गेंदबाजी करने पर ही पांड्या को शामिल करें : गंभीर

नई दिल्ली (New Delhi) . भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने कहा है कि ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या को तभी अंतिम ग्यारह में रखा जाए जब वो गेंदबाज़ी करने में सक्षम हों. गंभीर ने टीम इंडिया का आंकलन करते हुए कहा, ‘हाल ही में खत्म हुए आईपीएल (Indian Premier League) में पांड्या के गेंदबाज़ी नहीं करने के कारण चयनकर्ताओं ने अंतिम समय पर एक बदलाव के तहत स्पिन गेंदबाजी ऑलराउंडर अक्षर पटेल की जगह तेज़ गेंदबाज़ शार्दुल ठाकुर को टीम में शामिल किया था. मैं चाहता हूं कि पांड्या अपने पूरे कोटे की पूरी गेंदबाज़ी करे. अगर फिटनेस की कोई समस्या नहीं हुई तो वो टीम को अच्छा संतुलन दे सकते हैं हालांकि अगर वो गेंदबाज़ी नहीं करते हैं तो मैं उन्हें अपनी टीम में नहीं रखने के पक्ष में हूं.’

गंभीर ने साल 2007 टी-20 वर्ल्ड का जिक्र करते हुए कहा कि दोनों टीम में समानताएं हैं. उस समय भी कप्तान सहित कई खिलाड़ी अपनी जगह पक्की करने में लगे थे और आज भी ऐसा ही हो रहा है. उन्होंने लिखा,’ विराट ने कहा है कि वो विश्व कप के बाद टी-20 की कप्तानी छोड़ देंगे. सलामी बल्लेबाज के तौर पर लोकेश राहुल अपने को स्थापित करने का प्रयास कर रहे हैं. हम सब हार्दिक को एक सफल ऑलराउंड के तौर पर देखना चाहते हैं पर लेकिन अभी तक ऐसा नहीं हुआ है. सूर्यकुमार यादव, ईशान किशन और वरुण चक्रवर्ती के अभी शुरुआती दौर हैं. धोनी पहली बार मेंटोर की तरह टीम के साथ जुड़े हैं. साल 2007 की तरह ही इस बार भी लोगों को अपने-अपने लक्ष्य हैं.’

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *