डायबिटीज हैं तो करायें रेटिनोपैथी की जांच


डायबिटीज मधुमेह से ग्रस्त लोगों में से तकरीबन आधे डायबिटीज जनित रेटिनोपैथी से भी पीड़ित होते हैं. इसलिए आंखों की देखभाल के लिए डायबिटीज जनित रेटिनोपैथी की जांच बेहद जरूरी है. डायबिटीज जनित रेटिनोपैथी स्मॉल ब्लड वैसल्स को नुकसान पहुंचने से होती है. ये ब्लड वैसल्स ही रेटिना को पोषक तत्व पहुंचाती हैं. क्षतिग्रस्त होने पर इनमें से रक्त और अन्य तरल पदार्थो का रिसाव होने लगता है, जिससे रेटिना के टिश्यूज़ में सूजन आ जाती है और नजर धुंधलाने लगती है. यह स्थिति आमतौर पर दोनों आंखों को प्रभावित करती है.

  रुपया 22 पैसे बढ़त पर खुला

अंधेपन का कारण बन सकती है

डायबिटीज जनित रेटिनोपैथी के मामले हाल के वर्षो में तेजी से बढ़े हैं. देखने में आ रही है. यदि समय पर सही कदम नहीं उठाए गए, तो स्थिति और अधिक खराब हो सकती है. डायबिटीज जनित रेटिनोपैथी को डायबिटीज पीड़ितों में अंधेपन का प्रमुख कारण माना जाता है हालांकि, यह एक ऐसी स्थिति है, जिसे ठीक किया जा सकता है और होने से रोका भी जा सकता है.

कुछ कारक जो इस स्थिति को बढ़ाते हैं, उनमें प्रमुख हैं- ग्लाइसेमिक नियंत्रण में कमी, हाई ब्लकड प्रेशर और हाई कोलेस्ट्रॉल स्तर. ज्यादातर रोगियों में, डायबिटीज जनित रेटिनोपैथी आमतौर पर एकदम से पता नहीं चल पाती, यानी इसके लक्षण हल्के होते हैं. इस कारण से, डायबिटीज पीड़ित लोग इस बात से तब तक अनजान रहते हैं, जब तक कि रोग बढ़ नहीं जाता.

  सितंबर में विनिर्माण पीएमआई साढ़े आठ साल के उच्चस्तर पर

खोया हुआ विजन बहाल नहीं हो सकता. इसलिए, यह आवश्यक है कि डायबिटीज पीड़ित व्यक्ति रेटिनोपैथी का पता लगाने के लिए नियमित रूप से जांच कराते रहें. नजर खोने और कमजोर होने से रोकने के लिए शुरू में ही ध्यान देना महत्वपूर्ण है.

लेजर सर्जरी से उपचार

आंखों की बिमारियों में डायबिटीज जनित रेटिनोपैथी भी बेहद गंभीर माना जाता है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) (डब्लूएचओ) ने इसे अपने विजन 2020 : राइट टू साइट इनीशिएटिव में इसे शामिल किया है. इसमें बीमारी बढ़ने के बाद ही इसके लक्षण दिखाई देते हैं, लेकिन कुछ सामान्य लक्षण भी हैं जैसे कि दृष्टि में धुंधलापन, आंखों के पास धब्बे, दोहरी दृष्टि और आंखों में दर्द. लेजर सर्जरी का इस्तेमाल करके इसका इलाज किया जाता है, पर डायबिटीज के प्रत्येक चरण में रेटिनोपैथी का उपचार एक अलग तरीके से किया जा सकता है.

  बाबरी मस्जिद विध्वंस के सभी आरोपी बरी

Check Also

शमी की पत्नी हसीन जहां को सुरक्षा देने के निर्देश

कोलकाता (Kolkata). कलकत्ता हाई कोर्ट ने क्रिकेटर मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां को सुरक्षा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *