महामारी : रेलवे ने नई योजनाएं मार्च तक टालीं

नई दिल्‍ली . रेलवे ने चालू वित्त वर्ष के लिए मंजूर बुनियादी ढांचे से संबंधित सभी नए कार्यों को रोक दिया है. कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर सरकार ने 500 करोड़ रुपये तक की सभी नई योजनाओं को मार्च, 2021 तक स्थगित करने का आदेश दिया है, जिसके बाद रेलवे ने यह कदम उठाया. रेलवे बोर्ड ने बुधवार को इसकी जानकारी दी.

corona-railway

यह समाचार पर पूरे विस्‍तार से पढ़ें

इसके अलावा रेलवे ने क्षेत्रीय (जोनल) रेलवे और उसकी सभी उत्पादन इकाइयों से कहा है कि वे नया कार्य तभी आगे बढ़ाएं जबकि ट्रेनों के परिचालन की सुरक्षा की दृष्टि से वह जरूरी हो. इसके लिए भी उन्हें वित्त मंत्रालय की मंजूरी लेनी होगी.

  डॉलर के मुकाबले रुपये के कमजोर सोने में तेजी, चांदी ने लगाई छलांग

रेलवे को महामारी की वजह से इस साल अभी तक यात्रियों से प्राप्तक होने वाली राशि में 35,000 से 40,000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. इसके अलावा पिछले साल की तुलना में रेलवे मालढुलाई में 18 प्रतिशत पीछे चल रही है. रेलवे बोर्ड की ओर से 28 जुलाई को जारी आदेश के अनुसार पिछले वर्षों में मंजूर ऐसे सभी कार्य जिनमें मामूली या बिल्कुल भी प्रगति नहीं हुई है, उन्हें भी रोक दिया जाए.

  Ram Mandir Bhumi Poojan: 104 करोड़ की लागत से अयोध्या रेलवे स्टेशन का होगा कायाकल्प

आदेश में कहा गया है कि नए कार्य-पिंक बुक 2020-21 में शामिल कार्यों को रोक दिया जाए. हालांकि, ऐसे कार्य जो ट्रेनों के सुरक्षित परिचालन की दृष्टि से जरूरी हैं, उन्हें जारी रखा जा सकता हैं. आदेश में कहा गया है कि ऐसे कार्यों की अनिवार्यता की समीक्षा संबंधित अतिरिक्त सदस्य, अतिरिक्त सदस्य-कार्य और अतिरिक्त सदस्य-राजस्व द्वारा की जाएगी

  राष्ट्रपति द्वारा शहीद के पिता की याचिका पर समुचित कार्यवाही का आश्वासन

आदेश में कहा गया है कि 2019-20 तक मंजूर ऐसे कार्येां को, जिनमें विशेष प्रगति नहीं हुई है, अगले आदेश तक रोक दिया जाए. अधिकारियों ने कहा कि रेलवे की बड़ी बुनियादी ढांचा परियोजनाएं मसलन शत-प्रतिशत विद्युतीकरण, तेज गति के गलियारों को दोगुना करने से संबंधित परियोजनाएं इस आदेश से प्रभावित नहीं होंगी.


Check Also

Gujarat Hospital Fire : अहमदाबाद के कोविड अस्पताल में आग, 8 कोरोना मरीजों की मौत

गुजरात के अहमदाबाद (Ahmedabad) के नवरंगपुरा में गुरुवार (Thursday) तड़के एक कोविड डेडिकेटेड अस्पताल के …