दोस्त की नाबालिग बेटी से दुष्कर्म के आरोपी को 10 साल की सजा

भिंड अदालत ने दोस्त की नाबालिग बेटी से दुष्कर्म के आरोपित को 10 साल की कैद, 15 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है. एडीपीओ अमोल तोमर ने बताया 24-25 जून 2017 की दरमियानी रात करीब 12 बजे नाबालिग शौच के लिए बाहर गई थी. इसी दौरान काले कांच की गाड़ी आई. गाड़ी का कांच खुला तो उसमें आरोपित रामू उर्फ विकास दुबे 30 पुत्र राममहेश दुबे निवासी लहार रोड दुर्गा नगर थाना देहात बैठा था. रामू को नाबालिग चाचा कहती थी. इसके बावजूद रामू ने पीड़ित को जबरन कार में बैठाया और सुनसान जगह ले जाकर दुष्कर्म किया. रामू ने पीड़ित को धमकाया कि अगर किसी को बताया तो चाचा, मां-पिता की हत्या कर देगा. रामू कार में बैठाकर नाबालिग को घर लेकर आया. दरवाजे पर कार से धक्का देकर फेंक गया. इस दौरान पीड़ित की मां-चाचा खड़े थे. पीड़ित ने 26 जून 2017 को देहात थाने में जाकर आरोपित रामू दुबे के खिलाफ केस दर्ज कराया. कोर्ट ने सुनवाई के दौरान आरोपित रामू दुबे को 10 साल कैद, 15 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है.

  अभी विचार-विमर्श के स्तर पर है जम्मू-कश्मीर के लिए थिएटर कमान का फैसला : जनरल नरवाणे

Check Also

मीका सिंह की स्टाफ सौम्या ने की आत्महत्या

मुंबई. बॉलिवुड के सिंगर मीका सिंह के स्टूडियो में काम करने वाली सौम्या नाम की …