Friday , 26 February 2021

पहली ही गेंद पर विकेट मिलना सपने के सच होने जैसा : शार्दुल

ब्रिसबेन . ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ यहां चौथे क्रिकेट टेस्ट मैच में शानदार बल्लेबाजी और गेंदबाजी करने वाले युवा खिलाड़ी शार्दुल ठाकुर अपने प्रदर्शन से बेहद खुश हैं. उन्होंने अनुभवी स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को दिए एक साक्षात्कार में कहा, ‘टेस्ट क्रिकेट खेलने के लिए फिर से दो साल का इंतजार करना और पहली ही गेंद पर विकेट मिलना किसी सपने के सच होने जैसा है. टीम के लिए योगदान देने की मुझे खुशी है.’ ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहली पारी में तीन विकेट लेने वाले शार्दुल ने भारत की ओर से पहली पारी में सबसे ज्यादा 67 रन बनाने के साथ ही वाशिंगटन सुंदर 62 के साथ सातवें विकेट के लिए 123 रन की रिकार्ड साझेदारी भी की थी जिसके कारण ही मैच में भारतीय टीम की वापसी हुई है.

  अगले माह दो दोस्ताना मैच खेलेगी भारतीय फुटबॉल टीम

अपनी पारी का आगाज छक्के से करने वाले शारदुल ने छक्का लगाकर टेस्ट में पहला अर्धशतक पूरा किया.
इस बारे में उन्होंने कहा, ‘उस समय मैं छक्का लगाने के बारे में नहीं सोच रहा था, यह सिर्फ एक प्रतिक्रिया थी. मैंने गेंद को देखा और सहज रूप से खेला. यह मेरे लिए अच्छा साबित हुआ. मैं इसे लेकर खुश हूं. ” पारी के दौरान आकर्षक कवर ड्राइव के बारे में पूछे जाने वर उन्होंने कहा, ‘ईमानदारी से कहूं तो मैंने उसके लिए अभ्यास नहीं किया है लेकिन यह उन दिनों में से एक था जब मैं वास्तव में अच्छी बल्लेबाजी कर रहा था. मैं किसी भी मौके को गंवाना नहीं चाहता था और हर कमजोर गेंद को अपने तरीके से खेला.’ शार्दुल ने कहा कि दो साल पहले दाका टेस्ट में साल 2018 में उनका पदार्पण बेहद ही निराशाजनक रहा था जब वह वेस्टइंडीज के खिलाफ केवल 10 गेंद फेंकने के बाद चोटिल होकर मैच से बाहर हो गये थे पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ यहां जारी चौथे टेस्ट मैच में गेंद और बल्ले से टीम के लिए योगदान देकर उसकी वापसी अच्छी रही है. अक्टूबर 2018 में हैदराबाद में वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट मैच के पहले दिन 10 गेंद की गेंदबाजी करने के बाद शारदुल को कमर की मांसपेशियो में खिचांव के कारण मैदान से बाहर जाना पड़ा था..

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *