गड़करी का अपनी ही सरकार को सुझाव LPG गैस की जगह, इंडक्शन कुकिंग पर सरकार सब्सिडी दे

नई दिल्ली (New Delhi) . पेट्रोल (Petrol) और डीजल पर देश की निर्भरता को कम करने के लिए सड़क और परिहवन मंत्री नितिन गडकरी इलेक्ट्रिक व्हीकल्स के ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल पर जोर दे रहे है. लोग इलेक्ट्रिक व्हीकल्स का इस्तेमाल शुरू करें इसके पहले उन्होंने सरकार के विभागों में ही ई-व्हीकल्स के इस्तेमाल पर जोर दिया. हो सकता है आने वाले वक्त में एलपीजी गैस सिलेंडर की जगह आपको इंडक्शन कुकिंग पर सरकार सब्सिडी दे. उन्होंने इसके लिए सरकार से विचार करने के लिए कहा है.

  राकेश टिकैत ने कसा मोर्चा, किसान आंदोलन के लिए समर्थन जुटाने करेंगे पांच राज्यों का दौरा

गडकरी ने प्रस्ताव दिया है कि सभी मंत्रालयों और विभागों के सरकारी अधिकारियों को अनिवार्य रूप से सिर्फ इलेक्ट्रिक गाड़ियों का ही इस्तेमाल करना चाहिए. इतना ही नहीं गडकरी ने सरकार को भी सुझाव दिया है कि घरों में इस्तेमाल के लिए कुकिंग गैस के लिए जो मदद दी जाती है, उसकी जगह इलेक्ट्रिक कुकिंग अप्लायंसेज खरीदने पर सब्सिडी दी जानी चाहिए. उन्होंने कहा कि हम इलेक्ट्रिक कुकिंग अप्लायंसेज को खरीदने के लिए सब्सिडी क्यों नहीं देते. हम कुकिंग गैस पर सब्सिडी दे रहे हैं. गडकरी के सुझाव के पीछे मकसद है कि देश की गैस इंपोर्ट पर निर्भरता कम हो, साथ इलेक्ट्रिक कुकिंग से प्रदूषण का भी खतरा कम होगा.

  बच्चों में लंबे समय तक टिक सकता है संक्रमण, बड़ों की तुलना में देर तक बनी रहती हैं कोरोना से जुड़ी समस्याएं

देश में लगातार महंगे होते पेट्रोल-डीजल से आम जनता परेशान है, सरकार पर भी इसका बोझ जरूर पड़ रहा है. इसकारण गडकरी ने सभी मंत्रालयों, विभागों के अधिकारियों को इलेक्ट्रिक गाड़ियों का इस्तेमाल अनिवार्य करने का सुझाव दिया है. उन्होंने ऊर्जा मंत्री आर के सिंह से अपील की कि वहां अपने विभाग में इलेक्ट्रिक गाड़ियों का इस्तेमाल जरूरी करें, इसके बाद दूसरे विभागों में इसे अनिवार्य किया जाएगा. गडकरी ने कहा कि दिल्ली में 10,000 इलेक्ट्रिक गाड़ियों के इस्तेमाल से 30 करोड़ रुपये हर महीने बचाए जा सकते हैं. इस कार्यक्रम में मौजूद ऊर्जा मंत्री आर के सिंह ने फ्यूल सेल बस सर्विस का ऐलान किया, जो दिल्ली से आगरा (Agra) और दिल्ली से जयपुर (jaipur)के बीच चलेगी हालांकि इसकी तारीख का ऐलान अभी नहीं हुआ है.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *