चित्तौड़गढ़ आरटीओ आफिस में RC के लिए 11 हजार मांगे, 5 हजार पहले ले लिए, बाकी लेते पकड़ा

चित्ताैड़गढ़. एसीबी ने शुक्रवार (Friday) को आरटीओ आफिस के कंप्यूटर ऑपेरटर को एक वाहनधारी से मूल आरसी जारी करने के नाम पर 6 हजार रुपए लेते हुए गिरफ्तार किया. उसने इसी नाम से 5 हजार रुपए तो पहले फोन पे पर ही ले लिए थे.

एसीबी चित्तौडग़ढ़ के एएसपी डा. विक्रमसिंह के अनुसार परिवादी मप्र में नीमच (Neemuch)जिले के मनासा निवासी पप्पू राठौड़ ने वर्ष 2016 में जेसीबी खरीदी थी. इसका चित्तौडग़ढ़ परिवहन कार्यालय में रजिस्ट्रेशन कराकर मूल आरसी देने के लिए लाइसेंस शाखा में कार्यरत संविदा ऑपरेटर दिनेश राव ने उससे 11 हजार रुपए की रिश्वत मांगी. पप्पू ने एसीबी को शिकायत की. गत 15 सितंबर को सत्यापन के दौरान इसकी पुष्टि होने के साथ ही दिनेश ने 5 हजार रुपए तो उसी दौरान फोन पे से ले भी लिए. शेष 6 हजार रुपए लेकर आरसी सुपुर्द करने के लिए पप्पू को शुक्रवार (Friday) दोपहर बुलाया गया.

एसीबी टीम भी ट्रैप की तैयारी के साथ आई थी. रेंज डीआईजी कैलाशचंद्र विश्नोई के निर्देशन में कार्रवाई करते हुए आरोपी आसींद जिला भीलवाड़ा (Bhilwara) निवासी दिनेश राव पुत्र प्रभुलाल को रिश्वत राशि 6 हजार रुपए के साथ रंगे हाथों दबोच लिया. कार्रवाई में उपनिरीक्षक राजेश आचार्य, हेड कांस्टेबल दलपत सिंह, श्यामलाल, कांस्टेबल खालिद हुसैन, मनीष कुमार, मान सिंह, सुनील कुमार, शेर सिंह शामिल थे. करीब दो महीने पहले ही एसीबी ने चित्तौड़ डीटीओ के ठिकानों पर दबिश देकर आय से अधिक संपत्ति का प्रकरण भी दर्ज किया था.

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *