वैश्विक सम्मेलन 22-23 अप्रैल को

इस्लामाबाद . अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने जलवायु परिवर्तन पर होने वाले ऑनलाइन सम्मेलन में पाकिस्तान को आमंत्रित नहीं किया है. यह वैश्विक सम्मेलन 22-23 अप्रैल को होगा. खास बात ये है कि इस वर्ष के अंत में संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन सम्मेलन (सीओपी26) से पहले बाइडेन के विशेष दूत जॉन कैरी भी इस मुद्दे पर चर्चा के लिए 1 से 9 अप्रैल को भारत, बांग्लादेश और यूएई की यात्रा करेंगे. इस यात्रा में भी पाकिस्तान का नाम शामिल नहीं है. अमेरिका के इस कदम से पाकिस्तान बिलबिला गया है. इसी मुद्दे पर प्रधानमंत्री इमरान खान ने सोशल मीडिया (Media) पर अमेरिकी प्रशासन के खिलाफ नाराजगी जताई है.

इमरान ने सोशल मीडिया (Media) पर तीन टिप्पणियों में लिखा, ‘मैं पाकिस्तान को परमाणु सम्मेलन में नहीं बुलाए जाने के बाद से उठ रही आवाजों से परेशान हूं. हम जलवायु परिवर्तन के प्रभाव को कम करने, स्वच्छ और हरा भरा पाकिस्तान बनाने का प्रयास कर रहे हैं. इसलिए हमारी ग्रीन पाकिस्तान की पहल, 10 अरब पेड़ लगाना, प्रकृति आधारित समाधान, नदियों की सफाई से हमने बीते 7 साल में काफी अनुभव प्राप्त किया है. हमारी नीतियों की सराहना की गई है और मान्यता दी गई है. हम किसी भी देश की मदद करने के लिए तैयार हैं, जो हमारे अनुभव से सीखना चाहता है. मैंने संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन सम्मेलन 2021 के लिए पहले से ही प्राथमिकताएं तय कर ली हैं.

Rajasthan news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *