दिल्ली-एनसीआर में कई टूर एंड ट्रैवल्स कंपनियों पर ईडी की छापेमारी


नई दिल्ली (New Delhi). प्रवर्तन निदेशालय ईडी ने दिल्ली-एनसीआर की कई टूर एंड ट्रैवल्स कंपनियों और उसके चार्टर्ड अकाउंटेंट (सीए पर छापेमारी में 3.57 करोड़ रुपये की नकदी जब्त की है. कंपनियों पर यह छापेमारी भारत की यात्रा पर आने वाले विदेशियों के ई-वीजा प्रसंस्करण में कथित अनियमितताओं के लिए की गई है. केंद्रीय जांच एजेंसी ने तहत नौ जुलाई को दिल्ली और गाजियाबाद (Ghaziabad) में आठ स्थानों पर छापेमारी की.

  अमेजनडॉटइन पर लघु एवं मध्‍यम उद्यमों (एसएमबी) के लिए प्राइम डे 2020 थी अभी तक की सबसे बड़ी दो दिन की सेल

ईडी ने बयान में कहा कि छापेमारी की कार्रवाई कई टूर एंड ट्रैवल्स कंपनियों के निदेशकों के आवास और कार्यालयों तथा उनके चार्टर्ड अकाउंटेंट के खिलाफ की गई. इस दौरान ईडी ने 3.57 करोड़ रुपये नकद और कुछ आपत्तिजनक दस्तावेज और डिजिटल रिकॉर्ड जब्त किया है. प्रवर्तन निदेशालय ने कहा कि उसे इस बात की सूचना मिली थी कि ये इकाइयां विदेशियों को ई-वीजा सेवाएं प्रदान करने के नाम पर पेमेंट गेटवे के जरिये विदेश से अनधिकृत तरीके से धन प्राप्त कर रही है. शुरुआती जांच में यह बात सामने आई है कि ऐसी दो इकाइयों को विदेशियों के भारतीय ई-वीजा के प्रसंस्करण के लिए विदेश से 200 करोड़ रुपये प्राप्त हुए हैं.

  कोझिकोड विमान हादसे की जांच के लिए पैनल का गठन

हालांकि, इन इकाइयों को सरकार (Government) की ओर से इस काम के लिए अधिकृत नहीं किया गया है. ईडी ने कहा कि इसके अलावा ये इकाइयां ऊंचे मूल्य के संदिग्ध लेनदेन में भी शामिल हैं. इसके अलावा यह तथ्य भी सामने आया है कि कुछ चार्टर्ड अकाउंटेंट ने इन इकाइयों के कामकाज के प्रबंधन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. संदिग्ध लेन-देन में भी इनकी भूमिका है. ईडी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इस मामले की जांच चल रही है. इन कंपनियों के निदेशकों और कार्यकारियों से पूछताछ की जाएगी.

  वैल्वोलाइन ने ‘मेकैनिकों’ के लिये उदयपुर में अपनी पहली सुरक्षा पहल लॉन्च की

Check Also

राष्ट्र के लिए जिएंगे, राष्ट्र के लिए मरेंगे

स्वतंत्रता दिवस पर मुख्यमंत्री ने झंडावंदन कर सलामी ली भोपाल . मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान …