डॉक्टर, वकील, सीए भी लोन गारंटी स्कीम का लाभ ले सकेंगे

अब डॉक्टर, वकील और चार्टर्ड एकाउंटेंट जैसे पेशेवर भी एमएसएमई ऋण गारंटी योजना का लाभ ले सकेंगे. केंद्र सरकार (Government) ने शनिवार (Saturday) को तीन लाख करोड़ रुपये की एमएसएमई ऋण गारंटी योजना का दायरा बढ़ाते हुए 50 करोड़ रु. तक के बकाया कर्ज वाली इकाइयों को इसका पात्र बना दिया है. अब तक अधिकतम 25 करोड़ रु. तक के बकाया कर्ज वाली इकाइयों को ही नए कर्ज पर सरकारी गारंटी देने की योजना थी. इसके साथ ही योजना के दायरे में व्यावसायिक उद्देश्यों के लिए डॉक्टरों, वकीलों और चार्टर्ड एकाउंटेंट को दिए गए व्यक्तिगत कर्ज को शामिल किया है. आपातकालीन ऋण गारंटी योजना (ईसीएलजीएस) में बदलाव श्रमिक संगठनों की मांगों और जून में केंद्रीय कैबिनेट द्वारा मंजूर एमएसएमई की नई परिभाषा के आधार पर किया गया है.

  मंत्रि-परिषद की दूसरी वर्चुअल बैठक में कई फैसले

Check Also

एचडीएफसी बैंक के नए एमडी एवं सीईओ होंगे शशिधर जगदीशन

उदयपुर (Udaipur). रिज़र्व बैंक (Bank) ऑफ  इंडिया ने एचडीएफसी बैंक (Bank) के मैनेजिंग डायरेक्टर एवं …