कोरोना वायरस की टेस्टिंग फ्री हो – सुप्रीम कोर्ट


नई दिल्ली (New Delhi) . सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने केंद्र सरकार (Government) को आदेश दिया है कि सरकारी के साथ निजी लेबोरेट्री में भी कोरोना (Corona virus) की टेस्टिंग फ्री हो. कोर्ट ने केंद्र सरकार (Government) से कहा कि वह इसको लेकर जरूरी दिशानिर्देश जल्द से जल्द जारी करे.

कोरोना (Corona virus) का टेस्ट फ्री करने को लेकर दाखिल याचिका पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने निजी लैबों द्वारा इस टेस्ट के लिए बड़ी रकम लेने पर नाखुशी जताई. सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने कहा कि प्राइवेट लैब को कोरोना जांच के लिए पैसे लेने की अनुमति नहीं होनी चाहिए.

  शराब पर स्पेशल कोरोना फीस से की 110 करोड़ रुपये से अधिक की कमाई

सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने केंद्र सरकार (Government) से कहा कि निजी लैबों को इतनी ऊंची कीमत न लेने दी जाए. कोर्ट ने केंद्र सरकार (Government) से सरकार (Government) द्वारा यह राशि रिएंबर्स करने का मैकेनिज्म बनाने को कहा. सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) में दायर याचिका में निजी लैब को जांच के लिए 4500 रुपये तक लेने की इजाज़त देने वाली अधिसूचना को चुनौती दी गई थी. पिछली सुनवाई में कोर्ट ने केंद्र सरकार (Government) को नोटिस जारी किया था. याचिका में सभी अस्पतालों में मुफ्त टेस्ट और इलाज की मांग की गई है. निजी लैबें जांच के लिए 4500 रुपये ले रही हैं.

  लगातार दूसरे दिन मिले 6,000 से अधिक कोरोना संक्रमित, चिंता में सरकार, 3,860 लोगों की मौत

याचिका में मांग की गई है कि टेस्ट को फ्री किया जाए, इसका कोई शुल्क न लिया जाए. सरकार (Government) के 4500 रुपये तक टेस्ट का शुल्क लेने के फ़ैसले को रद्द किया जाए. देश के हर जिले में कम से कम 100 या 50 वेंटिलेटर होने चाहिए. कोरोना (Corona virus) संक्रमण के कितने नंबर बढ़े हैं, इनकी संख्या बताई जानी चाहिए.

  वायवा टेस्ट ऑनलाइन कराने की सिफारिश मंजूर

Check Also

भारत चीन सीमा पर चीनी सेना का भारी जमावड़ा, भारत ने भी बढाए सैनिक

नई दिल्ली (New Delhi). भारत-चीन सीमा पर पूर्वी लद्दाख में चीनी सेना का भारी जमावड़ा …