एस्कॉर्ट सर्विस के नाम पर ठगी करने वाले चार गिरफ्तार, महज 15 दिनो में 300 लोगों को बनाया शिकार, ठगे 5.50 लाख

उदयपुर (Udaipur) . उदयपुर (Udaipur) की सलूंबर पुलिस (Police) ने एस्कॉर्ट सर्विस के नाम पर ठगी करने वाले ‎गिरोह का पर्दाफाश ‎किया है. पु‎लिस ने ‎गिरोह के चार लोगों को ‎गिरफ्तार ‎किया है. इन आरो‎पियों ने महज 15 ‎दिनों में करीब 300 से अधिक लोगों को ऑनलाइन ठगी का शिकार बनाया है. इन आरोपियों ने लोकेंटो एप नाम की एक मोबाइल ऐप से चेन्नई (Chennai) के लोगों से 5.50 लाख ठग लिए हैं.

इसकी पु‎ष्टि करते हुए उदयपुर (Udaipur) एसपी राजीव पचौरी ने बताया कि इस मामले में गिरफ्तार किए गए आरोपियों में मणिलाल पुत्र वेलजी, हरीश, मणिलाल पुत्र मानजी और जितेंद्र पुत्र वेलजी को गिरफ्तार किया गया है. सलूंबर की डीएसपी सुधा पालावत को जानकारी मिली थी कि मणिलाल और उसके साथी अलग-अलग जगहों पर घूमकर मोबाइल से एडल्ट वेबसाइट के जरिए युवतियों के फोटो अपलोड कर रहे हैं. पुलिस (Police) की टीम ने जब दबिश दी तो एक युवक भाग कर मकान में घुस गया. इसके बाद पुलिस (Police) ने किराए के मकान से चारों युवकों को मोबाइल पर ऑनलाइन ठगी करते हुए गिरफ्तार किया. इस मौके से पुलिस (Police) ने 5.50 लाख, 8 मोबाइल और मोबाइल फोन में लगी 8 सिम भी बरामद की है.

  जल संरक्षण के महत्व को समझें लोग: राकेश कुमार प्रजापति

लोकेंटो नाम की मोबाइल ऐप में एस्कॉर्ट सर्विस का भी ऑप्शन है. इस पर आरोपी युवतियों के फर्जी फोटो अपलोड करते हैं. इसके लिए 2000 रुपए ऑनलाइन जमा कर विज्ञापन के लिए रजिस्ट्रेशन भी कराते हैं. इसके बाद युवतियों के फोटो के साथ फर्जी मोबाइल नंबर डालकर लोगों को बहलाते और फुसलाते हैं. वह आरोपियों द्वारा दिए गए नंबर पर संपर्क करता है और यह उससे रजिस्ट्रेशन के नाम पर 500 रुपए पेटीएम या गूगल पे के माध्यम से वसूल लेते हैं. आरोपी रजिस्ट्रेशन के नाम पर लिए गए रुपयों के बाद में युवतियों के कुछ फोटो भेजते हैं और उसके बाद व्यक्ति से 2000 रुपए एडवांस डालने के लिए कहा जाता है. ‎फिलहाल पु‎लिस आरो‎पियों से पूछताछ कर रही हैं और ‎‎गिरोह के अन्य लोगों का पता लगाने की को‎शिश कर रही है.

Rajasthan news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *