Wednesday , 25 November 2020

राजस्थान में उठी लंबित भर्तियों को पूरा करने की मांग


जयपुर (jaipur) . विभिन्न लंबित भर्तियों में अधिकारियों की लापरवाही और मंत्रियों की अनदेखी के चलते प्रदेश के बेरोजगारों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है लंबित भर्तियों को समय पर पूरा करने की मांग को लेकर कई बार मंत्रियों को ज्ञापन सौंपे गए, तो वहीं अधिकारियों के चक्कर काटे गए लेकिन इसके बाद भी स्थिति जस की तस बनी हुई है.

  राजस्‍थान : कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित आठ शहरों में रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक रहेगा नाइट कर्फ्यू, मास्क नहीं लगाने पर जुर्माना अब 500 रूपये

पिछले दिनों मुख्यमंत्री (Chief Minister) अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने भी बेरोजगारों के हितों को देखते हुए लंबित भर्तियों को जल्द पूरा करने के निर्देश दिए थे लेकिन इसके बाद भी न तो मंत्रियों ने इस ओर कोई ध्यान दिया और न ही अधिकारियों ने, जिसके बाद अब प्रदेश के बेरोजगारों ने आर-पार की लड़ाई की चेतावनी दे दी है सीकर में एक विशाल जनसभा करके राजस्थान (Rajasthan)बेरोजगार एकीकृत महासंघ की ओर से 24 नवंबर को दिल्ली कूच की घोषणा कर दी गई है.

  Isi व पाक सेना सैटेलाइट कॉल के जरिए श्रीगंगानगर में ले रही सैन्य गतिविधियों की टोह

करीब 10 हजार बेरोजगारों के साथ दिल्ली पहुंचने का रणनीति तैयार की गई है बेरोजगारी के अध्यक्ष उपेन यादव का कहना है कि मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने भर्तियों को पूरा करने के निर्देश दिए लेकिन अधिकारी न तो इस पर ध्यान दे रहे हैं और नहीं मंत्री ऐसे में बेरोजगारों के सब्र का बांध टूट रहा है. विरोध स्वरूप 24 नवंबर को 10 हजार बेरोजगारों के साथ दिल्ली कूच करेंगे.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *