Saturday , 27 February 2021

2 दर्जन से ज्यादा अफसर एसपी बनने के प्रयास में

भोपाल (Bhopal) . पीएचक्यू में बैठे अफसरों में डेढ़ दर्जन अफसर जिलों में एसपी बनने के प्रयास में हैं. आईपीएस अफसरों के तबादला आदेश जारी होने की सुगबुगाहट के चलते ये सभी अफसर जिलों में जाने के लिए अपने-अपने तरह से प्रयास कर रहे हैं. इनमें से कई अफसर ऐसे हैं जो लंबे समय तक जिलों में रहे, लेकिन अब उन्हें पुलिस (Police) मुख्यालय में एआईजी बना दिया गया है. जबकि कुछ अफसर ऐसे हैं जो अब तक एक भी जिले में कप्तानी नहीं कर सके.

  शराब नहीं मिलने पर पी लिया सेनेटाईजर, हुई मौत

ये कमांडेंट भी लंबे अरसे से बटालियन में

रघुवीर सिंह मीणा और ओपी त्रिपाठी दो साल से बटालियन में पदस्थ हैं. वहीं रुडाल्फो अलवारेज आरजे भी डेढ़ साल से बटालियन में पदस्थ हैं. ये एसपी बनने की दौड़ में शामिल माने जा रहे हैं. इनके अलावा टीके विद्यार्थी, मोहम्मद युसूफ, विनित कुमार जैन, भगत सिंह विरदे, असित यादव, नागेंद्र सिंह भी लंबे अरसे से बटालियन में पदस्थ हैं. ये सभी अफसर जिलों में कप्तानी कर चुके हैं. अब फिर से जिलों में जाने की दौड़ में शामिल माने जा रहे हैं.

  जहरीला पदार्थ खाने से महिला की मौत

ये नहीं बने अब तक एसपी

राज्य पुलिस (Police) सेवा से आईपीएस बने सुशील रंजन सिंह, विकास पाठक, श्रद्धा तिवारी, अरविंद तिवारी, विजय भागवानी, वैष्णव शर्मा भी अब तक जिलों में कप्तानी करने की राह ताक रखे हैं.

ये अफसर जिलों में कर चुके कप्तानी

पुलिस (Police) मुख्यालय में बतौर एआईजी पदस्थ ललित शाक्यवार, नवनीत भसीन, तरुण नायक, अमित सिंह, शशिकांत शुक्ला, धर्मेंद्र सिंह भदौरिया, मनोज कुमार सिंह, मनोज कुमार राय, रियाज इकबाल, दीपक कुमार शुक्ला ऐसे अफसर हैं जो कई जिलों में पुलिस (Police) कप्तानी कर चुके हैं. इनमें से शशिकांत शुक्ला को छोड़कर अधिकांश भाजपा सरकार में ही जिलों से हटे है.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *