दीनदयाल बंदरगाह ने 100 MMT से अधिक कार्गो निपटान किया: मंत्री मंडाविया


नई दिल्ली (New Delhi) . भारत के 12 प्रमुख बंदरगाहों में एक दीनदयाल पोर्ट ट्रस्‍ट ने 100 एमएमटी का कार्गो कार्य को पार कर गया. पहले इस बंदरगाह को कांडला बंदरगाह कहा जाता था और यह गुजरात (Gujarat) के कच्‍छ में है. दीनदयाल बंदरगाह ने कांडला में 13.25 एमएमटी तरल कार्गो तथा 43.76 ड्राई कार्गो तथा कंटेनरों का निपटान किया. दीनदयाल पोर्ट ट्रस्‍ट ने वडीनार (पार लदान शामिल) में 43.30 एमएमटी कार्गो का निस्‍तारण किया.

  अरविन्द सरकार के भ्रष्टाचार से तंग आ चुके है, कांग्रेस को सत्ता में वापस लाना चाहते है: शक्तिसिन्ह गोहिल

इस अवधि में कंटेनरकृत कार्गो 4.50 लाख टीईयू को पार कर गया और समग्र रूप से कुल 100 एमएमटी रहा. दीनदयाल बंदरगाह के कार्गो कार्य सामग्रियों में कच्‍चा तेल, पेट्रोलियम उत्‍पाद, कोयला, नमक, खाद्य तेल, उर्वरक, चीनी, लकड़ी, सोयाबीन, गेहूं है. यह प्रमुख उपलब्धि दीनदयाल बंदरगाह के यूजर अनुकूल दृष्टिकोण से हुआ है और लदान कर्मी/हितधारकों के सहयोग और उनसे निरंतर विचार-विमर्श से व्‍यावसायिक सुगम्यता में सुधार हुआ है. बंदरगाह, जहाजरानी तथा जलमार्ग (स्‍वतंत्र प्रभार) राज्‍यमंत्री मनसुख मंडाविया ने दीनदयाल बंदरगाह के प्रयासों की सराहना की और कहा कि यह वास्‍तव में चुनौतीपूर्ण कोविड काल में बड़ी उपलब्धि है. यह संकेत देती है कि अर्थव्‍यवस्‍था कोविड पूर्व के समय की ओर लौट रही है.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *