Tuesday , 24 November 2020

बिकरू हत्याकांड में FSL को हथियारों पर कई लोगों की अंगुलियों के निशान मिले


कानपुर (Kanpur) . बिकरू हत्या (Murder) कांड को लेकर फॉरेंसिक साइंस लेबोरेट्री (एफएसएल) की जांच में सामने आया है कि घटना में इस्तेमाल हुए हथियारों पर कई लोगों की अंगुलियों के निशान मिले हैं. अपराधी विकास दुबे व उसके साथियों ने 3 जुलाई को आठ पुलिस (Police)कर्मियों की गोली मारकर हत्या (Murder) कर दी थी. एफएसएल अधिकारी ने बताया, हमने देशी कट्टे के अलावा पिस्तौल, राइफल, सिंगल एंड डबल-बैरल गन सहित दस हथियार बरामद किए थे. इन हथियारों पर एक से ज्यादा लोगों के निशान थे, जिससे पता चलता है कि घटना के दौरान इसका प्रयोग एक से ज्यादा लोगों ने किया था.”

  गोवंश के संरक्षण-संवर्धन हेतु लगेगा 'Cow Cess' इस पावन कार्य में होगी सभी की भागीदारी

हथियारों पर कई फिंगरपिंट्र्स से जांचकर्ताओं के सामने आरोपी के फिंगरप्रिंट से मिलान करना मुश्किल हो जाएगा. इस बीच,कानपुर (Kanpur) में जिला अधिकारियों ने दुबे के आठ और साथियों के हथियारों के लाइसेंस रद्द कर दिए हैं. बिकरू हत्या (Murder) कांड के बाद, जिला प्रशासन ने दुबे के करीबी सहयोगियों और परिजनों को जारी 25 हथियारों के लाइसेंस को रद्द करने की प्रक्रिया शुरू कर दी थी. एडीएम (सिटी) अतुल कुमार ने बताया कि प्रशासन ने दीपक दुबे, कांत शुक्ला, रमेश चंद द्विवेदी, राकेश कुमार, रविंदर कुमार, सुरज सिंह और आशुतोष के हथियार लाइसेंस को रद्द कर दिया है. इनमें से सुरज और आशुतोष को छोड़कर सभी बिकरू गांव के रहने वाले हैं.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *