धोखाधड़ी मामले में अमीषा पटेल की गिरफ्तारी पर हाईकोर्ट ने लगाई रोक

रांची . ढाई करोड़ रुपए की धोखाधड़ी के मामले में अभिनेत्री अमीषा पटेल को झारखंड हाईकोर्ट ने राहत दी है. हाईकोर्ट ने उनके खिलाफ रांची की निचली अदालत से जारी गिरफ्तारी वारंट पर रोक लगा दी है. इसके साथ ही सूचक को जवाब दायर करने को कहा है. सुनवाई के दौरान अभिनेत्री के वकील ने कोर्ट को बताया कि धोखाधड़ी की उनकी कोई मंशा नहीं है.

उन्होंने निचली अदालत द्वारा जारी वारंट को निरस्त करने का आग्रह किया. इस सिलसिले में प्रार्थी अमीषा पटेल प्रोडक्शन की ओर से हाईकोर्ट में क्रिमिनल क्वैशिंग याचिका दायर की गई है. याचिका में रांची के न्यायिक दंडाधिकारी कुमार विपुल की अदालत द्वारा जारी समन और वारंट को चुनौती दी गई है. निचली अदालत ने मामले की सुनवाई करते हुए अमीषा पटेल और अन्य के खिलाफ समन जारी किया था.

  पीएम मोदी के गृह नगर के भाई-बहन फंसे चीन के वुहान में

अदालत ने अमीषा पटेल को अपना पक्ष रखने का निर्देश दिया था. अदालत ने चार बार उपस्थित होने को कहा लेकिन अभिनेत्री उपस्थित नहीं हुईं. जिसके बाद अदालत ने अमीषा पटेल और उनके अधिकारी कमल गुमर के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया था. वर्ष 2017 में रांची में एक कार्यक्रम के दौरान अभिनेत्री अमीषा पटेल ने हरमू निवासी अजय सिंह को फिल्म देसी मैजिक में पैसा लगाने का ऑफर दिया था.

  फिल्मी अंदाज में यमुना एक्सप्रेस-वे पर लूट, गाड़ी पंक्चर कर बनाया निशाना

अजय सिंह ने ढाई करोड़ रुपया अमीषा पटेल के खाते में डाल दिया था, लेकिन इकरारनामा के अनुसार फिल्म 2018 में रिलीज नहीं हुई. जिसके बाद अजय सिंह ने अमीषा पटेल से अपने पैसे की मांग की. काफी टाटमटोल के बाद अक्टूबर 2018 में अमीषा पटेल की ओर से अजय सिंह को ढाई करोड़ और पचास लाख का दो चेक दिया गया, जो बाउंस हो गया. इसके बाद अजय सिंह ने नवंबर 2018 में कोर्ट में केस दर्ज कराया.

  गणतंत्र दिवस पर मैं देश-विदेश के हर भारतवासी को, हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं: राष्ट्रपति

Check Also

ट्रेन से कटकर बच्चे समेत महिला की मृत्यु

औरैया. जिले के दिवियापुर क्षेत्र में मंगलवार की सुबह दिल्ली-कोलकाता रेलमार्ग पर कहिंजरी व गपकापुर …