डुप्लेसी ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लिया

जोहांसबर्ग . दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान फाफ डुप्लेसी ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया है. डुप्लेसी ने सोशल मीडिया (Media) पर कहा कि वह खेल को अलविदा कह रहे हैं और यह उसके लिए सही समय है. डुप्लेसी ने अपने आधिकारिक इंस्टाग्राम पर लिखा कि मेरा दिल इस फैसले को लेकर पूरी तरह स्पष्ट है. यह नई शुरुआत करने के लिए बिल्कुल सही समय है. डुप्लेसी ने दक्षिण अफ्रीका के लिए 69 टेस्ट में 40 से कुछ ज्यादा की औसत से 4163 रन बनाए थे. उन्होंने इस प्रारुप में कुल 10 शतक और 21 अर्धशतक लगाए थे. डुप्लेसी ने कोरोना महामारी (Epidemic) को लेकर लिखा, ”यह हम सभी के लिए कठिनाई से लड़कर आगे बढ़ने वाला साल रहा. कभी अनिश्चितता भी रही, पर इससे कई पहलुओं को लेकर मेरी स्पष्ट राय बनी. मेरा दिल साफ है और यह नए अध्याय की शुरुआत करने के लिए सही समय है.”

  मियामी ओपन में नहीं खेलेंगे फेडरर

उन्होंने कहा, ”खेल के सभी प्रारूपों में देश का प्रतिनिधित्व करना सम्मान है, पर अब मेरे लिए टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने का समय आ गया है.” डुप्लेसी ने कहा, ”अगले दो साल आईसीसी टी20 विश्व कप होगा. इस वजह से मैं अपना ध्यान इस प्रारूप पर केंद्रित कर रहा हूं.” उन्होंने पिछले साल दक्षिण अफ्रीका के टेस्ट और टी20 कप्तान का पद छोड़ दिया है. उन्होंने साल 2016 में एबी डिविलियर्स से यह जिम्मा संभाला था. डुप्लेसी ने हाल में ही पाकिस्तान के खिलाफ दो टेस्ट की सीरीज खेले थे पर अधिक रन नहीं बना पाये. उन्होंने पहले टेस्ट में 33 और दूसरे में 22 रन बनाए थे. दोनों ही टेस्ट में मेजबान टीम ने दक्षिण अफ्रीका को हराया था. इसके बाद से ही उनके फॉर्म को लेकर सवाल उठ उठने लगे थे. हालांकि, उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ दो महीने पहले हुई घरेलू टेस्ट सीरीज में शानदार बल्लेबाजी की थी. सेंचुरियन में हुए पहले टेस्ट की पहली पारी में उन्होंने 199 रन बनाए थे. यह उनके टेस्ट करियर का सर्वाधिक स्कोर भी था.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *