फेसबुक ने कोरोना से मुकाबले के लिए यूजर्ज की आवाजाही और रिश्तों के आंकड़े दिए

सैंन फ्रांसिस्को . फेसबुक ने कहा है कि वह अपने यूजर्स की पहचान गोपनीय रखते हुए उनकी आवाजाही तथा उनके रिश्तों के बारे में शोधकर्ताओं को जानकारी मुहैया करा रहा है, ताकि यह समझा जा सके कि कोरोना (Corona virus) का संक्रमण आगे कहां-कहां फैल सकता है.

फेसबुक के प्रमुख अधिकारियों के एक्स जिन और लौरा मैकगोर्मन ने अपनी एक पोस्ट में लिखा कि सोशल नेटवर्किंग कंपनी जनसंख्या आवाजाही को लेकर अपने मैप को उन्नत कर रही है, जिसमें इनसाइट मूवमेंट टूल शामिल है.

  दिल्ली में कोरोना के करीब 7000 मरीज हुए ठीक अब तक 288 की गई जान

उन्होंने कहा कि इसमें लोगों की निजता को पूरी तरह गोपनीय रखा जाएगा. जिन और मैकगोर्मन ने कहा अस्पताल सही संसाधन प्राप्त करने के लिए काम कर रहे हैं, और सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणालियां सही दिशानिर्देश चाह रही हैं. उन्होंने कहा उन्हें इस बारे में बेहतर जानकारी चाहिए कि क्या निवारक उपाय काम कर रहे हैं और वायरस कैसे फैल सकता है. पिछले सप्ताह गूगल ने भी इस तरह के कदम की घोषणा की थी, जिसमें कहा गया था कि दुनिया भर में उपयोगकर्ताओं की आवाजाही से संबंधित डेटा प्रदान करेगा, जो सरकारों को कोरोना-19 महामारी को काबू में पाने के लिए लागू किए गए ‘सामाजिक दूरी’ के उपायों के असर का पता लगाने में मदद करेगा.

  ट्रेनों का गंतव्य से भटक जाना, भूख-प्यास से प्रवासी श्रमिकों की मौत दुःखद-कांग्रेस

Check Also

लोगों का मनोबल बनाए रखने में मीडिया की बड़ी भूमिका: कलराज मिश्र

जयपुर (jaipur). राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा कि कोरोना (Corona virus) महामारी (Epidemic) …