Sunday , 28 February 2021

अंतत: तंजानिया के राष्ट्रपति ने देश में कोरोना वायरस संक्रमण की बात स्वीकारी

नैरोबी, केन्या . तंजानिया के राष्ट्रपति जॉन मगुफुली ने लंबे समय तक ईश प्रार्थना के द्वारा कोविड-19 (Covid-19) को शिकस्त देने के अंधविश्वासी दावे के बाद अंतत: अब देश में वायरस के मामले होने बात स्वीकार ली है. मगुफुली ने पूर्वी अफ्रीकी देश के लोगों से एहतियाती उपाय करने और मास्क पहनने का अनुरोध किया. उन्होंने महामारी (Epidemic) के दौरान कोविड-19 (Covid-19) टीकों सहित विदेश में निर्मित सामानों को लेकर आगाह भी किया.

राष्ट्रपति का यह बयान जांजीबार के उपराष्ट्रपति के निधन के कुछ दिन बाद आया है. उनकी पार्टी ने नेता के कोरोना (Corona virus) से संक्रमित होने की पुष्टि की थी. राष्ट्रपति के मुख्य सचिव का भी हाल ही में निधन हो गया था, लेकिन मौत के कारण का खुलासा नहीं किया गया है. मुख्य सचिव के अंतिम संस्कार के मौके पर मगुफुली ने अनिर्दिष्ट “श्वसन” बीमारियों से निपटने के लिए लोगों से तीन दिन की प्रार्थना में शामिल होने का आग्रह किया. यह बयान राष्ट्रीय प्रसारक पर शुक्रवार (Friday) को प्रसारित किया गया था. तंजानिया ने पिछले साल अप्रैल से ही देश में कोविड-19 (Covid-19) के मामलों को लेकर कोई जानकारी नहीं दी है और राष्ट्रपति लगातार इस बात का दावा करते रहे हैं कि इसे मात दी जा चुकी है.

  PNB घोटाले के आरोपी नीरव मोदी को भारत प्रत्यर्पित किया जाएगा ?

तंजानिया में कोविड-19 (Covid-19) के आधिकारिक तौर पर केवल 509 मामले हैं, लेकिन स्थानीय लोगों ने बताया कि कई लोगों ने सांस लेने में तकलीफ होने की शिकायत की है और अस्पतालों में निमोनिया के मरीज भी बढ़े हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) के महानिदेशक टेड्रोस अधानोम ने शनिवार (Saturday) को एक बयान में कहा था कि तंजानिया का वायरस की समस्या को स्वीकार करना उसके नागरिकों, पड़ोसी देशों और विश्व के लिए काफी अच्छा होगा. ट्रेडोस ने मगुफुली से ‘कड़ी कार्रवाई’ करने का अनुरोध भी किया था.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *