Saturday , 23 October 2021

कोर्ट ने जिया खान की आत्महत्या मामले में आगे की जांच की अनुमति मांगने वाली याचिकायें खारिज की

मुंबई (Mumbai) .CBI की एक विशेष अदालत ने बॉलीवुड (Bollywood) अभिनेत्री जिया खान की कथित आत्महत्या मामले में आगे की जांच की अनुमति मांगने वाली याचिकाओं को खारिज कर दिया.
याचिकाएं केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और जिया की मां राबिया खान ने दायर की थीं.
इस मामले में ट्रायल पहले से ही चल रहा है. इसमें अभिनेता सूरज पंचोली पर मामले में कथित रूप से आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया गया था, वह अब जमानत पर बाहर हैं.

  हार्दिक के गेंदबाजी नहीं करने से भी जीत की संभावनाओं पर असर नहीं पड़ेगा : कपिल

CBI ने अदालत से एक “दुपट्टा” भेजने की अनुमति मांगी थी, जिसका इस्तेमाल जिया ने खुद को फांसी लगाने के लिए किया था जिसे जाँच के लिए चंडीगढ़ (Chandigarh) में केंद्रीय फोरेंसिक प्रयोगशाला में भेजा गया था. CBI जब्त किए गए सेलफोन को अमेरिका में फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (एफबीआई) को भी भेजना चाहती थी ताकि जिया और पंचोली के बीच “हटाए गए” चैट को पुनः प्राप्त किया जा सके.

सूरज पंचोली के वकील प्रशांत पाटिल ने याचिकाओं पर आपत्ति जताते हुए कहा कि इस मामले का फैसला हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) पहले ही कर चुका है. विशेष न्यायाधीश (judge) एएस सैय्यद ने दलीलें सुनने के बाद याचिका खारिज कर दी.
ज्ञात रहे कि फिल्म “निशब्द” में अपने अभिनय के लिए जानी जाने वाली जिया खान 3 जून, 2013 को अपने आवास पर लटकी हुई पाई गईं. बॉलीवुड (Bollywood) कपल आदित्य पंचोली और जरीना वहाब के बेटे सूरज पंचोली कथित तौर पर उनके साथ रिलेशनशिप में थे.

  दीवाली पर एमपी सरकार ने शासकीय कर्मियों के महंगाई भत्ते में की 8 फीसदी की बढ़ोतरी

CBI ने आरोप लगाया कि जिया द्वारा लिखे गए तीन पन्नों के एक नोट को मुंबई (Mumbai) पुलिस (Police) (जिसने शुरुआत में मामले की जांच की थी) ने जब्त कर लिया था, जिसमें उसके और सूरज के “अंतरंग संबंध” और सूरज द्वारा “उसके शारीरिक शोषण और मानसिक और शारीरिक यातना” के बारे में बताया गया था. जो आत्महत्या का कारण बना.

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *