सर्द हवाओं से बढने लगी प्रदेश में ठिठुरन

भोपाल (Bhopal) . सर्द हवाएं चलने से प्रदेश में ठिठुरन बढने लगी है. इसकी वजह प्रदेश में लगातार मौसम शुष्क बना रहने और हवा का रुख लगातार उत्तरी बना रहने को बताया जा रहा है. आगामी समय में ठंड के तेवर और तीखे होने की संभावना जताई जा रही है. कल प्रदेश के ग्वालियर (Gwalior) शहर में तापमान 3.5 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया. बुधवार (Wednesday) को प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 3.5 डिग्री सेल्सियस ग्वालियर (Gwalior) में दर्ज किया गया. उमरिया, दतिया, ग्वालियर (Gwalior) एवं नौगांव में शीतलहर चली. राजधानी भोपाल (Bhopal) में न्यूनतम तापमान 7.0 डिग्री सेल्सिस दर्ज हुआ. जो सामान्य से चार डिग्री सेल्सियस कम रहा. साथ ही मंगलवार (Tuesday) के न्यूनतम तापमान (13.4 डिग्री सेल्सियस) के मुकाबले 6.4 डिग्री सेल्सियस कम रहा.

  चिटफंड कंपनियों के खिलाफ प्रशासन का बड़ा अभियान जारी

मौसम विज्ञानियों ने न्यूनतम तापमान में और गिरावट होने की संभावना जताई है. हुई. वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि वर्तमान में कोई वेदर सिस्टम नहीं है. इससे वातावरण में नमी काफी कम है. हवा का रुख भी लगातार उत्तरी बना हुआ है. उत्तर भारत की तरफ से लगभग 14 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से आ रही सर्द हवाओं के कारण राजधानी सहित पूरे प्रदेश में ठिठुरन बढ़ गई है. विशेषकर प्रदेश का उत्तरी भाग शीतलहर की चपेट में आ गया है. वहां कहीं-कहीं पाला पड़ने की भी आशंका बना हुई है. शुक्रवार (Friday) से न्यूनतम तापमान में मामूली बढ़ोतरी होने के आसार हैं.

  बर्थ-डे पार्टी के बहाने युवती को घर ले जाकर बनाया हवस का शिकार

मौसम विज्ञान केंद्र से मिली जानकारी के मुताबिक बुधवार (Wednesday) को राजधानी में अधिकतम तापमान 22.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. यह सामान्य से दो डिग्री सेल्सियस कम रहा. आसमान साफ रहने से दिन भर धूप निकली रही. शाम ढलते ही सर्द हवा के कारण वातावरण में सिहरन बढ़ने लगी थी.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *