ईडी ने हवाला कारोबारियों के ठिकानों पर मारा छापा


जयपुर. जयपुर में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने हवाला कारोबार करने वाले बुलियन कारोबारियों के ठिकानों पर छापामारी की. इस दौरान प्रवर्तन निदेशालय ने 27 किलो सोना और 12.22 किलो चांदी की है. छापेमारी के दौरान सामने आया ‎कि बेनामी तरीके से कारोबार करने वाले ज्वैलर्स का देशी विदेशी मुद्रा का अकूत भंडार छापे की कार्रवाई में सामने आया है. प्रवर्तन निदेशालय ने जयपुर के जाने माने बुलियन और ज्वैलर्स कारोबारियों के ठिकानों पर छापा मारा है. प्रवर्तन निदेशालय ने हवाला कारोबार की सूचना पर छापे की कार्रवाई की है.

  नाबालिग लड़की को पड़ोसी बहला फुसला कर हुआ फरार

जयपुर में ज्वैलर्स तारा चंद सोनी की महाराजा ज्वैलर्स फर्म, ज्वैलर्स रामगोपाल सोनी की मैसर्स भगवती ज्वैलर्स फर्म, और लड़ीवाला एसोसिएट्स के मालिक हनी लड़ीवाला के ठिकानों पर छापे की कार्रवाई की है. प्रवर्तन निदेशालय को छापे की इस कार्रवाई में सोने चांदी का अवैध खजाना हाथ लगा है. तीनों ज्वैलर्स के ठिकानों पर कुल 27 किलो सोना जब्त किया गया है जबकि 12.22 किलो चांदी भी जब्त की गई है. ज्वैलर्स छापे की कार्रवाई के दौरान इस सोने-चांदी के अकूत भंडार से जुड़े दस्तावेज पेश नहीं कर पाए. मगर, देशी-विदेशी मुद्रा के अकूत भंडार मिले हैं. बताया गया ‎कि ज्वैलर्स और बुलियन कारोबारियों के ठिकानों से देशी और विदेशी मुद्रा के रूप में 3.75 करोड़ रुपए की नकदी जब्त की गई है.

  कोरोना के खिलाफ लड़ाई में आगे आया राठौर समाज ,दिए एक लाख रुपए

प्रवर्तन निदेशालय ने इन ज्वैलर्स से जुड़े चैन्नई और कोलकाता के कारोबारियों के ठिकानों पर भी छापे की कार्रवाई की है. मैसर्स बांका बुलियन के मालिक हर्ष बोथरा की तस्करी और हवाला कारोबार में सबसे अहम रोल निभाता रहा है. फर्जी फर्मों के नाम से गोरखधंधे के लिए सोने चांदी का ये कारोबार कोलकाता से कई राज्यों में सामने आया है. जांच में यह खुलासा हुआ है कि जांच एजेंसियों की आंखों में धूल झोंकने के लिए जिन विदेशी बैंकों से सोने को खरीदा जाता था, उनके नाम और मुहर को फर्जी तरीके से हटाकर देश में तस्करी के जरिए भेजा जाता है.

  पीएम मोदी की तस्वीर पर लिखे थे अपशब्द, नोएडा पुलिस ने पहुंचाया हवालात

Check Also

तेज रफ्तार से बढ़ते जा रहे हैं कोरोना के मरीज

राष्ट्रीय » तेज रफ्तार से बढ़ते जा रहे हैं कोरोना के मरीज नई दिल्‍ली . …