मणिपुर विश्वविद्यालय के कुलपति बर्खास्त


नई दिल्ली . मणिपुर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. आद्या प्रसाद पांडेय को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने तत्काल प्रभाव से बर्खास्त किया गया है. वह बीएचयू की कार्यकारिणी परिषद के सदस्य भी हैं. इस कार्रवाई के बाद उनकी सदस्यता भी खतरे में पड़ गई है.

मानव संसाधन विकास मंत्रालय के उच्च शिक्षा विभाग के उप सचिव सूरत सिंह के हस्ताक्षर से शुक्रवार को जारी आदेश में कहा गया कि राष्ट्रपति ने कुलपति प्रो. आद्या प्रसाद पांडेय द्वारा दिए गए जवाब, विवि के रिकॉर्ड और उपलब्ध तथ्यों के आधार पर प्रो. पांडेय को बर्खास्त कर दिया है. आदेश में कहा गया कि जांच रिपोर्ट में प्रो.पांडेय वित्तीय और प्रशासनिक अनियमितताओं के साथ ही कदाचार, कर्तव्यों का निष्कासन, सत्ता का दुरुपयोग और प्रतिबद्धता के अभाव में लिप्त पाए गए.

  तब्लीगी जमात से लौटै व्यक्ति के परिवार में 8 लोग मिले कोरोना संक्रमित

पांडेय प्रो. आद्या प्रसाद पाण्डेय ने आरोप लगाया कि मणिपुर में उग्रवादियों ने पांच करोड़ रुपये की मांग की थी. देने से मना कर दिया तब वहां मेरे खिलाफ मोर्चा खोल दिया गया. मेरे ऊपर लगाए गए सभी आरोप मनगढ़ंत है. राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर मामले में स्वतंत्र जांच कमेटी गठित कर दोबारा जांच कराने की मांग की है.

  7 दिन में जल्द बहाल होंगी जरूरी चिकित्सा सेवाएं

Check Also

सोनिया गांधी के विज्ञापन बंद करने की सलाह के विरोध में उतरे पत्रकार संगठन

नई दिल्ली (New Delhi) . केंद्र सरकार (Government) और सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों द्वारा मीडिया …