिला कलक्टर नरेश कुमार ठकराल ने शनिवार को यह आदेश जारी किए. आदेशानुसार शहर में आने वाली लोक परिवहन बसें कृषि मण्डी गेट तक ही सवारियां उतारें, इससे आगे आने पर कार्रवाई की जाएगी. शनिवार को यातायात सलाहकार ... Read More »

बेस्ट की हड़ताल के लिए बैठक शुरू

मुंबई, 12 जनवरी (उदयपुर किरण). पिछले चार दिन से चल रही बेस्ट की हड़लाल को समाप्त करने के लिए मंत्रालय में बैठक शुरू हो चुकी है. बैठक में राज्य के मुख्य सचिव डी के जैन, परिवहन सचिव आशिष कुमार सिंह,नगरविकास सचिव मनीषा म्हैसकर और बीएमसी आयुक्त अजोय मेहता, बेस्ट महाव्यवस्थापक सुरेंद्र कुमार बागडे और बेस्ट कामगार कृती समिति के शिष्टमंडल ... Read More »

दुनिया में सबसे निचला ज्वालामुखी दुनिया की सबसे गर्म जगह इथोपिया के दल्लोल में है, इस क्षेत्र से पूरे देश में नमक सप्लाई होता है

यह फोटो इथोपिया के दल्लोल क्षेत्र की है. यह समुद्री सतह से दुनिया में सबसे निचले स्तर पर मौजूद ज्वालामुखी है. चौंकाने वाली बात है कि यह दुनिया की सबसे गर्म जगह भी है, जहां औसत तापमान 34 डिग्री सेल्सियस तक होता है. यहां गर्म पानी के स्रोत हैं जिनमें सल्फ्यूरिक एसिड समेत कई तरह के केमिकल हैं. इसी वजह ... Read More »

बांसवाड़ा में अरथूना-माही महोत्सव : अंतर्राष्ट्रीय कलाकार पं. विश्व मोहन भट्ट की हुई प्रस्तुति

मोहन वीणा के सुरों से सजी अरथूना की शास्त्रीय संगीत निशा बाँसवाड़ा. कला-संस्कृति और ऐतिहासिक-सांस्कृतिक विरासत के साथ नैसर्गिक सौंदर्यश्री को अपने आंचल में समाहित करने वाले बांसवाड़ा जिले को विश्व पर्यटन मानचित्र पर स्थापित करने के लिए आयोजित हो रहे अरथूना-माही महोत्सव मे सोमवार को अरथूना में अंतर्राष्ट्रीय ख्यातिप्राप्त कलाकार व ग्रेमी अवार्ड से सम्मानित पद्मभूषण पं. विश्व मोहन ... Read More »

दार्जिलिंग में 9 महीने बाद शुरू हुई रोपवे सेवा, पर्यटकों ने उठाया लुत्फ

कोलकाता, 07 जनवरी (उदयपुर किरण). बर्फबारी के बीच खूबसूरत नजारे में तब्दील हुए दार्जिलिंग के पहाड़ी क्षेत्रों में सैलानियों के लिए बेहद लोकप्रिय रोपवे सेवा आखिरकार 9 महीने बाद एक बार फिर शुरू हो गई है. रविवार को इसकी शुरुआत हुई है. दार्जिलिंग रोपवे, हिल टाउन के सिंगामारी में पर्यटकों के सबसे लोकप्रिय राइड में से एक है. इसे मार्च ... Read More »

चीन का सबसे गोल गांव जूजिंग, यहां के घर प्राचीन संरक्षित शैली हुई से बने हैं, यहां के लोग परिवार की तरह रहते हैं और घर बनाने-खेती में एक-दूसरे की मदद करते हैं

यह फोटो चीन के सबसे गोल गांव जूजिंग की है. यह झांगसी प्रांत में स्थित वूयुआन काउंटी में है. खास बात यह है कि पूरा गांव गोलाकार घूमती नदी, सड़क और पहाड़ों से घिरा है. यह प्राकृतिक और ऐतिहासिक भूविज्ञान का एक बेजोड़ नमूना है. यह खास तौर से संरक्षित वास्तुकला शैली हुई से बने घरों के लिए मशहूर है. ... Read More »

बांसवाड़ा में आज से ‘अरथूना-माही महोत्सव’ की धूम : लोक उल्लास के बीच बिखरेंगे बहुरंगी संस्कृति के रंग

बाँसवाड़ा. कला-संस्कृति और ऐतिहासिक-सांस्कृतिक विरासत के साथ नैसर्गिक सौंदर्यश्री को अपने आंचल में समाहित करने वाले बांसवाड़ा जिले को विश्व पर्यटन मानचित्र पर स्थापित करने के लिए  जिला प्रशासन द्वारा 7 से 9 जनवरी, 2019 को अरथूना-माही महोत्सव का आयोजन किया जाएगा. जिला कलक्टर आशीष गुप्ता ने बताया कि जनजाति क्षेत्रीय विकास, पर्यटन और वन विभाग के साथ-साथ गोविंद गुरु जनजातीय ... Read More »

पठारी क्षेत्रों को पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित करने में जुटी पश्चिम बंगाल सरकार

कोलकाता, 05 जनवरी (उदयपुर किरण). वर्ष 2011 में पश्चिम बंगाल की सत्ता पर तृणमूल कांग्रेस के आरूढ़ होने के बाद राज्य के विभिन्न क्षेत्रों को पर्यटन के लिहाज से विकसित करने में राज्य सरकार ने जी जान लगा दी है. अब दार्जिलिंग के पहाड़ी क्षेत्रों को समतल से लेकर पठारी हिस्से तक पर्यटन के लिहाज से अति विकसित बनाने की ... Read More »

मालदीव का गिली लंकानफुशी रिजॉर्ट खाक, बीते साल दुनिया के टॉप-5 होटल में चुना गया था

  माले. दुनियाभर में चर्चित मालदीव का गिली लंकानफुशी रिजॉर्ट खाक हो गया है. इस हादसे में किसी के जख्मी होने की खबर नहीं है. नए साल पर यहां छुटि्टयां मनाने पहुंचे पर्यटकों ने भागकर अपनी जान बचाई. इस रिजॉर्ट को बीते साल ट्रिप एडवाइजर ने दुनिया के टॉप-5 होटल में चुना था. चश्मदीद मार्टा ने बताया कि बुधवार रात ... Read More »

जंगल में शिकार के लिए लगाए फंदे में फंसा पैंथर का पैर, 14 घंटे बाद ट्रेंक्यूलाइज कर लाए बॉयोलॉजिकल पार्क

  बांसवाड़ा. वनक्षेत्र से सटे बारी सियातलाई में गुरुवार आधी रात आबादी बस्ती के समीप शिकारियों द्वारा शिकार के लिए रखे लोहे के फंदे में एक पैंथर का बायां पैर फंस गया. दर्द से पैंथर के गुर्राने पर इलाके के लोग दहशत में आ गए. करीब 12 घंटे बाद दोपहर को उदयपुर से आए शूटर सतनामसिंह ने पैंथर को ट्रेंक्यूलाइज ... Read More »

पर्यटन सीजन में फिर 70 दिन के लिए बंद कर दिया विजय स्तम्भ, शाही ट्रेन से आए देश-विदेश के मेहमान भी विजय स्तम्भ नहीं देख पाए

चित्तौड़गढ़, 04 जनवरी (उदयपुर किरण). ऐतिहासिक चित्तौड़ दुर्ग पर विजय के प्रतीक के रूप में बनाए गए विख्यात स्मारक ‘विजय स्तंभ’ शुक्रवार से 70 दिन के लिए बंद हो गया है. केमिकल वॉश कार्य के चलते विजय स्तम्भ को पर्यटकों के लिए बंद करने का निर्णय लिया गया है. केमिकल वॉश होना है. इसके लिए भारतीय पुरातत्व एवं सर्वेक्षण विभाग ... Read More »

गिर अभयारण्य में शेरनी 6 दिन से तेंदुए के बच्चे को दुलार कर रही, उसे अपना दूध भी पिलाती है

जूनागढ़ (गुजरात). सिंह और तेंदुए के बीच हमेशा दूरी बनी रहती है. लेकिन गिर अभयारण्य में पिछले 6 दिनों से अलग ही दृश्य नजर आ रहा है. यहां एक शेरनी तेंदुए के बच्चे को दुलार कर रही है. साथ ही अपना दूध भी पिलाती है. इतना ही नहीं, ये शेरनी तेंदुए के शावक के साथ अभयारण्य में खुलेआम घूमती है. ... Read More »

चीन का 2.03 लाख एकड़ में फैला डेनक्सिया लैंडफार्म विश्व धरोहर है; यहां सालाना 18 लाख टूरिस्ट आते हैं

यह फोटो चीन के गान्सू प्रांत में स्थित झांगे डेनक्सिया लैंडफार्म जियोलॉजिकल पार्क स्थित पहाड़ों की है. रंग-बिरंगा होने से इन्हें चीन का रेनबो माउंटेन भी कहा जाता है. करीब 2.03 लाख एकड़ में फैले इन पहाड़ों का रंग पूरी तरह प्राकृतिक है. मिट्टी में मौजूद खनिज और रासायनिक क्रिया की वजह से ये रंग-बिरंगे हो जाते हैं. यह करीब ... Read More »

118 किमी लंबा रेड बीच शैवाल की वजह से लाल है, दुनिया का सबसे बड़ा वेटलैंड

यह फोटो चीन के लिओनिंग प्रांत में स्थित पंजिन रेड बीच की है. दुनिया का सबसे बड़ा वेटलैंड है और करीब 118 किलोमीटर तक फैला है. इसका लाल रंग विशेष प्रकार के शैवाल सुआदा सालसा की वजह से है. जबकि हरा, पीला रंग चावल की फसल का है. शरद ऋतु में सुआदा पकने पर लाल हो जाती है. यह उन ... Read More »

सर्दियां बढ़ने के साथ चीन-फिनलैंड में खुले बर्फ से बने होटल, यहां दीवारें-फर्श ही नहीं, टेबल-कुर्सी तक बर्फ की

हुलुन बुईर (चीन). यह फोटो चीन के हैलर जिले में बर्फ से बने होटल की है. यह इनर मंगोलिया ऑटोनॉमस रीजन में स्थित है. इस होटल की दीवार-फर्श, कमरों के बेड के अलावा रेस्तरां की टेबल-कुर्सिंयां भी बर्फ की बनी हैं. इसे बनाने में 8,000 टन बर्फ लगी है. दायीं तरफ की फोटो स्वीडन के दूरदराज के गांव जाॅकसजर्वी में ... Read More »

नया साल मनाने शिमला में उमड़ने लगी पर्यटकों की भीड़, पैक हुए होटल

शिमला, 30 दिसम्बर (उदयपुर किरण). हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में नए साल का जश्न मनाने के लिए पर्यटकों की भारी भीड़ उमड़ रही है. शहर के तमाम होटल पर्यटकों से खचाखच भर गए हैं तथा पर्यटकों का शिमला पहुंचना अब भी लगातार जारी है. पर्यटकों के मनोरंजन के लिए निजी व पर्यटन निगम के होटलों में विभिन्न कार्यक्रमों का ... Read More »

लोग खुद को प्रकृति के करीब समझें, इसलिए बबल के आकार के कमरों वाला पारदर्शी होटल बनाया

बीजिंग. दक्षिण चीन के गुइलिन में बबल होटल खोला गया है, जिसे इन दिनों खूब पसंद किया जा रहा है. यह दो पहाड़ों के बीच नदी के पास स्थित है. पारदर्शी होटल बनाने का उद्देश्य यह है कि लोग खुद को प्रकृति के करीब समझें. गुइलिन चीन के सबसे खूबसूरत शहरों में गिना जाता है. पर्यटन यहां का मुख्य व्यवसाय ... Read More »

रूस में 173 साल पुराना फोर्ट अलेक्ज़ेंडर पहले सैनिक अड्डा था, बाद में प्लेग रिसर्च लैब बना, फिर रेव पार्टी का केंद्र रहा और अब वीरान है

यह फोटो रूस के सेंट पीटर्सबर्ग स्थित ऐतिहासिक फोर्ट अलेक्ज़ेंडर की है. इसे 1838 और 1845 के बीच फिनलैंड की खाड़ी में एक कृत्रिम द्वीप पर बनाया गया था. क्रोन्सटाट क्षेत्र में बना यह फोर्ट पहले सैनिक अड्डा था और सेंट पीटर्सबर्ग पर आक्रमण करने वालों को खदेड़ने में सक्षम था. यहां करीब 1,000 सैनिक, 103 तोप और बंदूकों से ... Read More »

दीप ज्योति और नगाड़े की धमक के साथ शुरू हुआ ‘शिल्पग्राम उत्सव’

उदयपुर, 21 दिसम्बर (उदयपुर किरण). उदयपुर के हवाला गांव स्थित कला परिसर शिल्पग्राम में पश्चिम क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र की ओर से आयोजित ‘शिल्पग्राम उत्सव’ का नगाड़ा की धमक के साथ शुक्रवार शाम को आगाज हुआ. दस दिन के उक्त कला कुंभ का जिला एवं सत्र न्यायाधीश रवीन्द्र माहेश्वरी, मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. जेपी शर्मा तथा महाराणा प्रताप कृषि, ... Read More »

7 लाख वर्गमीटर में फैला है चीन का स्पोर्ट्स कैम्पस, यहां 30 हजार दर्शक क्षमता का स्टेडियम, 12 हजार सीट वाला जिम और स्विमिंग पूल

यह फोटो चीन के झेजियांग प्रांत के क्यूझोऊ का स्पोर्ट्स कैम्पस है. यह करीब 7 लाख वर्गमीटर में फैला है, लेकिन अभी सिर्फ आधा यानी 3.40 लाख वर्गमीटर में ही निर्माण कार्य हुआ है. खास बात यह है कि इसमें बने स्टेडियम की दर्शक क्षमता 30 हजार है. इसके अलावा यहां 10 हजार सीट क्षमता वाला जिम्नेशियम और 2,000 दर्शक ... Read More »

दुनिया के 1500 सक्रिय ज्वालामुखी में से एक किलाउवा, ऐसे 50 ज्वालामुखी हर साल इस तरह लावा, राख, जहरीली गैस उगलते हैं

यह फोटो अमेरिका के हवाई स्थित किलाउवा ज्वालामुखी का है. यह हवाई में सक्रिय 5 और दुनिया में सक्रिय 1,500 ज्वालामुखी में से एक है. इनमें से 50 ऐसे हैं जो हर साल लावा, भाप, राख और जहरीली गैस उगलते हैं. अमेरिकी जियोलॉजिकल सर्वे साल भर हवाई के ज्वालामुखी की निगरानी करता है. बुधवार को जारी हवाई वॉल्केनो ऑब्जर्वेटरी की ... Read More »

गुजरात: अमरेली में सड़क पर टहलते दिखे एक साथ 14 शेर, इनमें कुछ शावक भी थे

अमरेली. गुजरात में अमरेली जिले में सोमवार को 14 शेर एक साथ सड़क पर टहलते दिखाई दिए. इनमें से कुछ शावक भी थे. शेरों के झुंड को सड़क पर देखकर रास्ते से गुजरने वाले राहगीर और वाहन चालकों ने सिंह दर्शन का मजा लिया. इस बात की जानकारी मिलते ही वन विभाग की कर्मचारी मौके पर पहुंचे और शेरों पर ... Read More »

जमने लगा नियाग्रा फॉल : अमेरिका के ऊपर पोलर वोर्टेक्स बन रहा, बर्फीले तूफान की आशंका

न्यूयॉर्क. तस्वीर अमेरिका और कनाडा की सीमा पर स्थित विश्व प्रसिद्ध नियाग्रा फॉल की है. न्यूयॉर्क और कनाडा के ओंटारियो राज्य के बीच बहता यह झरना जमने लगा है. मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक इस सीजन अमेरिका और कनाडा में सर्दी नए रिकॉर्ड बना सकती है. वजह है कि इस क्षेत्र में वेदर सिस्टम ‘पोलर वोर्टेक्स’ बन रहा है, जो आर्कटिक ... Read More »

Inline

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News

Inline

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News