Saturday , 18 September 2021

सेहत के लिए खतरनाक साबित हो सकती है प्रदूषित हवा में एक्सरसाइज


नई दिल्ली (New Delhi) . दैनिक एक्सरसाइज स्वास्थ्य को अच्छा बनाए रखने में सहायक होती है. लेकिन प्रदूषित हवा में एक्सरसाइज करना उतना ही खतरनाक भी होता है. अध्ययनों के अनुसार जब हवा जहरीली हो, तब सांस लेना मुश्किल हो जाता है. ऐसे में कसरत जारी रखना आपके स्वास्थ्य के लिए बेहद खतरनाक भी हो सकता है. अच्छी गुणवत्ता वाला मास्क पहनने के बाद भी हवा में मौजूद धूल और गंदगी के कण सांस के साथ आपके अन्दर जाते हैं. इससे फेफड़ों में समस्या होने की आशंका रहती है. फेफड़ों के अलावा ज्यादा देर तक प्रदूषित हवा की वजह से आंखों में जलन, नाक और गलने में जलन के अलावा दिल के दौरे और स्ट्रोक की आशंका भी होती है.

  एक ऐसी महिला जो अपनी बहुओं के रोज पैर धोकर करती है पूजा !

बाहर कसरत के दौरान हम ज्यादातर दौड़ना, साइकिल चलाना या पैदल चलने जैसी एरोबिक गतिविधियां करते हैं. इससे हम ज्यादा ऑक्सीजन सांस के साथ अंदर लेते हैं. ये फेफड़ों में अधिक गहराई के साथ जाती है. ऑक्सीजन की बड़ी मात्रा में हम सांस मुंह से लेते हैं. नाक के माध्यम से अन्दर जाने वाली हवा की तुलना में मुंह से ज्यादा धूल और गंदगी के कण जाते हैं और ये फेफड़ों को नुकसान पहुंचाते हैं.

  बच्चों को मानसिक तौर पर बीमार कर रहा इंस्टाग्राम

हवा की गुणवत्ता अक्सर सर्दियों में खराब होती है. ऐसे में घर के अंदर रहकर व्यायाम करना ही उचित विकल्प माना जा सकता है. बाहर जाकर आप मास्क के साथ भी कुछ पसीना बहाने का निर्णय लेते हैं, तो आप आंखों को प्रदूषण से नहीं बचा सकते हैं. जब हवा में प्रदूषण का स्तर बढ़ जाता है, तो ज्यादा से ज्यादा समय घर पर रहना ही बेहतर होता है. बच्चों और बुजुर्गों को इस दौरान सावधानी बरतने की जरूरत होती है. अपने घर में रहकर ही फिटनेस के लिए योग, जॉगिंग और स्किपिंग जैसी गतिविधियां की जा सकती हैं.

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *