रंग नहीं प्रदर्शन के कारण टीम में हूं : बावुमा


केप टाउन. दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज तेंबा बावुमा ने माना है कि मेरा रंग नहीं बल्कि खेल देखा जाना चाहिये. साथ ही कहा कि कई बार उनकी त्चचा के रंग पर ध्यान दिया जाता है, जिससे उनका करियर प्रभावित हुआ है. इंग्लैंड के खिलाफ पहले एकदिवसीय मुकाबले में मिली जीत में बावुमा की अहम भूमिका रही है. पिछले कुछ समय के अपने खराब प्रदर्शन पर बावुमा ने कहा, ‘यह काफी कठिन है. यह बाहर जाने को लेकर नहीं है. सभी खिलाड़ी बाहर होते हैं.

  Women’s T20 World Cup : भारत लगातार तीसरी बार अपना पहला मैच जीता, डिफेंडिंग चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया को 17 रन से हराया

हर खिलाड़ी उस दौर से गुजरता है जहां वे रन नहीं बनाते हैं पर मेरे लिए परेशानी तब होती है जब वे ट्रांसफॉर्मेशन (परिवर्तन) की बात करते हैं. हां, मैं अश्वेत हूं और यह मेरी त्वचा का रंग है.’ उन्होंने आगे कहा, ‘मैं क्रिकेट खेलता हूं क्योंकि यह मुझे पसंद है. मैं टीम में हूं क्योंकि मैंने अपने प्रदर्शन के बल पर अपनी टीम को आगे बढ़ाया है.’ दक्षिण अफ्रीका के नियमों के अनुसार टीम में दो अश्वेत खिलाड़ियों को जगह दी जाती है. बावुमा ने कहा कि कुछ लोग सोशल मीडिया पर उनके बारे में बात कर रहे हैं कि वे इसी नीति के कारण टीम में हैं जबकि यह सही नहीं है उन्हें अपने प्रदर्शन के कारण टीम में जगह मिली है.

  सऊदी अरब में पहली बार ताश के टूर्नामेंट में पुरुषों के मुकाबले में महिला टीमें भी

Check Also

सैमी को मानद नागरिकता से सम्मानित करेगा पाक

कराची . पाकिस्तान सरकार ने वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान डेरेन सैमी को देश में अंतरराष्ट्रीय …