डेथ क्लेम ICICI Prudential Life से मिलेगा एक ही दिन में


उदयपुर. आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ के क्लेम फॉर श्योर योजना में डेथ क्लेम एक दिन में वापस कर दिया जाएगा. व्यक्ति का निधन, विशेष रूप से, भावनात्मक, वित्तीय और वित्तीय तनाव का कारण है. योजना के लिए दावा के शुभारंभ के साथ, कंपनी ने इस अविश्वसनीय नुकसान में बीमा प्राप्त लोगों के परिवारों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए शुद्ध योजना के लिए दावा शुरू किया है. तीन साल से लगातार चल रही बीमा पोलिसी पर कोई चेक नहीं लगाया जाएगा और धन वापसी की राशि 1.5 करोड़ रुपये के भीतर होनी चाहिये. आवेदक को यह धन वापसी तेजी से प्राप्त करने के लिए सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ आवेदन करना होगा.

  मध्य रेल की तत्परता से आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता हुआ सुनिश्चित

आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ इंश्योरेंस के उपप्रबंध निदेशक पुनीत नंदा ने कहा कि बीमित व्यक्ति की अनुपस्थिति में उसके परिवार की देखभाल करने का वादा आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ इंश्योरेंस के लिए बीमा पॉलिसी है. यह एक तथ्य है. यह हमारी नीति का ग्राहक आधार है. यह प्रक्रिया आसान हो गई है क्योंकि, यह मृत्यु के दावों की वापसी को गति देने के लिए प्रौद्योगिकी पर निर्भर है. ग्राहक यह आश्वासन दे सकते हैं कि उनके पश्चात परिवार की देखभाल के लिए एक आधार है. ग्राहक अपने विवेक पर और तुरंत धनवापसी के हकदार हो सकते हैं.

  15 अप्रैल से दौड़ेगी ट्रेनें, आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर बुकिंग शुरू

जुलाई 2019 में स्कीम के लॉन्च के बाद से, कंपनी ने क्लेम फॉर श्योर स्कीम के तहत 65 प्रतिशत मृत्यु का दावा दायर किया है. उन मामलों में 99.4 प्रतिशत में, एक दिन के भीतर रिफंड दिया जाता है. आर्थिक वर्ष 2020 को समाप्त हुए नौ महीनों के दौरान, औसत रिटर्न 1.67 प्रतिशत थी. वित्तीय वर्ष 2019में, कंपनी ने 98.6 प्रतिशत की दर से रिटर्न दिया है और मृत्यु दावे के तहत दिए गए धन की कुल राशि 826.66 कोटी रुपये 2.34 दिनों में चुका दी गई है.

  कोरोना वायरस और लॉकडाउन को लेकर सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही हैं फर्जी खबरें

Check Also

सीएम योगी को तोड़नी पड़ी परम्‍परा, पहली बार रामनवमी पर गोरखनाथ मंदिर में नहीं

गोरखनाथ . एक बार फिर गोरक्षपीठाधीश्‍वर और सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने लोककल्‍याण के लिए परम्‍परा …