चेतन भगत और अनंत हेगड़े का ट्विटर वॉर

नई दिल्ली . नागरिकता संशोधन एक्ट को लेकर देश में एक नई बहस हो रही है और हिंदू-मुस्लिम के मुद्दे की राजनीति चरम पर है. हर कोई अपनी राय व्यक्त कर रहा है, कुछ ऐसा ही लेखक चेतन भगत ने किया. उन्होंने लिखा कि सभी को हिंदू-मुस्लिम मुद्दे की बहस को कुछ समय के लिए छोड़ देना चाहिए और काम पर ध्यान देना चाहिए. इस पर अब पूर्व केंद्रीय मंत्री अनंत हेगड़े ने जवाब दिया है जिससे दोनों के बीच ट्विटर वॉर शुरू हो गई है. लेखक चेतन भगत ट्विटर पर लगातार अपने राजनीतिक विचार ट्वीट करते हैं.

  चिंतन-मनन : प्रभु भक्ति में बीते समय

उन्होंने बुधवार को लिखा कि अगर हम हिंदू-मुस्लिम के मुद्दे को अगले 20 साल के लिए साइड रख दें और अर्थव्यवस्था पर ध्यान दें तो हम 2040 तक जीडीपी में 10 हजार डॉलर प्रति कैपिटा के हिसाब से पहुंच सकते हैं. चेतन भगत के इस ट्वीट पर जवाब देते हुए अनंत हेगड़े ने लिखा कि जो इस महान प्रस्ताव को आगे रख रहे हैं कि उन्हें खुद को सोचना चाहिए जो कि सिर्फ एक ही भगवान पर विश्वास रखते हैं और बाकियों को काफिर मानते हैं. अनंत हेगड़े ने लिखा कि उनकी ओर से सिर्फ विकास का एजेंडा आगे बढ़ाया जा रहा है, लेकिन सामने वाले लोग ग्लोबल जेहाद को बढ़ावा दे रहे हैं. चेतन मूर्खों की दुनिया में जी रहे हैं. गौरतलब है ‎कि अनंत हेगड़े इससे पहले भी लगातार सोशल मीडिया पर विवादित ट्वीट करते रहे हैं.

  यूपी के भाजपा विधायक समेत 6 पर केस दर्ज, आरोप-होटल में बंधक बना एक माह रेप किया

Check Also

आधार से लिंक होते ही नहीं रखे जा सकेंगे दो वोटर आईडी कार्ड

नई दिल्ली. पैन कार्ड के बाद अब वोटर आई कार्ड को भी आधार के साथ …