वानखेड़े स्टेडियम में बिना निगेटिव RT-PCR रिपोर्ट के नहीं होगी एंट्री


नई दिल्ली (New Delhi) . देश में बेकाबू हो चुकी कोरोना की दूसरी लहर के बीच आईपीएल (Indian Premier League) के 14वें सीजन का आगाज हो चुका है. बेहद कड़े नियमों और खाली स्टेडियमों के भीतर खेले जाने वाले इस टूर्नामेंट को लेकर बीसीसीआई सतर्क है और अब बोर्ड की ओर से बड़ा फैसला लिया गया है. कोविड संक्रमण से महाराष्ट्र (Maharashtra) की राजधानी मुंबई (Mumbai) सर्वाधिक प्रभावित है, यहां के ऐतिहासिक वानखेड़े स्टेडियम में 10 मुकाबले खेले जाने है.

  प्रदेश में शुरू होगी मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना

अब नए नियमों के तहत मैच के दौरान उपस्थित होने वाले सभी अधिकारियों को निगेटिव आरटी-पीसीआर टेस्ट दिखाना होगा. यह रिपोर्ट मैच से 48 घंटे की समय सीमा के भीतर होना चाहिए. आठ अप्रैल को अपेक्स काउंसिल के सदस्यों की बैठक में यह फैसला सुनाया गया. बीसीसीआई की ओर से सुबह 11 बजे से लेकर दोपहर एक बजे के बीच में आरटी-पीसीआर टेस्ट करवाए जाएंगे. जिन भी अधिकारियों को मैच के दौरान स्टेडियम में उपस्थित होना है या फिर मैच देखना है तो उन्हें इस प्रकिया से गुजरना होगा और अपनी उपस्थिति ई-मेल द्वारा दर्शानी होगी.

  क्यों हारे, खुले दिमाग से समझने की जरूरत: सोनिया गांधी

बीसीसीआई के निर्देश के बाद, मुंबई (Mumbai) क्रिकेट एसोसिएशन (एमसीए) ने गुरुवार (Thursday) को अपने एपेक्स काउंसिल के सदस्यों को लिखा कि वानखेड़े के प्रवेश द्वार पर ही कोविड निगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी. वानखेड़े स्टेडियम में पहला मैच आज चेन्नई (Chennai) सुपर किंग्स और दिल्ली कैपिटल के बीच होना है. एमसीए सचिव संजय नाइक ने पत्र में लिखा, ‘जिन लोगों को टीका लगाया गया है, उनके लिए भी परीक्षण अनिवार्य है.’

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *