टुकड़े-टुकड़े गैंग के लिए कवच बने रहे सीएम केजरीवाल: मंत्री हर्षवर्धन

नई दिल्ली . केन्द्रीय स्वास्थय मंत्री एवं घोषणा पत्र कमेटी के संयोजक डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि दिल्ली की जनता के सामने केजरीवाल का असली चेहरा हम आरोप पत्र के माध्यम से रख रहे हैं. 5 वर्षों के कार्यकाल में आम आदमी पार्टी की सरकार ने जनता को जितना निराश किया वो आज तक किसी भी सरकार ने नहीं किया. आम जनता की खाल में केजरीवाल वो शख्स है जो झूठ की चासनी में लिपटें वादों की घुट्टी जनता को पिलाने में विश्वास रखते है. यह भूल गये है कि राजनीति मुद्दों से चलती है झूठ से नहीं. केजरीवाल के फोटों से आज पूरी दिल्ली सजी हुई है करोड़ो रूपया विज्ञापन पर खर्च किया जा रहा है.

मीडिया में सस्ती लोकप्रियता बटोंरने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री ने दूसरों के कामों पर अपना ठप्पा लगाया है. जनता को बताएं कि उन्होनें दिल्ली का चेहरा बदलने के लिए आज तक क्या किया है. भीड़, ट्रैफिक, धूल, प्रदूषण, दूषित पानी आज दिल्ली के लोगों को मिल रहा है जिसके कारण लोगों की अवधारणा बन गई है कि ऐसे शहर में रहने का क्या लाभ. आम आदमी पार्टी एकमात्र ऐसी पार्टी है जिसके नेताओं पर कम समय में सबसे अधिक मानहानि के मुकदमे चल रहे हों, कुछ माफी मांग कर निपट चुके हैं और कुछ अभी भी चल रहे है. सुनियोजित तरीके से दिल्ली में दंगा भड़काने की कोशिश आम आदमी पार्टी ने की जिससे स्पष्ट हो गया है कि इस सरकार का दिल्ली की जनता से कोई लेना देना नहीं है. डाॅ. हर्ष वर्धन ने कहा कि केजरीवाल अहंकार से ग्रस्त है उन्हें लगता है सभी उनके खिलाफ साजिश कर रहे है.

  राजस्‍थान से अस्थि विसर्जन के लिए निःशुल्क चलेंगी बसें, उत्तराखण्ड सरकार से बनी सहमति

केजरीवाल का अपनी नाकामियों को छिपाने का असफल प्रयास जनता के सामने आ चुका है. 5 सालों का विशलेषण करेगें तो लोकसभा और निगम के चुनाव में करारी हार के बाद पांच महीने में धड़धड़ा घोषणाएं केजरीवाल सरकार ने की है. दिल्ली की जनता तय करेगी कि उन्हें पांच महीनों वाला मुख्यमंत्री चाहिए या फिर पांच सालों वाला मुख्यमंत्री. झूठे वादे कर वादाखिलाफी करने वाला मुख्यमंत्री चाहिए या फिर दिल्ली को सुनियोजित तरीके से सौन्द्रयीकरण करने का संकल्प लेने वाला मुख्यमंत्री चाहिए. दिल्ली के लोगों ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का काम देखा है और आम आदमी पार्टी के मुखिया को 5 साल सिर्फ आरोप प्रत्यारोप करते देखा है. केन्द्र और दिल्ली में भाजपा की सरकार दिल्ली का सर्वागिण विकास कर सकती है.

  चिंतन-मनन / प्रतिभा और ज्ञान

दिल्ली के रामलीला मैदान में अन्ना हजारे के नेतृत्व में आन्दोलन हुआ निस्वार्थ भाव से लेकिन उसमें भी अपना स्वार्थ खोजने वाले केजरीवाल ने अन्ना हजारे को धोखा देकर पहले पार्टी बनाई और फिर जिस कांग्रेस के खिलाफ आंदोलन किया उसके साथ मिलकर सरकार बनाकर दिल्ली की जनता को धोखा दिया है. डाॅ. हर्ष वर्धन ने कहा कि सत्ता में आने से पूर्व जनता के बीच हल्ला मचाकर सशक्त जन लोकपाल का वादा किया गया जिसके दायरे में मुख्यमंत्री आने थे, लेकिन जन लोकपाल तो आया नहीं लेकिन भ्रष्टाचार के मामले आम आदमी पार्टी में साल दर साल बढ़ते रहे. देश के टुकड़े टुकड़े चाहने वालों के सरंक्षण के लिए कवच बनकर दिल्ली के मुख्यमंत्री हमेशा खड़े रहे है. केजरीवाल गणतंत्र दिवस के विरोध में राजपथ पर बैठ जाने वाले पहले मुख्यमंत्री हंै. मुख्यमंत्री जनता को जवाब दें किन देश विरोधी ताकतों के इशारों पर देशद्रोह के आरोपियों को बचाया जा रहा है.

  उम्र का सैकड़ा पार वृद्ध महिला ने संयमित जीवनशैली एवं जीवटता से दी कोरोना को मात

वीआईपी कल्चर लाल बत्ती व बंगला नहीं लेने का वादा किया लेकिन एक आरटीआई की जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री के नाम पर दो घर व 17 गाड़ियां हैं. कोई रिश्वत मांगे तो सेंटिग कर लेना और रिकोर्डिग कर लेने की बात करने वाले मुख्यमंत्री बताएं आज तक भ्रष्टाचार पर आपने कोई कारवाई की. पीने का पानी जो दिल्ली की जनता का मौलिक अधिकार है उस पर केवल झूठ बोला गया लेकिन साफ पीने का पानी देने में केजरीवाल सरकार फेल हुई है. पांच साल का कार्यकाल खत्म होने को है और बीआईएस की रिपोर्ट के मुताबिक देश के 21 बड़े शहरों में सबसे गन्दा पानी दिल्ली वालों को मिलता है.

Check Also

चीन ने भारत से अपने नागरिकों को वापस बुलाया

नई दिल्‍ली . चीन ने छात्रों, पर्यटकों और उद्योगपतियों सहित सभी नागरिकों को भारत से …